कर्ज से छुटकारा और अवैध संबंध बरकरार रखने के लिए बेकसूर को जलाया था जिंदा

कर्ज से छुटकारा और अवैध संबंध बरकरार रखने के लिए बेकसूर मदन को कार में जलाया था जिंदा

करोड़ों के कर्ज की अदायगी से बचने और तलाकशुदा प्रेमिका संग नया जीवन बिताने को क्रेशर मालिक सुशील गुप्ता ने रची साजिश। बेकसूर मर जाता तो सुशील के परिजनों को मिल जाती ढाई करोड़ रुपए बीमे की रकम।

साथी और महिला समेत पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिजनौर। कर्ज से छुटकारा और अवैध संबंध बरकरार रखने की चाहत में गन्ना क्रेशर मालिक ने खुद को मरा हुआ दिखाने के लिए शराबी को जलाकर मारने का प्रयास किया। गाड़ी के अंदर झुलसी हुई हालत में मिला व्यक्ति सफदरगंज अस्पताल दिल्ली में भर्ती है। पुलिस ने साजिश रचने वाले व्यापारी को उसके दोस्त और महिला समेत गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने गुरुवार को पुलिस लाइंस में खुलासा किया कि दिनांक 30 नवंबर 2022 को थाना कोतवाली शहर पर सूचना प्राप्त हुई कि सिरधनी रोड पर एक सैन्ट्रो कार नं0 DL3CAP8988 में एक जिंदा व्यक्ति जल रहा है। सूचना पर उ0नि0 राजेन्द्र सिंह मय टीम मौके पर पहुंचे तथा झुलसे हुए व्यक्ति को कार से बाहर निकालकर जिला चिकित्सालय, बिजनौर में भर्ती कराया गया। जांच में उसकी शिनाख्त मदन सिंह पुत्र सरदार सिंह निवासी ग्राम मिर्जापुर बेकन थाना चांदपुर जिला बिजनौर के रूप में हुई तथा परिजनों को उसकी सूचना दी गयी। घायल अभी उपचाराधीन है। तहरीर के आधार पर थाना कोतवाली शहर पर मु0अ0सं0 884/22 धारा 364/326-A भादवि पंजीकृत किया गया।

इस बीच जांच में पता चला कि उक्त गाड़ी गन्ना क्रेशर के स्वामी सुशील गुप्ता पुत्र उमेश चंद्र गुप्ता निवासी गांव मुस्तफाबाद की है।। गाड़ी में सुशील गुप्ता के दो फोन भी पड़े हुए मिले। पुलिस ने पड़ताल की तो मामला गहरी साजिश का निकला। एसपी ने बताया कि सुशील गुप्ता ने खुद को मरा हुआ दिखाने के लिए मदन सिंह को जलाकर मारने का प्रयास किया। सुशील गुप्ता ने करीब ढाई करोड रुपए के कर्ज और अवैध संबंधों के चलते यह साजिश रची।
सुशील गुप्ता ने ढाई करोड़ रुपए का बीमा भी कराया था जिससे उसकी मौत की खबर के बाद बीमा की राशि उसके परिवार वालों को मिल जाए। साथ ही नई पहचान के साथ जीने की चाह में सुशील गुप्ता ने पप्पू खान के नाम से अपना नया आधार कार्ड भी बनवा लिया और तलाकशुदा रानी पत्नी राशिद निवासी ज्वालापुर हरिद्वार के साथ निकाह भी कर लिया।

उक्त संदिग्ध घटना के अनावरण/संलिप्त अभियुक्तगण की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु स्वाट/सर्विलांस टीम व थाना कोतवाली नगर पुलिस को निर्देशित किया गया। इसी क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक, (नगर) व क्षेत्राधिकारी, (नगर) के निकट पर्यवेक्षण में दिनांक 30.11.2022/01.12.2022 की अर्द्धरात्रि में मुखबिर की सूचना पर बेगावाला रोड पर सेंट जोसफ स्कूल के पास पुलिया के पास घेराबन्दी कर घटना में प्रकाश में आये तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

