विद्युत उपभोक्ताओं से अभद्रता, धमकी!

ऑनलाइन बिलिंग प्रणाली के तकनीकी उच्चीकरण के बहाने उपभोक्ताओं को किया परेशान!

उच्चाधिकारियों से शिकायत करने पर कोई भी कार्य न करने की चेतावनी

बिजनौर। पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड अंतर्गत शहरी क्षेत्र की ऑनलाइन बिलिंग प्रणाली के तकनीकी उच्चीकरण की योजना की आड़ में कर्मियों ने उपभोक्ताओं को खासा परेशान किया। उनसे अभद्र व्यवहार किया, धमकाया और उच्चाधिकारियों से शिकायत करने पर कोई भी कार्य न करने की चेतावनी भी दी।

बिलिंग काउंटर बंद कर बाहर खड़े कर्मचारी। (फोटो में दिख रही धूप खुद बता रही है कि दोपहर है, शाम नहीं)

दरअसल प्रदेश के मेरठ समेत 14 जिलों में 6 फरवरी दोपहर 12 बजे तक ऑनलाइन बिलिंग प्रणाली का उच्चीकरण किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन लखनऊ द्वारा यह कार्य 31 जनवरी की शाम 6 बजे से शुरू होना था। आम उपभोक्ताओं को तो ये बात पता नहीं थी, लेकिन विद्युत विभाग के कर्मचारियों की तो जैसे पौ बारह हो गई। कई कर्मचारियों ने ड्यूटी का मोर्चा छोड़कर इधर उधर मटरगस्ती शुरू कर दी। यही कारण रहा कि मंगलवार को दिन में बिल जमा करने अथवा अन्य कार्य के लिए विद्युत वितरण कार्यालय पहुंचे उपभोक्ताओं को काउंटर बंद मिले। पता करने पर उन्हें छह दिन तक कोई भी काम न होने की बात बताई गई। कुछ उपभोक्ताओं को शाम से काम बंद होने की जानकारी थी तो उन्होंने इस बाबत पूछताछ की। इस पर कई कर्मचारी हत्थे से उखड़ गए और अभद्रता पर उतारू हो गए। त्रस्त उपभोक्ताओं राजेश ठाकुर, विनय कुमार, अशोक वर्मा, राजकुमार आदि का कहना है कि विभाग में काम करने में हीलाहवाली के अलावा रिश्वतखोरी आम बात हो गई है। अब उन्होंने विद्युत विभाग के भ्रष्ट और बदतमीज कर्मचारियों की शिकायत उच्चाधिकारियों एवं ऊर्जा मंत्री से करने की ठानी है।

बताया गया है कि यूपी के 14 जिलों सहारनपुर, बिजनौर, मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर, मेरठ, मुरादाबाद, बागपत, रामपुर, ज्योतिबा फूले नगर, संभल, शामली, गाजियाबाद, हापुड़ और गौतमबुद्ध नगर में उत्तर प्रदेश पावर कार्पोरेशन लखनऊ से पश्चिमाचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड अंतर्गत शहरी क्षेत्र की ऑनलाइन बिलिंग प्रणाली का तकनीकी उच्चीकरण किया जा रहा है। इसके चलते 31 जनवरी की शाम छह बजे से बिलिंग प्रणाली बंद कर दी गई है, जो छह फरवरी की दोपहर 12 बजे के बाद खुलेगी।
शहरी क्षेत्र की ऑनलाइन बिलिंग प्रणाली का तकनीकी उच्चीकरण के समय बिल बनाने, विभागीय काउंटर पर बिल जमा करने, बिल संशोधन करने, नाम परिवर्तन करने, विधा परिवर्तन करने, भार वृद्धि करने, ऑनलाइन बिल जमा करने के कार्य ठप रहेंगे। इस अवधि में स्मार्ट मीटर उपभोक्ताओं का बिल जमा करने एवं उसके पश्चात ऑटोमैटिक री- कनेक्शन कार्य भी प्रभावित रहेगा। छह दिन तक कटे कनेक्शन जुड़ने का काम भी नहीं होगा।

वहीं एक्सियन एके सिंह ने कर्मचारियों द्वारा उपभोक्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार की जानकारी से इंकार किया। उन्होंने कहा कि मामले में शिकायत मिलती तो अग्रिम कार्रवाई करते। फिर भी उन्होंने विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों को उपभोक्ताओं से विनम्र व्यवहार करने की हिदायत देने की बात कही है।

Published by Sanjay Saxena

पूर्व क्राइम रिपोर्टर बिजनौर/इंचार्ज तहसील धामपुर दैनिक जागरण। महामंत्री श्रमजीवी पत्रकार यूनियन। अध्यक्ष आल मीडिया & जर्नलिस्ट एसोसिएशन बिजनौर।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: