विकास के 46 कार्यक्रमों में यूपी के विभिन्न विभागों ने पाया देश में प्रथम स्थान: अशोक गोयल

विकास के 46 कार्यक्रमों में विभिन्न विभागों ने पाया  देश में प्रथम स्थान: अशोक गोयल
प्रदेश सरकार के चार वर्ष पूरे होने पर हुआ कार्यक्रम

बिजनौर। उ. प्र. व्यापार कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष अशोक कुमार गोयल ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में नए कीर्तिमान स्थापित करते हुए प्रदेश को विकास की चरम प्रगति पर पहुंचाया है। उन्होंने बताया कि विकास से संबंधित लगभग 46 कार्यक्रमों में वर्तमान सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा देश में प्रथम/उत्कृष्ट स्थान प्राप्त किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार के सफलतापूर्वक चार वर्ष पूरे होने पर सरकार द्वारा विभिन्न क्षेत्रों में किए रिफार्म, परफॉर्म तथा ट्रांसफॉर्म सम्बन्धी कार्यों से आमजन को अवगत कराए जाने के लिए प्रदेश के सभी जिलों में वर्तमान सरकार द्वारा स्थापित किए गए कीर्तिमानों से प्रदेश के नागरिकों को परिचित कराने के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है, जिसका शुभारम्भ मुख्यमंत्री द्वारा किया गया है।
प्रभारी मंत्री अशोक कुमार गोयल स्थानीय विकास भवन के परिसर में उत्तर प्रदेश सरकार के चार वर्ष पूरे होने के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में सूचना विभाग द्वारा प्रकाशित प्रदेश सरकार की 04 वर्ष की उपलब्धियों पर आधारित विकास पुस्तिका का विमोचन करने के बाद अपने विचार प्रस्तुत कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा केवल चार वर्षों में विकास और जनसेवा के क्षेत्र में इतने कार्य किए हैं, जो विगत सरकार के पूरे कार्यकाल में नहीं हो सके। उन्होंने कहा कि आज शहरों और गांवों में निर्धन व्यक्ति भी बिजली की उपलब्धता, गैस कनेक्शन, स्वास्थ्य लाभ, आवास सहित अन्य कल्याणकारी योजनाओं का प्रत्यक्ष रूप से लाभ प्राप्त कर रहा है। उन्होंने कहा कि उ0प्र0 सरकार सबका साथ-सबका विकास के स्लोगन के अनुसार प्रदेश के प्रत्येक नागरिक को शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाने और उन्हें विकास की मुख्य धारा से जोडऩे के लिए कटिबद्व है। सरकार द्वारा अपने चार वर्ष के शासनकाल में हर क्षेत्र में विकास कार्य किए गए हैं और पंक्ति के अंतिम व्यक्ति तक शासकीय विकास कार्यक्रमों एवं जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाने का सफल प्रयास किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में आम नागरिकों के लिए बढ़ते रोजगार के अवसर, सुदृढ़ होती कानून व्यवस्था, विद्युत आपूर्ति, सड़क सुदृढ़ीकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना सहित अनेक विकास एवं जन कल्याणकारी योजनाओं से बिना किसी भेदभाव और पक्षपात के लाभान्वित होना सत्य प्रमाणित करने के लिए पर्याप्त है। 

