बसपा प्रत्याशी की अपने ही गांव में हो रही छीछालेदर

बसपा प्रत्याशी इजी. बृजपाल से लोग कर रहे सवाल….

नोएडा में रहने वाले बसपा प्रत्याशी अपने गांव की नहीं लेते खबर तो क्षेत्र की क्या लेंगे? खुद उनके गांव की सड़कें बनी हुई हैं तालाब। उनके लुभावने वादों पर भरोसे के लिए तैयार नहीं है मतदाता।

बिजनौर। बहुजन समाज पार्टी ने नगीना सुरक्षित सीट पर इस बार नोएडा में रहने वाले इंजीनियर बृजपाल सिंह को प्रत्याशी बनाकर चुनाव मैदान में उतारा है। बसपा प्रत्याशी विधानसभा क्षेत्र के ही ग्राम कड़कपुर उर्फ लकड़ा के रहने वाले हैं। वह अपने गांव में कभी कभार ही आते हैं। यही कारण है कि मतदाता उन के बड़े-बड़े चुनावी वादों पर विश्वास करने के लिए तैयार होते दिखाई नहीं दे रहे हैं।

प्रत्याशी के गांव की सड़कें हुईं तालाब में तब्दील
बसपा प्रत्याशी के गांव की सड़कें तालाब में तब्दील हो चुकी हैं। क्षेत्र के लोगों का कहना है कि जिस प्रत्याशी के गांव की ये हालत है, वह पूरे क्षेत्र का विकास करा पाएगा, इसमें उन्हे संदेह है। बसपा प्रत्याशी गांव गांव जाकर लोगों से विकास के बड़े बड़े वादे कर रहे हैं, जबकि ग्रामीणों का कहना है कि चुनाव के दौरान वादों का खेल जो एक राजनेता मतदाताओं के सामने खेलता है, वही खेल बसपा प्रत्याशी अपने गांव के लोगों के साथ खेल रहे हैं। बसपा प्रत्याशी के गांव के ही कुछ लोगों का कहना है कि इंजी. साहब जब यहां से सुबह सुबह अपने काफिले के साथ बड़ी-बड़ी गाड़ियों के काफिले को लेकर निकलते हैं तो अपने ही गांव के एक छोर पर मुख्य सडक पर गुजरते समय साइड में चल रहे बच्चों, बुजर्गों, माताओं, बहनों को भी नहीं देखते और गाड़ी के टायरों से सड़क में भरे गंदे पानी को उन पर उछाल कर चले जाते हैं। इस सड़क की हालत इस कदर खराब है कि उसमें जहरीले सांप व अन्य जहरीले कीड़े पलते रहते हैं। अपने बच्चों की सुरक्षा के लिए गांव के लोग इस जहरीले कीड़ों को मारने में लगे रहते हैं। सड़क न हो मानो गंदगी का तालाब हो।

विधायक बनूंगा, तो सड़क की सोचूंगा- बसपा प्रत्याशी के जनता से किए वादों की बात करें तो शिक्षा को लेकर वह मंझे हुए राजनेता की तरह बात करते हैं। बताया जाता है कि ग्रामीणों ने बसपा प्रत्याशी से मिलकर उनके सामने एक सड़क की समस्या का प्रस्ताव रखा। लोगों ने कहा कि आप हर सभा व रैली में लाखों रुपए खर्च करते हो, क्या इस सड़क से अपनी ही गाड़ियों को निकालने के लिए ठीक नहीं करा सकते, यह सड़क बनवा दीजिए। इस पर बसपा प्रत्याशी इंजीनियर बृजपाल सिंह ने जवाब दिया कि जब मैं विधायक बन जाऊंगा, तब इस गांव सड़क के बारे में कुछ सोच लूंगा। इसी बात से नाराज हुए ग्रामीणों ने मीडियाकर्मियों को बताया कि नेता जी अपने ही गांव के लोगों की कोई खबर नहीं लेते। गांव व क्षेत्र की सड़के खराब हैं, जिनसे होकर मासूम बच्चों, छात्राओं, बुजुर्गों व महिलाओं का आना जाना लगा रहता है। बार-बार ध्यान दिलाने के बाद भी उनकी अपने गांव के विकास में कोई रुचि नहीं है। फिर भी बसपा प्रत्याशी बन कर क्षेत्र के विकास करने का दावा कर रहे हैं। ग्रामीण उनसे सवाल कर रहे हैं कि जो
व्यक्ति अपने ही गांव का विकास नहीं करा सकता, वह क्षेत्र का क्या विकास करेगा। ग्रामीणों का कहना है कि बसपा प्रत्याशी बृजपाल सिंह क्षेत्र के लोगों को विकास की बात कर सब्जबाग दिखा रहे हैं और क्षेत्र के लोगों को धोखा देने में लगे हैं। गुस्साए ग्रामीणों ने मीडिया कर्मियों को सड़क की हालत दिखाते हुए उनसे अपनी इस समस्या का समाधान कराने की मांग की।

तुम तो ठहरे परदेसी- ग्रामीणों का कहना है कि बृजपाल का एक घर तो नोएडा सेक्टर 62 में भी मौजूद है और एक हॉस्टल भी नोएडा में ही है। इंजीनियर साहब तो विधायक बनने के बाद अपने नोएडा वाले घर में शिफ्ट हो जाएंगे और गांव ज्यों का त्यों ही रह जाएगा। सभी ग्रामीण बार बार एक ही बात को दोहरा रहे हैं कि जो अपने गांव का ही विकास नहीं करवा पाये वह क्षेत्र का क्या विकास करेंगे।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s