कोविड-19 बूस्टर डोज अभियान का शुभारंभ

भाजपा विधायक ने किया कोविड-19 बूस्टर डोज अभियान का शुभारंभ

बिजनौर। आजादी का अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत कोविड-19 कि बूस्टर डोज लगवाने का शुभारंभ जिला अस्पताल में हो गया। साथ ही विकास भवन बिजनौर में युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल विभाग द्वारा जनपद स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ भी हुआ।

संगठन के निर्देश अनुसार विधानसभा क्षेत्र 22 बिजनौर के अंतर्गत कार्यक्रम का उद्घाटन सदर विधायक श्रीमती सूची चौधरी द्वारा किया गया। उसके पश्चात विकास भवन बिजनौर में आयोजित युवा कल्याण एवं प्रादेशिक विकास दल विभाग द्वारा जनपद स्तरीय सांस्कृतिक कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ भी सदर विधायक ने किया।

इस अवसर पर विभागीय अधिकारी डॉक्टर एवं जिला उपाध्यक्ष पूनम गोयल, नगर अध्यक्ष संजीव गुप्ता, मंडल अध्यक्ष ललित कुमार, जिला मीडिया प्रभारी दीपक गर्ग मोनू, किसान मोर्चा जिला मंत्री राहुल चौधरी, नगर मंत्री मनदीप चौधरी, पूर्व मंडल अध्यक्ष मनोज कुमार, अंकुर गौतम, अनूप चौधरी, अभिनय, जितेंद्र राजपूत, श्रवण कुमार, राजीव राजपूत, हिमांशु, राजवीर एडवोकेट आदि अनेक भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे

सभी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर 7 अगस्त को लगेगा मेगा डोज कैंप

सभी कोविड टीकाकरण केंद्रों पर लगेगा मेगा डोज कैंप

18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को लगाई जाएगी प्री-कॉशन डोज

बिजनौर। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत 15 जुलाई से 75 दिनों के लिए 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को सतर्कता डोज नि:शुल्क लगाई जा रही है। इसी क्रम में 7 अगस्त को टीकाकरण केंद्रों पर मेगा डोज कैंप लगाया जा रहा है।


जिला प्रतिरक्षण अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि सात अगस्त को शासन की ओर से प्रदेश के सभी जनपदों में प्रिकॉशन डोज मेगा कैंप आयोजित करने का निर्णय लिया गया है। इस निर्देश के अनुपालन में जिला अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं चिन्हित हैल्थ एंड वेलनेस सेंटर प्रिकॉशन डोज मेगा कैंप लगाया जाएगा। इसके लिए इंटीग्रेटेड कोविड कमांड सेंटर के माध्यम से फोन कॉल, निगरानी समिति, फ्रंट लाइन वर्कर, आशा एवं आंगनबाड़ी कार्यकत्री की ओर से फॉलोअप करते हुए सभी लक्षित लाभार्थियों को मेगा कैंप में आकर प्रिकॉशन डोज लगवाने के लिए प्रेरित किया जाएगा।
जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने कहा कि जनपद में अभी तक 106759 लोगों को प्रिकॉशन डोज लगाई जा चुकी है। सात अगस्त को मेगा डोज कैंप के लिए अधिक संख्या में सत्र लगाए जाएंगे। जो भी लोग प्रिकॉशन डोज लगवाना चाहते हैं वह ऑनलाइन बुकिंग या सीधे आकर भी प्रिकॉशन डोज लगवा सकते हैं। अपने साथ आधार कार्ड लेकर जरूर आएं।

फर्जीवाड़े से हासिल करेंगे कोविड वैक्सीनेशन का लक्ष्य!

कोविड वैक्सीनेशन का लक्ष्य पूरा करने के लिए फर्जीवाड़ा
जिन्हें लगी है पहली ही डोज, उन्हें दूसरी डोज लगी दिखाकर जारी किया प्रमाण पत्र



बिजनौर। कोविड वैक्सिनेशन का लक्ष्य पूरा करने के लिए स्वास्थ्य विभाग जमकर फर्जीवाड़ा कर रहा है! जिन लोगों ने कोविड 19 वैक्सीन की केवल एक ही डोज लगवाई है, उनको दोनों डोज लगवाने का सर्टिफिकेट जारी किया जा रहा है।