बिजनौर ने कई विकास योजनाओं में प्राप्त की प्रदेश में प्रथम श्रेणी: रमाकांत पाण्डेय
जिलाधिकारी रमाकांत पाण्डेय ने जिला बिजनौर में वर्तमान सरकार के चार वर्षों के दौरान विभिन्न विभागों द्वारा कराए गए विकास कार्यों की विस्तृत जानकारी देते हुए बताया कि जिला बिजनौर में विकास योजनाओं को बहुत से क्षेत्रों में प्रदेश में प्रथम श्रेणी प्राप्त हुई है और अधिकतर योजनाओं में जिला द्वितीय एवं तृतीय श्रेणी में शामिल है। उन्होंने कृषि क्षेत्र में कार्य प्रगति की जानकारी देते हुए बताया कि पारदर्शी किसान योजना के द्वारा 107528 कृषकों के खातों में 24.94 करोड रुपए की धनराशि डीबीटी के माध्यम से भेजी गयी है। कृषि ऋण माफी योजना के अन्तर्गत 89515 कृषकों की 550.63 करोड धनराशि माफ की गयी तथा प्रधानमंत्री फसल वीमा योजना के द्वारा 2544 कृषकों को लाभ दिया गया है, जबकि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के द्वारा कुल 352065 किसानों को 351.13 करोड़ रुपए देकर लाभान्वित किया गया है। उन्होंने बताया कि सड़क निर्माण कार्य से सम्बन्धित विभिन्न विभागों द्वारा विगत चार वर्षो में धनराशि रुपए  6अरब 80 करोड़ व्यय कर सड़कों तथा छोटे पुलों का निर्माण सम्पन्न किया गया तथा विभिन्न प्रकार के अवस्थापना सम्बन्धी कार्यो पर धनराशि रुपए 1अरब 78 करोड़ व्यय कर पीएचसी, कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास, बस स्टेशन, सीड स्टोर, गौशाला व अन्य निर्माण कार्य कराये गये। उन्होंने बताया कि वर्तमान में रुपए  6अरब, 31करोड़ की लागत के विभिन्न निर्माण कार्य निर्माणधीन हैं, जिनमें सबसे प्रमुख कार्य रुपए 02अरब, 45 करोड़ की लागत से राजकीय मेडिकल कालेज का निर्माण किया जाना है। 
श्री पाण्डेय ने यह भी बताया कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत 578869 कार्ड धारकों का ई-पोस मशीन के माध्यम से खाद्यान्न वितरण किया जा रहा है, जो कुल लाभार्थियों का 90 प्रतिशत है तथा उज्जवला योजना के अन्तर्गत 286436 परिवारों को नि:शुल्क गैस कनेक्शन व चूल्हा उपलब्ध कराया गया है। वृद्वावस्था पेशन योजना के अन्तर्गत 53556 लाभार्थियों को 500 रुपए  प्रति माह की दर से रुपए 83.71 करोड़ रुपए तथा सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत 3262 लाभार्थियों को 51000 रुपए की दर से 14.37 करोड़  रुपए की धनराशि उपलब्ध करायी गयी। अल्पसंख्यक जाति के 96736 छात्र/छात्राओं को रुपए  47 करोड़ एवं पिछड़ा वर्ग जाति के 90206 छात्र/छात्राओं को 28 करोड़ रुपए की छात्रवृत्ति प्रदान की गयी। कन्या सुमंगला योजना के अन्तर्गत कुल 10381 बालिकाओं को 1.90 करोड़ की धनराशि से लाभान्वित किया गया। इसके अलावा दिव्यांगजन पेशन योजना के अन्तर्गत 16616 लाभार्थियों को 500 रुपए प्रति माह की दर से 36.32 करोड़ रुपए की पेंशन वितरित की गय।

कई योजनाओं के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र, आयुष्मान कार्ड, गोल्डन कार्ड वितरित
कार्यक्रम के दौरान शासन द्वारा संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों के लाभार्थियों को मुख्य अतिथि आशोक कुमार गोयल, विधायकगणों एवं जिलाधिकारी द्वारा प्रमाण पत्र, टूल किट्स, आयुष्मान कार्ड, गोल्डन कार्ड आदि वितरित करने के साथ ही दिव्यांग कल्याण विभाग द्वारा दिव्यांगों को ट्राईसाईकिलों का वितरण भी किया गया। मुख्य अतिथि द्वारा विभिन्न विभागों द्वारा लगाए गए स्टालों का अवलोकन तथा गर्भवती महिला की गोद भराई भी की गई।
इस अवसर पर जिलाधिकारी रमाकांत पाण्डे, मुख्य विकास अधिकारी तथा अन्य अधिकारियों द्वारा उ. प्र. व्यापार कल्याण बोर्ड के उपाध्यक्ष अशोक कुमार गोयल तथा अन्य अतिथिगणों को पुष्प एवं भगवद्गीता भेंट कर स्वागत किया गया तथा अन्य जन प्रतिनिधियों को मुख्य विकास अधिकारी कामता प्रसाद सिंह तथा अन्य अधिकारियों द्वारा पुष्प प्रस्तुत कर उनका स्वागत किया। विधायक सदर श्रीमती सूचि चौधरी एवं चांदपुर श्रीमती कमलेश सैनी, भाजपा जिला अध्यक्ष सुभाष बाल्मिकी, पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह, मुख्य विकास अधिकारी केपी सिंह, अन्य विभागीय अधिकारी, जन प्रतिनिधि के अलावा विभिन्न शासकीय योजनाओं के लाभार्थी एवं स्थानीय लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s