मां-बेटी घर में छाप रही थीं 500 व 2000 के नोट, चार गिरफ्तार

नकली करेंसी छापने वाले गिरोह का भंडाफोड़ मां-बेटी सहित 4 गिरफ्तार, पांच लाख की नकली करेंसी बरामद

लखनऊ। मेरठ में गंगानगर पुलिस ने थाना क्षेत्र के एक मकान में नकली नोट छापने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। इस मामले में मां-बेटी सहित कुल 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने 500 व 2000 के नकली नोट के अलावा नोट छापने वाले प्रिंटर भी बरामद किये हैं।
जानकारी के अनुसार गंगानगर के बी-ब्लॉक स्थित एक दुकान पर एक युवती 2000 का नोट लेकर पहुंची। दुकानदार ने नोट नकली लगने पर सूचना पुलिस को दी। दुकानदार के अनुसार उक्त युवती कुछ दिन पूर्व भी नकली नोट देकर गई थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने  युवती से पूछताछ की तो मामला खुल गया।

एसपी देहात केशव कुमार ने पुलिस लाइन्स में  घटना का खुलासा करते हुए बताया कि इस जगह पर पिछले काफी समय से नकली नोटों के छापने का काम चल रहा था। गैंग की मुखिया सिखेड़ा निवासी महिला है, जो गंगानगर में किराए पर रहती है। सिवाया निवासी उसकी बहन का बेटा रोबिन भी साथ में रहता है। ये सभी मिलकर नकली नोट छापने का धंधा कर रहे हैं। गैंग में शामिल ज्यादातर लोग एक दूसरे के रिश्तेदार हैं। इस गैंग में शामिल पिलखुवा, हापुड़ का सिकंदर पहले भी कई आपराधिक मामलों में जेल जा चुका है। पूछताछ में दर्जनभर लोगों के नाम सामने आए। मास्टरमाइंड केरल निवासी प्रशांत नाम का युवक बताया गया है, लेकिन वह अभी जेल में है। आरोपी 500 और 2000 के नोट छापकर उनको मेरठ और आसपास के इलाकों में सप्लाई करते थे। ये अभी तक करीब सवा लाख से ज्यादा के नकली नोट छाप चुके हैं।  कई युवतियां भी गैंग में शामिल हैं। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। पुलिस ने इस मामले में सुमन, माही, रोबिन उर्फ मुकेश व सिकंदर उर्फ सतेंद्र को गिरफ्तार किया है।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s