तारीख पर तारीख को लेकर भिड़े दो पक्ष

एसडीएम कोर्ट में भिड़ते दो पक्ष

बिजनौर। पंचायत चुनाव में कथित तौर पर फर्जी वोट डलवा कर जीतने वाले पक्ष के खिलाफ एसडीएम बिजनौर कोर्ट में पिटिशन डालने वाले पक्ष और विपक्ष के पैरोकारों में तारीखों को लेकर भिड़ंत हो गई। जमकर बवाल हुआ, हाथापाई तक की नौबत आ गई। मामला सुर्खियों में बना हुआ है।

जानकारी के अनुसार पंचायत चुनाव में पराजित प्रत्याशी की ओर से विजयी प्रत्याशी के खिलाफ फर्जी वोट डलवाने की शिकायत एसडीएम बिजनौर कोर्ट में डाली गई थी। मंगलवार को दोनों पक्ष के पैरोकार एसडीएम बिजनौर कोर्ट पहुंचे।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार पराजित पक्ष चाहता था कि तारीख जल्दी की मिले, जबकि दूसरा पक्ष देरी की चाहता था। बस इसी को लेकर दोनों पक्ष भिड़ गए। कोर्ट के अंदर ही तीखी बहस और नोंकझोंक हो गई।

आखिर क्या है मामला? ग्राम पंचायत चुनाव में ग्राम कंभौर में आकेंद्र पाल सिंह की पत्नी शोभना और पूर्व प्रधान ओमवीर सिंह की पत्नी रेनू भाग्य आजमाने को उतरी थीं। चुनाव परिणाम आया तो रेनू ने शोभना को 18 वोट से पराजित कर दिया। आकेंद्र पाल सिंह का कहना है कि उनकी पत्नी शोभना को फर्जी वोट डलवा कर हराया गया है। उन्होंने आरोप लगाया कि जीतने वाले पक्ष ओमवीर सिंह ने लगभग आधा सैकड़ा फर्जी वोटर बनवा कर चुनाव में धांधली की। फर्जी वोटर ग्राम खासपुरा, गंगौड़ा, बिजनौर शहर के मोहल्ला जाटान, कांशीराम कालोनी आदि में रहते हैं और उनके वहां भी वोट हैं। अर्थात उक्त लोग दो जगहों पर वोटर हैं। जुलाई में पराजित पक्ष शोभना की तरफ से एसडीएम बिजनौर कोर्ट में पिटिशन डाली गई। तब से लगातार कई तारीखें लग चुकी हैं।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s