केंद्र सरकार के कोविड-19 वैक्सीनेशन के फुल्ली वैक्सीनेटेड अभियान के अंतर्गत स्वास्थ्य विभाग द्वारा नागरिकों को कोविड-19 वैक्सीन की दोनों डोज लगाने का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों व सरकारी अस्पतालों में ही नहीं बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों व शिक्षण संस्थाओं में भी अभियान चलाकर कोविड-19 वैक्सीन की डोज लगाई जा रही है। नगीना के मोहल्ला पहाड़ी दरवाजा निवासी युवती राबिया खानम ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी किए गए कोविड-19 वैक्सिनेशन के फुल्ली वैक्सिनेटेड सर्टिफिकेट को दिखाते हुए बताया कि उन्होंने कोविड-19 वैक्सीनेशन की पहली डोज 24 जून 2021 को लगवाई थी लेकिन दूसरी डोज आज तक भी नहीं लगवाई है, लेकिन स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी कोविड-19 वैक्सिनेशन के फुल्ली वैक्सिनेटेड सर्टिफिकेट में उनको दूसरी डोज 22 जनवरी 2022 को लगाना दिखाया गया है और फुल्ली वैक्सीनेटेड का सर्टिफिकेट जारी कर दिया गया है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नगीना की जया वर्मा द्वारा राबिया खानम को कोविड 19 वैक्सीन की दोनों डोज लगाने वाले स्वास्थ्य कर्मी के रूप में अंकित किया गया है। अब बड़ा सवाल यही है कि जब राबिया खानम को कोविड 19 का फुल्ली वैक्सिनेटेड का सर्टिफिकेट जारी कर दिया गया है तो वह अब दूसरी डोज कैसे लगवाएंगी? राबिया खानम अब कोविड वेक्सीन की दूसरी डोज लगवाने से वंचित रह जाएंगी।

वहीं हिंदू इंटर कॉलेज नगीना में कक्षा 12 के छात्र अनिकेत कुमार द्वारा भी कोविड 19 वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने का सर्टिफिकेट प्रस्तुत किया है। 19 वर्ष के अनिकेत कुमार को पहली डोज 26 जुलाई 2021 को तथा दूसरी डोज 8 नवंबर 2021 को लगाई गई है। अनिकेत को जारी कोविड 19 के फुल्ली वैक्सिनेटेड सर्टिफिकेट में पीएचसी कोतवाली की स्वास्थ्य कर्मी संगीता द्वारा अनिकेत को डोज लगाने वाली स्वास्थ्य कर्मी का नाम अंकित है। इस संबंध में कोरोना कंट्रोल रूम बिजनौर में तैनात प्रमोद कुमार से उनके मोबाइल पर संपर्क नहीं हो स्का।

मार्च में मिल जायेगा ओमिक्रॉन के खात्मे के हथियार

न्यूयॉर्क (एजेंसी)। कोविड-19 का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन दुनियाभर के तमाम देशों में तेजी से पांव पसार रहा है। खतरे को देखते हुए कई देशों में वैक्सीन की बूस्टर डोज दी जा रही है। ओमिक्रॉन के संक्रमण को रोकने के मकसद से तैयार की जा रही वैक्सीन को लेकर भी काम चल रहा है। दिग्गज फार्मा कंपनी फाइजर को उम्मीद है कि ओमिक्रॉन वैरिएंट को टारगेट करने वाली कोविड-19 वैक्सीन मार्च में तैयार हो जाएगी। कंपनी के प्रमुख ने यह जानकारी दी।

फाइजर के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अलबर्ट बौर्ला ने सीएनबीसी को बताया कि सरकारों की ओर से भारी मांग के चलते फाइजर पहले से ही वैक्सीन की खुराकों का निर्माण कर रही है क्योंकि कोविड-19 संक्रमण के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इसमें ऐसे लोगों की संख्या भी काफी है जो वैक्सीनेटेड होने के बावजूद ओमिक्रॉन के शिकार हुए। बौर्ला ने कहा, “यह वैक्सीन मार्च में तैयार हो जाएगी। मुझे नहीं पता कि हमें इसकी आवश्यकता होगी या नहीं। मुझे नहीं पता कि इसका उपयोग कैसे किया जाएगा।”

भारत का कुल टीकाकरण कवरेज 149.57 करोड़ के पार पहुंचा

कोविड-19 टीकाकरण अपडेट – 356वां दिन

गुरुवार शाम 7 बजे तक लगाई गईं 85 लाख से अधिक वैक्सीन की खुराक।

नई दिल्ली (PIB)। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार  भारत का कोविड-19 टीकाकरण कवरेज गुरुवार शाम 149.57 करोड़ के पार (1,49,57,01,483) पहुंच गया। शाम 7 बजे तक टीके की 85 लाख से ज्यादा  (85,32,595) खुराक लगाई गईं। देर रात तक दिन की   अंतिम रिपोर्ट तैयार होने के साथ दैनिक टीकाकरण का  आंकड़ा और बढ़ने की उम्मीद है। गौरतलब है कि देश में कोविड टीकाकरण का 356वां दिन था।

आरसी फाउंडेशन ने लगवाया वैक्सीनेशन कैंप

लखनऊ। कोरोना की रोकथाम को लेकर लड़ी जा रही लड़ाई लगातार जारी है। इसी कड़ी में राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद क्षेत्र के अंतर्गत ग्राम पंचायत कसमंडी खुर्द स्थित ग्राम अमानीगंज में आरसी फाउंडेशन संस्था द्वारा वैक्सीनेशन कैंप लगाया गया।

इस मौके पर आरसी फाउंडेशन के संचालक शिव कुमार यादव रिटायर्ड एएसपी एवं डॉ. भानवेंद्र प्रताप सिंह यादव एसोसिएट प्रोफेसर मौजुद रहे।

साथ ही पूर्व ब्लाक प्रमुख काकोरी एवं पूर्व प्रत्याशी 168 मलिहाबाद विधानसभा श्रीमती राजबाला रावत, पार्षद मोनू कनौजिया, ब्लॉक अध्यक्ष मलिहाबाद युवजन सभा, दीपक यादव, अर्जुन कुमार, रामू गुप्ता, संतोष यादव, शशीकांत व संस्था के अन्य सभी सदस्यों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।

वैक्सीनेशन कैंप में मुख्य रूप से डॉ. शिव मोहन पांडेय एवं एएनएम अंशु रावत उपस्थित रहीं। कैंप में लगभग 400 लोगों को वैक्सीन लगाई गई।

माँ भारती विकास संस्थान उत्तर प्रदेश ने लगाया विशाल कोविड-19 निःशुल्क वैक्सीनेशन कैंप


लखनऊ। राजाजीपुरम बुद्धेश्वर चौराहा निकट भमरौली शाहपुर प्राथमिक विद्यालय कन्हैया माधवपुर वार्ड नियर रिंग रोड लालाबाग लखनऊ क्षेत्र में माँ भारती विकास संस्थान उत्तर प्रदेश के तत्वाधान में विशाल कोविड-19 निःशुल्क वैक्सीनेशन कैंप का आयोजन किया गया।
संस्था के संरक्षक पार्षद शिवपाल सांवरिया ने शिविर का आयोजन कराया। संस्था के अध्यक्ष आनंद राव एवं सहयोगी सत्येंद्र राजपूत (राणा) के नेतृत्व में लगभग 500 लोगों का वैक्सीनेशन किया गया।


वैक्सीनेशन शिविर का शुभारंभ पार्षद शिवपाल सांवरिया ने किया। संस्था अध्यक्ष आनंद राव एवं सत्येंद्र राजपूत की गरिमामयी उपस्थिति में हुआ शिविर का आयोजन हुआ।
पार्षद शिवपाल सांवरिया की ओर से लगातार पश्चिम विधानसभा में कैंपों का आयोजन किया जा रहा है, जिससे क्षेत्र के सभी लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन लग सके।
शिविर में अधिकतर लोगों को वैक्सीन की प्रथम डोज लगाने के साथ ही दूसरी डोज भी लगायी गई।
कैम्प को सफल बनाने में प्रमुख रूप से मां भारती विकास संस्थान प्रदेश अध्यक्ष आनंद राव, प्रदेश महामंत्री गोकुल यादव, प्रदेश उपाध्यक्ष संतोष कुमार द्विवेदी, प्रदेश संगठन मंत्री शिव किशोर द्विवेदी, प्रदेश कोषाध्यक्ष सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी, प्रदेश संयुक्त मंत्री सुनील गुप्ता, प्रदेश उपाध्यक्ष शक्ति सिंह सिसौदिया, प्रदेश मीडिया प्रभारी पंकज प्रजापति, कार्यकारिणी सदस्य डॉ. आर एस पाल, गनेश सिंह, सत्येन्द्र राजपूत (राणा), नगर अध्यक्ष धीरपाल यादव, नगर महामंत्री रमेश कनौजिया, नगर सचिव राज नारायण पाल आदि दर्जनों लोगों का सहयोग रहा।

सूबे की आवाज संवाददाता
नरेंद्र कुमार गौतम
माँ भारती विकास संस्थान

एक दिन में रिकॉर्ड 600 से अधिक लोगों को कोवैक्सीन

लखनऊ। ग्राम पंचायत काकराबाद में एक दिन में रिकॉर्ड 600 से अधिक लोगों को कोवैक्सीन लगाई गई। नवनिर्वाचित प्रधान की पहल पर स्वास्थ्य विभाग के अफसरों ने ग्राम पंचायत भवन में कैंप लगवाकर गांव के लोगों का टीकाकरण किया। बीती रात 9 बजे भी लोग एकत्र थे।

ग्राम प्रधान गरिमा सिंह ने बताया, कि इस समय कोरोना महामारी का प्रकोप कम नहीं हो रहा। गांवों में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैल रहा है।लॉकडाउन के चलते टीकाकरण केंद्रों पर कोविड वैक्सीन के लिए कम ही लोग पहुंचते हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए गांव काकराबाद में अपनी पंचायत में टीकाकरण कराने के लिए स्वास्थ्य अफसरों से संपर्क साधकर कैंप लगवाया।

सीएमओ डॉ. नीरज भार्गव, डॉक्टर सचिन एवं गांव की एएनएम संतोष पांडे की मदद से सोमवार को गांव काकराबाद में ग्राम पंचायत भवन में कैंप लगवाकर टीकाकरण कराया गया। एक दिन में 600 से अधिक लोगों का टीकाकरण किया गया। कैंप में ग्रामवासी , विश्वजीत सिंह, सौरभ सैनी, गजेंद्र सिंह, रामबिलास कश्यप, राजू राठौर, जितेंद्र साहू, अमित सैनी, विनोद सिंह, मनोज सैनी, शंकरदयाल आदि का सहयोग रहा।

राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 टीके की उपलब्‍धता

राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 64.36 करोड़ से अधिक टीके प्रदान किये गए। राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के पास अभी भी 5.42 करोड़ से अधिक शेष व अप्रयुक्त टीके उपलब्ध हैं, जबकि 15 लाख टीके अभी भेजे जाने के लिए पाइपलाइन में हैं।

नई दिल्ली (PIB)। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा बताया गया है कि केंद्र सरकार देशभर में कोविड-19 टीकाकरण का दायरा विस्तृत करने और लोगों को टीके लगाने की गति को तेज करने के लिये प्रतिबद्ध है। कोविड-19 के टीकों को सभी के लिए उपलब्ध कराने के लिए नया चरण 21 जून 2021 से शुरू किया गया था। टीकाकरण अभियान की रफ्तार को अधिक से अधिक टीके की उपलब्धता के जरिये बढ़ाया गया है। इसके तहत राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को वैक्सीन की उपलब्धता के बारे में पूर्व सूचना प्रदान की जाती है, ताकि वे बेहतर योजना के साथ टीके लगाने का बंदोबस्त कर सकें और टीके की आपूर्ति श्रृंखला को दुरुस्त किया जा सके।

देशव्यापी टीकाकरण अभियान के हिस्से के रूप में केंद्र सरकार राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क कोविड वैक्सीन प्रदान करके उन्हें पूर्ण सहयोग दे रही है। टीकों की सर्व-उपलब्धता के नये चरण में, केंद्र सरकार वैक्सीन निर्माताओं से 75 प्रतिशत टीके खरीदकर राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को नि:शुल्क प्रदान करेगी।

वैक्सीन की खुराकें (31 अगस्त, 2021 तक)

अब तक हुई आपूर्ति 64,36,13,160

भेजे जाने को तैयार टीके 14,94,040

शेष वैक्सीन 5,42,30,546

केंद्र सरकार द्वारा अब तक निःशुल्क और अन्य माध्यमों से वैक्सीन की 64.36 करोड़ से अधिक (64,36,13,160) खुराकें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को उपलब्ध कराई गई हैं। इसके अलावा 15लाख (14,94,040) टीके भेजे जाने की तैयारी है। अभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के पास कोविड-19 टीके की 5.42करोड़ से अधिक (5,42,30,546) अतिरिक्त और बिना इस्तेमाल हुई खुराकें उपलब्‍ध है, जिन्हें लगाया जाना है।

Release, Ministry of Health and Family Welfare

हिमाचल में एक दिन में 37 बच्चे कोरोना की चपेट में

‘तीसरी लहर’ की शुरुआत! हिमाचल में एक दिन में 37 बच्चे कोरोना की चपेट में

Possible 3rd wave of Covid unlikely to affect children, reveals WHO-AIIMS  survey | Latest News India - Hindustan Times

शिमला। हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के मामलों में बढ़ोतरी के साथ बच्चों में संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। ऐसे में प्रदेश में तीसरी लहर की संभावना जताई जा रही है। बीते तीन दिन में सूबे में 700 से ज्यादा केस हुए हैं। मंडी जिले में सबसे अधिक एक्टिव केस हैं। शुक्रवार को प्रदेश में 256 कोरोना केस रिपोर्ट हुए हैं, जबकि दो मरीजों की मौत हुई। प्रदेश में 37 बच्चों के कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इसमें मंडी जिले के 10, कांगड़ा आठ, शिमला के रोहड़ू में 10, बिलासपुर में पांच, हमीरपुर में तीन, ऊना और चंबा में दो-दो बच्चों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। कोरोना अब डेढ़ से लेकर 18 साल तक के बच्चों को अपनी गिरफ्त में ले रहा है।

प्रतिदिन सौ मरीज की बढ़ोतरी- हिमाचल प्रदेश के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज और अस्पताल आईजीएमसी शिमला के एमएस डॉक्टर जनक राज ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में गत दो सप्ताह में कोरोना के एक्टिव मरीज़ों की संख्या 23 जुलाई को 829 से बढ़कर 06 अगस्त को 1727 तक जा पहुंची है। इसके आकलन से पता चलता है कि प्रतिदिन मरीज़ों की संख्या में 100 से अधिक की बढ़ोतरी हो रही है। इसका मतलब है कि तीसरी लहर की शुरुआत हो चुकी है!

कोरोना संक्रमण के मामले– चंबा 68, मंडी 60, शिमला 52, कांगड़ा 43, हमीरपुर 24, बिलासपुर 18, लाहौल-स्पीति 10, ऊना आठ, जबकि कुल्लू व सोलन में पांच-पांच और किन्नौर में चार नए मामले आए हैं। कांगड़ा और मंडी में एक-एक संक्रमित महिला की मौत हुई है। बीते 24 घंटों के दौरान प्रदेश में 137 मरीज ठीक हुए हैं। प्रदेश में कोरोना संक्रमितों का कुल आंकड़ा 207344 पहुंच गया है। इनमें से 202060 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय मामले 1727 हो गए हैं। अब तक 3517 संक्रमितों की मौत हुई है। बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना की जांच के लिए 13940 सैंपल लिए गए।

स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि आकड़ों के अनुसार राज्य में लगभग 55 लाख 23 हजार पात्र लोग है, जिनका कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण किया जाना है। निर्धारित लक्ष्य के दृष्टिगत राज्य में अब तक 38,90,475 लोगों को केाविड-19 वैक्सीन की पहली खुराक लगाई जा चुकी है। राज्य में 13,10,577 लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की दूसरी खुराक भी दी गई है। अब तक कुल 52,01,052 डोज कोविड-19 वैक्सीन की लगाई जा चुकी है। वहीं, अब टूरिस्ट के लिए हिमाचल में एंट्री से पहले कोविड नेगेटिव रिपोर्ट लानी होगी, या फिर उन्हें वैक्सीनेशन के दोनों डोज लगे होने चाहिए।

ताजपुर में कोरोना वैक्सीन लगवाने को दिखा लोगों में जोश

राजा का ताजपुर में कोरोना वैक्सीन लगवाने को दिखा लोगों में जोश। सुबह से ही लग गई लंबी लंबी कतारें।

