कार्बेट टाईगर रिजर्व के जंगल में मिला बाघ का अधखाया शव

कार्बेट टाईगर रिजर्व के जंगल में मिला बाघ का अधखाया शव
बिजनौर। कार्बेट टाईगर रिजर्व के जंगल में बाघ का अधखाया शव बरामद किया गया है। घटना की जानकारी होते ही वन विभाग में हड़कप मच गया। एक सप्ताह के भीतर बाघ का शव मिलने का यह दूसरा मामला बताया जा रहा है। कार्बेट प्रशासन ने बाघ की मौत आपसी संघर्ष के दौरान होने की आशंका जताई है।
कार्बेट टाईगर रिजर्व के ढेला पर्यटन जोन की पूर्वी बीट के तहत कक्ष संख्या 10 के जंगल में गश्त के दौरान शनिवार को वनकर्मियों को लगभग 4 वर्षीय बाघ का अधखाया शव बरामद हुआ। बाघ के शरीर का पिछला हिस्सा किसी जंगली जानवर द्वारा खाया हुआ था। कार्बेट टाईगर रिजर्व के पशु चिकित्सक दुष्यंत शर्मा द्वारा पोस्टमार्टम कराया गया। इसके बाद शव को जलाकर नष्ट कर दिया गया।
बताया गया है कि 15 मार्च को कॉर्बेट टाईगर रिजर्व के ढ़ेला पर्यटन जोन के जंगल में एक अन्य बाघ का अधखाया शव बरामद हुआ था। उसका पिछला हिस्सा खाया हुआ तथा नाक व गले की हड्डी टूटी पाई गई थी। विभागीय अधिकारियों ने उसकी मौत को आपसी संघर्ष का परिणाम करार दिया था।
दोनों ही मामलों में मृत बाघों की एक जैसी स्थिति में मिलने से कॉर्बेट प्रशासन में हड़क प मच गया है। कार्बेट प्रशासन द्वारा आपसी संघर्ष अथवा किसी ताकतवर बाघ के हमले में उक्त बाघों की मौत की प्रबल संभावना जताई जा रही है। ढेला के रेंजर संदीप गिरी के मुताबिक क्षेत्र पर कब्जे को लेकर बाघों के बीच खूनी संघर्ष के दौरान किसी एक बाघ को जान से हाथ धोना पडता है। इसके अलावा दो के बीच आपसी संघर्ष अथवा किसी तीसरे बाघ द्वारा हमला करके बाघों को मौत के घाट उतारे जाने की आशंका भी व्यक्त की जा रही है। वास्तविकता का पता लगाने के लिए घटनास्थल के आसपास कैमरा ट्रैप लगा दिए गए हैं।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s