अभियुक्त सुशील गुप्ता ने पूछताछ में बताया कि रानी पिछले काफी समय से उसके गन्ना क्रेशर पर काम करती थी, इसी दौरान उसका रानी के साथ प्रेम-प्रसंग हो गया और वह उसके साथ रहने लगी थी। रानी का अपने पति राशिद से तलाक हो चुका था। करीब दो साल से उसका काम ठीक-ठाक नहीं चल रहा था इसी कारण उसे कारोबार में घाटा होने लगा तथा उसने करीब पौने दो करोड़ रुपए का कर्ज बैंकों से ले लिया। उसने व उसके साथी लाल बहादुर सैनी उर्फ पिन्टू व रानी ने आपस में सलाह मशवरा किया कि बैकों का कर्जा कैसे उतारा जाये और उसका व रानी का प्रेम प्रसंग भी बना रहे। कर्ज से छुटकारा पाने के लिये तीनों ने बैंक को धोखा देने की योजना बनाई। सुशील ने अपना व रानी का फर्जी आधार कार्ड बनवा लिया। इन्ही फर्जी आधार कार्डों का असल के रूप में प्रयोग करते हुए तीनों ने योजना बनाई कि अगर किसी व्यक्ति को अपनी जगह रखकर मार दें तो सुशील गुप्ता मरा हुआ घोषित हो जायेगा तथा उसके बीमे का सारा पैसा उसके परिवार को मिल जायेगा।

योजनाबद्ध तरीके से दिनांक 29 नवंबर 2022 को सुशील अपनी सेन्ट्रो कार नं0 DL3CAP8988 व उसका साथी पिन्टू अपनी स्कूटी नं0 UKO7DL0683 से रोडवेज बस स्टेड चाँदपुर पर आये। वहां पुराना/परिचित मदन सिंह निवासी मिर्जापुर बकैना नशे की हालत में मिला। उन्होंने मदन को और शराब पिलाई तथा नशे की हालत में उसे अपनी गाड़ी में डाल लिया। वह अपनी सैन्ट्रो गाड़ी से मदन सिंह को लेकर तथा पिंटू अपनी स्कूटी से पीछे-पीछे चाँदपुर चुंगी से सिरधनी रोड पर आ गए। गाड़ी को सड़क के किनारे खड़ी करके मदन को ड्राईवर सीट पर बैठाकर अपने मोबाइल फोन कार में ही छोड़ दिये और सीट बैल्ट लगा दी जिससे कि वो गाड़ी से निकल न सके। इसके बाद मदन सिंह पर तेल छिड़ककर आग लगा दी व खिड़की बन्द करके गाड़ी स्टार्ट छोड़कर दोनों स्कूटी से फरार हो गए।

गिरफ्तार अभिoगण का नाम व पता:-

1. सुशील गुप्ता पुत्र उमेशचन्द्र गुप्ता निवासी ग्राम मुस्तफाबाद थाना शिवालाकलां जनपद बिजनौर

2. लाल बहादुर सैनी पुत्र तेजपाल सैनी निवासी ग्राम मलैशिया थाना शिवालाकलां जनपद बिजनौर

3. रानी पत्नी राशिद निवासी पावदोई बाबर कालोनी, ज्वालापुर हरिद्वार (उत्तराखण्ड)

बरामदगी का विवरण:-

01 सैन्ट्रो कार, 01 स्कूटी, 35 चैक, 13 लाख 50 हजार रुपए, 01 पिस्टल 32 बोर व 05 जिन्दा कारतूस, तीन जोड़ी पीली धातु के कानों के बुन्दे, एक पीली धातु का मंगलसूत्र, 07 आधार कार्ड, 03 एटीएम कार्ड, 02 पैन कार्ड, 02 निकाहनामा, वोटर आई०डी० कार्ड, रजिस्टर आदि

Published by Sanjay Saxena

क्राइम रिपोर्टर बिजनौर/इंचार्ज तहसील धामपुर दैनिक जागरण। महामंत्री श्रमजीवी पत्रकार यूनियन। अध्यक्ष आल मीडिया & जर्नलिस्ट एसोसिएशन बिजनौर।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: