न बन सका काबिल CRPF अफसर, कुख्यात हो गया आदित्य राणा!

लखनऊ। पश्चिम उत्तर प्रदेश के जनपद बिजनौर के कुख्यात बदमाश आदित्य राणा की कस्टडी से फरारी के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मचा हुआ है। पश्चिम उत्तर प्रदेश के कई थानों में आदित्य के खिलाफ संगीन धाराओं में ढाई दर्जन केस दर्ज है। बिजनौर एसपी दिनेश के अनुसार आरोपी की फरारी के बाद पुलिस सतर्कता बरत रही है। संवेदनशील इलाकों में पुलिस की नाकेबंदी कर दी गई है। इसके साथ ही उसके केस में वादी और गवाहों की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है। फरार बदमाश आदित्य राणा जल्द पुलिस के कब्जे में होगा।

CRPF में जाकर करता देश की सेवा- बिजनौर के गांव राणा नंगला निवासी आदित्य पुत्र राजपाल का नाम पहली बार 2013 में गांव कासमाबाद में हुई धर्मवीर की हत्या में आया था। उसका सीआरपीएफ में चयन हो गया था, लेकिन हत्या में नाम आने के कारण वह ट्रेनिंग पर नहीं जा पाया।

बिजनौर में पुलिस सतर्क, बढ़ाई चौकसी 
आदित्य के फरार होने के बाद बिजनौर पुलिस सतर्क हो गई है। जिले के बॉर्डर पर निगाह रखने के साथ-साथ छह टीमों को उसकी तलाश में लगाया गया है। आदित्य के फरार होने की सूचना मिलते ही बिजनौर में अलर्ट कर दिया गया। एसपी दिनेश सिंह ने सभी थाना प्रभारियों को निर्देश जारी किए हैं। डायल 112 की गाड़ियों को भी जेड मिशन पर रखा गया है। आदित्य के गांव राणा नंगला के आसपास भी पुलिस की गतिविधियां बढ़ा दी गई हैं।

कस्टडी से पहले भी हो चुका था फरार
कुख्यात आदित्य पुलिस की कस्टडी से पहले भी फरार हो चुका है। अगस्त 2017 में पेशी के दौरान मुरादाबाद पुलिस की कस्टडी से भी फरार हो गया था। फरार होने के बाद उसने अपने गांव के ही मुकेश की 14 अक्तूबर को मुखबिरी के शक में हत्या कर दी थी। पुलिस सूत्रों की मानें तो आदित्य पुलिस की घेराबंदी से चार बार फायरिंग कर फरार हो चुका है।

“आदित्य राणा का लंबा आपराधिक इतिहास है। इसका लूट और हत्या करने का गैंग है, जो रजिस्टर्ड है। आदित्य के फरार होने के बाद पुलिस सतर्क है। उन लोगों की सुरक्षा बढ़ा दी गई है, जो आदित्य के खिलाफ दर्ज कराए गए केस में वादी या गवाह हैं। शाहजहांपुर पुलिस के साथ तालमेल कर उसे गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैैं। छह टीमों को लगाया गया है” – दिनेश सिंह, एसपी बिजनौर

चप्पे चप्पे पर पुलिस तैनात- राणा के फरार होने के बाद बिजनौर पुलिस बेहद सतर्क हो गई है। एसओजी व सर्विलांस सहित छह पुलिस टीमों को उसकी खोज में लगाया गया है। पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने सभी थाना प्रभारियों को अलर्ट किया है। आदित्य राणा के गांव स्थित घर पर भी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। उसके गांव राणा नंगला को पुलिस ने छावनी में तबदील कर दिया है। आदित्य के गैंग में 20 से अधिक बदमाश बताए जा रहे हैं।

बोले SO स्योहारा- स्योहारा थानाध्यक्ष राजीव चौधरी ने बताया कि दो परिवारों की रंजिश का मामला है। दो मर्डर हो चुके हैं। कानून व्यवस्था और परिवार की सुरक्षा के मद्देनजर गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया गया है।

पांच हत्या, लूट, डकैती, रंगदारी के मुकदमे- अपराध की दुनिया में आदित्य राणा का सफर वर्ष 2013 में एक हत्या के साथ ही शुरू हो गया था। उसके खिलाफ जनपद बिजनौर के थाना स्योहारा में 12, धामपुर में 01, नहटौर में 03, हीमपुर दीपा में 01, शेरकोट में 01, चांदपुर में 01 व सिविल लाइंस मुरादाबाद में 02 मुकदमे दर्ज हैं। अन्य जानकारियां जुटाई जा रही हैं।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s