Pearlvine International Kya Hai? | पर्ल्वाइन की जानकारी

Pearlvine International Kya Hai? | पर्ल्वाइन की जानकारी

Pearlvine international kya hai: नमस्कार दोस्तों, आज हम बताएँगे कि  pearlvine international kya hai और  Pearlvine international कैसे काम करती है? सबसे पहले, यह जान लें कि Pearlvine International कोई कंपनी नहीं है और न ही कोई Investment प्लान है।

इसका कोई CMD / MD नहीं है और न ही इसकी कोई Branch है। Pearlvine का Software System 2015 से World में लॉन्च किए हैं और यह भारत में वर्ष 2018 में सक्रिय हुआ है।

यह System पिछले 5 वर्षों से 100% Safe & Secure होने का दावा कर रही है। इसमें ज्वाइन होने वाले किसी भी सदस्य पर 0% Liability है।

PEARLVINE INTERNATIONAL एक डिजिटल ग्लोबल Robotic Software base BANK है USA का, इसके FOUNDER डॉ. डेनियल जोनशन है।

यह अमेरिका के TAXAS शहर से 2015 से चल रही है, भारत मे यह 2018 में डिजिटल इंडिया को बढ़ावा देने के लिए लाया गया है। pearlvine international kya hai.

Pearlvine International कैसे काम करती है?

यह बैंकिंग रोबोटिक सॉफ्टवेयर सिस्टम से 156 देशो में DIGITAL BANK के माध्यम से काम करती है।

जैसे- SBI का UNO ई.वॉलेट,Paytm, Google pay, Phone Pay, Whatsapp, Facebook,Google, Crowm इत्यादि काम करती है।

Pearlvine में क्या होता है?

PEARLVINE में (भारतीय बैंक की तरह ) सिर्फ एक डिजिटल खाता खोला जाता है, 30 $ डॉलर यानी ₹-2250/- रुपये से।

Pearlvine में क्यो खाता खोलना चाहिए?

PEARLVINE हमें मालिक बनने का मौका देती है साथ में अनलिमिटेड Earning का अवसर प्रदान करती है। यहां हमें इतना वेतन पैसा मिलेगा कि,आने वाली पीढ़ियां भी खत्म नहीं कर पाएगी।

Pearlvine की सिक्योरिटी तथा सर्वर की क्या गारंटी हैं?

PEARLVINE में 7 लेयर सिक्योरिटी पासवर्ड है,जो कि HACK नही किया जा सकता है।

यह दुनियां का सबसे Strong सर्वर (Cloud Flare) सर्वर (DNS,DDOS PROTECTION,SSL CERTIFICATE) से लैस है जो कि दुनियां के किसी भी कोने में ये आसानी से फ़ास्ट काम करती है।

Pearlvine में मेंबर बनने से किस प्रकार का काम करना पड़ता है?

PEARLVINE में मेंबर बनने पर डाइरेक्ट रेफरल A/C, OPEN करना पड़ता है, ठीक बैंक की तरह।

Pearlvine में काम करने पर क्या Income होता है?

PEARLVINE में काम करने पर यहां 8 प्रकार INCOME होता है :–

1. Ref. Income 50%.

2. टीम Bonus 1.25 $.

3. Upgradation Income 50%.

4. Global Autopool Income हमारे सोच से भी जायदा।

5. Royality Income 1st Rank से ही वो भी हर सप्ताह ।

6. Shopping portal आने वाला।

7. Bonanza Autopool Income.

8. Bonanza Team perf. Income. आदि।

 Pearlvine में मेंबर बन कर किसी कारणवश काम नही करने पर क्या इनकम होगा?

जी हां, PEARLVINE में आपके मेंबर बनने पर स्वतः आपके नीचे सॉफ्टवेयर लोगो को जॉइन करती है, पूरे वर्ल्ड से यहां से आपको 8 क़िस्त में 8 बार क़िस्त देती है,

कुल 43,856 डॉलर,जो कि INDIAN INR में ₹-32,89,230/- रुपया होता है।
इसे PASSIVE INCOME कहते हैं।

Pearlvine के डॉलर को भारतीय बैंक में ट्रांसफर करने का क्या नियम है?

PEARLVINE के डॉलर को भारतीय बैंक में ट्रांसफर करने से पहले आपको PEARLVINE के खाते में KYC करना होगा,साथ मे 10% टैक्स देना होगा।

PEARLVINE में दो कंडीशन क्या है?

पहला कंडीशन – आज से 8 साल के बीच 4 ग्लोबल A/C OPEN करना होगा।

दूसरा कंडीशन :- अपने लेबल या पोस्ट को प्रमोशन करके आगे बढ़ना होगा।

Pearlvine किस आधार पर 8 क़िस्त में PAYMENT करती है?

PEARLVINE हमे FOUR के मैट्रिक्स प्रणाली के आधार पर स्वतः 4/16/64/256/1024/4,096/16,384/65,536
A/C खोलती है और सबसे कुछ रकम हमे 8 क़िस्त के रूप में देती है।

सबसे महत्वपूर्ण Pearlvine को कहां से Income होता है?

1. ADD.(विज्ञापन) से,

2. USER के द्वारा DATA उपयोग करने से,

3. USER के A/C को UPGRADE करने से,

4. SOCIAL MEDIA के माद्यम से,

5. E.COMMERCE के माद्यम से,

6. NEWS CHANNEL के माद्यम से हमरे सोच से भी ज्यादा,INCOME जाता है।

Pearlvine अगर India से भाग गई तो…?

बिल्कुल सही सवाल- ये कभी नही भागेगी,क्योकि ये कोई कंपनी नहीं एक सॉफ्टवेयर है।

कारण- (1) ये MEMBER के पैसे को 100% बंटवारा कर देती है, DONATION और REWARD के माद्यम से।

30 $ डॉलर का बंटवारा :-

1- ₹ -1125/-रुपया,यानी 15 डॉलर ,डाइरेक्ट स्पॉन्सर को,
2- ₹-750/- रुपया,10 डॉलर (1.25 $× 8) स्पॉन्सर को,
3- ₹-375/- रुपया, यानी 5 डॉलर, SYSTEM GLOBAL AUTOPOOL में।

₹-2250/-रुपया=30 डॉलर।
100%/100% बंटवारा हो जाता है।

कारण- (2) :- PEARLVINE BLOCK CHAIN TECNOLOGY के आधार पर कार्य करती है।

कारण- (3) :- PEARLVINE Decentralized System है, यानी PEARLVINE के मालिक रहते हुए मालिक के हाथ मे कुछ नही रहना,यहाँ Member ही खुद का मालिक होता है।

कारण- (4) :-यह CROWD FUNDING के माद्यम से काम करती है, यानी USER के द्वारा ₹2250/-रुपया दान देने पर USER के बीच ही पैसा बाँट देती है।
यानी नए USER से पैसा लेकर पुराने USER के बीच बाँट देती है।

पहले आओ ,पहले पाओ के आधार पर।

इसलिए दोस्तो आप निश्चिंत होकर काम करे,यह कभी नही भाग सकती है।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s