बिजनौर। कोरोना वायरस को देखते हुए सरकार ने सभी गांव कस्बों में कोविड-19 वैक्सीन के कैंप लगाने के निर्देश दिए हैं। इसी क्रम में ताजपुर के पुराना सरकारी अस्पताल, अतिरिक्त प्राथमिक अस्पताल, धर्मशाला प्रथम प्राइमरी स्कूल, गौरी शंकर गुरुद्वारा, सैनी धर्मशाला आदि जगहों पर कैंप लगाकर आम जनता के वैक्सीन लगाए गए। वैक्सीन लगवाने वालों की सुबह से ही लंबी कतार लगी रही। वैक्सीन लगवाने के लिए महिलाएं, युवक, युवतियों, छात्र छात्राओं में जोश दिखाई दिया। वह सुबह से ही लाइन में लगे हुए वैक्सीन लगवाने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। ताजपुर में लगभग एक हजार से ज्यादा लोगों ने वैक्सीन लगवाई। ग्राम प्रधान फरहाना परवीन, उनके पति सपा नेता हाजी शमशाद अहमद फरीदी ने अलग-अलग कैम्पों का निरीक्षण किया। बाहर से आई टीम के लिए ग्राम प्रधान पति ने अपनी तरफ से खाने पीने की व्यवस्था करवाई।

गौरतलब है कि ग्राम प्रधान फरहाना परवीन, उनके पति सपा नेता हाजी शमशाद अहमद फरीदी लगातार आम जनता से कोविड-19 वैक्सीन लगवाने के लिए डोर टू डोर जाकर लोगों को प्रेरित करते हुए नजर आये। उन्होंने बताया कि वैक्सीन लगवाने से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है।  इसलिए सभी लोग वैक्सीन जरूर लगवाएं। देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार जनता से वैक्सीन लगवाने के लिए सभी धर्मों के लोगों से सहयोग की अपील कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बीमारी से बचने के लिए वैक्सीन लगवाना बहुत जरूरी है, तभी इससे लड़ा जा सकता है। डॉक्टरों की टीम का सहयोग करने वालों में ग्राम प्रधान फरहाना परवीन, सपा नेता हाजी शमशाद अहमद, समाजसेवी सुलेमान फरीदी, मास्टर सलीम अहमद आदि मौजूद थे।

वेक्सिनेशन के लिए जागरूकता अभियान

श्री सुदर्शन एकेडमी अटारी के प्रबंधक आशुतोष पाण्डेय व राहुल मिश्रा के द्वारा जागरूक कर माल प्राथमिक केन्द्र पर कराया गया वेक्सिनेशन।

लखनऊ। माल प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र माल पर श्री सुदर्शन एकेडमी के प्रबंधक आशुतोष पाण्डेय व राहुल मिश्रा ने तमाम युवावों को जागरूक कर वेक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित किया। माल प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर ले जाकर वेक्सीन लगवाया पहले अगुवाई करते हुए आशुतोष पाण्डेय और राहुल मिश्रा ने वेक्सीन की प्रथम डोज लगवाया। बाद में वहाँ पर मौजूद करीब 30 लोगों ने वेक्सीन लगवाया। युवा साथी सुमित पाण्डेय, भारत भूषण मौर्या, पंकज गुप्ता, दीपक मिश्रा, राजेश मिश्रा, शानू आदि कई लोगों ने टीकाकरण करवाया। सभी ने लोगों से यह अपील की कि कोविड वेक्सीन की दोनों डोज लगवाएं। आशुतोष पाण्डेय ने बताया कि यह जागरूकता अभियान अपने क्षेत्र में निरंतर चलता रहेगा और हम सब युवा गाँव गाँव जाकर कोविड वेक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित करते रहेंगे।

“हारेगा कोरोना जीतेगा इंडिया”-चौधरी ईशम सिंह

बिजनौर। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता चौधरी ईशम सिंह ने कहा कि ‘हारेगा कोरोना जीतेगा इंडिया’ भारत सरकार की कोरोना वैक्सीन लाभदायक है। उन्होंने आज कोतवाली देहात के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में अपने परिवार सहित कोरोना वैक्सीन की प्रथम डोज लगवाई। उसके उपरांत उन्होंने बताया कि इससे कोई भी परेशानी नहीं है। यह हमारे शरीर के लिए लाभदायक है।

