अवनि लेखारा ने भारत को दिलाया गोल्ड

अवनि लेखारा ने 10 मीटर एयर पिस्टल में देश को पहला गोल्ड मेडल दिलाया। योगेश ने डिस्कस थ्रो में सिल्वर मेडल अपने नाम कर लिया। जैवलिन थ्रो में देवेंद्र झाझरिया ने सिल्वर और सुंदर सिंह गुर्जर ने ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा कर लिया है।

टोक्यो (एजेंसियां) टोक्यो पैरालंपिक में भारत के लिए आज के दिन की शुरुआत शानदार रही। भारत के गोल्ड मेडल का खाता आज महिला निशानेबाज अवनि लेखरा ने खोला। उन्होंने 10 मीटर एयर स्टैंडिंग में रिकॉर्ड बनाते हुए देश के लिए सुनहरी जीत दर्ज की।

वहीं दूसरी तरफ टोक्यो पैरालंपिक में देवेंद्र झाझरिया और सुंदर सिंह गर्जुर ने जैवलिन थ्रो (F46 वर्ग) में बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए भारत के खाते में दो और मेडल डाल दिए हैं। देवेंद्र झाझरिया ने रजत और सुंदर सिंह ने कांस्य पदक जीता। इसी के साथ भारत ने टोक्यो पैरालंपिक में कुल 7 मेडल जीत लिए हैं। वहीं रविवार को भारत ने एक ही दिन में तीन मेडल अपनी झोली में डाले थे। आज भारत ने 4 मैडल अपने नाम कर लिए हैं। 

पैरालंपिक खेलों के इतिहास का नया रिकॉर्ड- अवनि लेखारा ने फाइनल में 249.6 पॉइंट हासिल किए, जो कि पैरालंपिक खेलों के इतिहास का नया रिकॉर्ड है। अवनि को फाइनल में चीन की निशानेबाज ने कड़ी टक्कर दी, लेकिन फिर उन्होंने अपने अचूक निशाने से उन्हें हरा दिया। चीन की महिला शूटर झांग 248.9 अंक के साथ दूसरे नंबर पर रहीं और उन्होंने सिल्वर मेडल जीता।

Devendra Jhajharia (Photo-Getty)

अवनि लेखरा जब 11 साल की थीं तभी वो एक रोड एक्सीडेंट का शिकार हो गई थी। इस एक्सीडेंट में उन्हें स्पाइनल कोर्ड इंजरी हो गई, जिसके चलते वो पैरालाइज हो गईं. राजस्थान के जयपुर से ताल्कुक रखने वाले अवनि की वर्ल्ड रैंकिंग महिलाओं के 10 मीटर एयर स्टैंडिंग निशानेबाजी के SH1 इवेंट में 5वीं है। पैरा स्पोर्ट्स में उतरने के लिए अवनि का हौसला उनके पिता ने बढ़ाया था।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s