किसी भी भ्रान्ति में न आकर हम सबको अपनी बारी आने पर कोरोना की वैक्सीन लगवानी चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति को वैक्सीन लगने के बाद कोरोना हारेगा और इंडिया जीतेगा। चौधरी ईशम सिंह ने सभी मित्रों, सगे संबंधियों, क्षेत्र के सम्मानित नागरिकों से अपील की है कि कोरोना वायरस से बचने के लिए अपना वैक्सीनेशन अवश्य कराएं। वैक्सीनेशन करा कर ही हम इस कोरोना महामारी को मात दे सकते हैं। उन्होंने वैक्सीनेशन के विषय में फैल रही अफवाहों पर बिल्कुल भी ध्यान न देने की अपील की। इस अवसर पर सनोज देवी चेयर पर्सन किसान सहकारी समिति लिमिटेड एवं अभय प्रताप सिंह ने भी कोरोना वैक्सीन की प्रथम रोज लगवाई।

लाला भोजाराम नेत्र चिकित्सालय में भी हुआ वैक्सीनेशन

बिजनौर। सरकार की ओर से 18 से 44 वर्ष के नागरिकों को भी कोरोनारोधी वैक्सीन लगवाए जाने के लिए शुरु किए गए अभियान के तहत नजीबाबाद के लाला भोजाराम राजकीय नेत्र चिकित्सालय में भी टीकाकरण शिविर लगाया गया।

उपजिलाधिकारी परमानंद झा और तहसीलदार राधेश्याम शर्मा के निर्देशन में लाला भोजाराम राजकीय नेत्र चिकित्सालय में 18 वर्ष से अधिक के लोगों को कोरोना रोधी वैक्सीन का टीका लगाया गया। इस अवसर पर लगाए गए टीकाकरण शिविर का उद्घाटन सबसे पहले टीकाकरण कराने पहुंची इंजीनियर रिचा भारती पत्नी संचित मित्तल ने फीता काटकर किया। नगर के साहू जैन डिग्री कालेज के प्राचार्य डा. एके मित्तल के पुत्र संचित मित्तल अमेजन कंपनी तथा पुत्र वधू रिचा भारती फ्लिपकार्ट कंपनी में बंगलौर में सेवारत हैं। कोरोनाकाल के दौरान दोनों ही घर पर रहकर कार्य कर रहे हैं। 18 वर्ष से 44 वर्ष आयु वाले नागरिकों के टीकाकरण को नगर में लाला भोजाराम राजकीय नेत्र चिकित्सालय तथा 12 वर्ष से कम आयु के बच्चों के अभिभावकों को वैक्सीन लगाए जाने के लिए राजकीय इंटर कालेज में टीकाकरण केन्द्र बनाए गए। नागरिकों को लगाने के लिए दोनों केन्द्रों पर सौ-सौ वैक्सीन स्वास्थ्य विभाग की ओर से उपलब्ध करायी गयी थी। लाला भोजाराम राजकीय नेत्र चिकित्सालय पर 90 लोगों को वैक्सीन लगायी गयी। राजकीय इंटर कालेज पर 40 लोगों को वैक्सीन लगायी गयी। जबकि  45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों को वैक्सीनेशन किए जाने को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र समीपुर तथा लाला भोजाराम राजकीय नेत्र चिकित्सालय पर चार केन्द्र बनाए गए हैं। वहां भी कोरोनारोधी वैक्सीन का टीका लगाया गया।

लाला भोजाराम राजकीय नेत्र चिकित्सालय पर टीकाकरण के ब्लाक मैनेजर नृपेंद्र कुमार और एएनएम रिंकी की उपस्थिति में 18 वर्ष से अधिक आयु के पहले दिन पंजीकृत 100 लोगों में युवाओं सहित 90 ने वैक्सीनेशन कराया। उधर राजकीय इंटर कॉलेज वैक्सीनेशन केंद्र पर 12 वर्ष आयु से कम बच्चों के मात्र 30 अभिभावकों ने वैक्सीनेशन कराया। कई अभिभावक बच्चों के वैक्सीनेशन पंजीकरण से सम्बन्धित आधार कार्ड के बिना वैक्सीनेशन के लिए पहुंचे। जिससे एएनएम अंजू यादव और अभिभावकों को असुविधा का सामना करना पड़ा। उपजिलाधिकारी परमानंद झा ने नगर क्षेत्र में आयोजित विशेष पंजीकरण शिविर के साथ 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों के लिए पीएचसी और ग्रामीण क्षेत्रों में आयोजित शिविर का निरीक्षण किया। 45 वर्ष से अधिक आयु के लोगों में वैक्सीनेशन के प्रति रूचि जागृत करने के लिए प्रशासन जागरुकता और विशेष टीकाकरण अभियान चला रहा है।