रालोद शहर अध्यक्ष ने बांटे गरीबों को कंबल

बिजनौर। …कहते हैं कि नर सेवा ही नारायण सेवा। कुछ इसी तर्ज पर राष्ट्रीय लोक दल के शहर अध्यक्ष यादराम सिंह चंदेल चल पड़े हैं। सर्दियों के मौसम को देखते हुए उन्होंने अपने आवास पर गरीबों को कंबल वितरित किए।

कड़ाके की सर्दी ने जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया है। गरीबों, बेसहारा लोगों के लिए एक ओर जहां प्रशासनिक स्तर से विभिन्न स्थानों पर अलाव जलवाने की व्यवस्था की जा रही है। वहीं रैन बसेरों के जरिए उनके विश्राम का भी खासा खयाल रखा जा रहा है।

ऐसे में विभिन्न राजनैतिक दलों व सामाजिक संगठनों का भी कर्तव्य बनता है कि समाज हित में कुछ करें। इसी क्रम में वरिष्ठ समाजसेवी एवं राष्ट्रीय लोक दल के शहर अध्यक्ष यादराम सिंह चंदेल ने अपने आवास पर गरीबों को कंबल वितरित किए। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि सामाजिक हित के कार्य करने से उन्हें आत्मसंतुष्टि मिलती है। वह कभी भी गरीबों की सेवा करने से पीछे नहीं हटे और न ही हटेंगे। कंबल प्राप्त करने के बाद लाभान्वित लोगों ने उन्हें भरपूर आशीर्वाद दिया।

सर्दियों में क्या न खाएं डायबिटीज के मरीज…

नई दिल्ली (शैली सक्सेना)। भारत में डायबिटीज के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। इसमें ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखना जरूरी होता है। इसलिए शुगर के मरीजों को अपने खानपान का खास ख्याल रखने की जरूरत होती है। खासकर सर्दियों के मौसम में शुगर के मरीजों को अपना ज्यादातर ख्याल रखने की जरूरत होती है। सर्दियों में लोग ड्राई फ्रूट्स का सेवन ज्यादा करते हैं। कुछ ड्राई फ्रूट्स आपके ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकते हैं। इसलिए थोड़ी सी सतर्कता बरतने से काफी परेशानियों से बच जा सकता है। जानिए किस चीज से आपको बचने की जरूरत है….

किशमिश- किशमिश में ग्लूकोज काफी मात्रा में पाया जाता है, जिस कारण इसके सेवन से शरीर में ग्लूकोज की मात्रा काफी ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को किशमिश का सेवन नहीं करना चाहिए।

खजूर- खजूर या फिर छुआरा में भी शुगर की मात्रा काफी ज्यादा पाई जाती है। इससे ब्लड शुगर लेवल बढ़ने का खतरा रहता है। इसलिए डायबिटीज के मरीज खजूर या छुआरा का सेवन करने से बचें।

आलू- मधुमेह के रोगियों को आलू का सेवन भी बहुत कम मात्रा में करना चाहिए. ज्यादा आलू खाना शुगर पेशेंट्स के लिए नुकसानदायक हो सकता है. आलू में हाई कार्बोहाइड्रेट होता है साथ ही इसमें ग्लाइसेमिक इंडेक्स की मात्रा भी बहुत होती है. आलू खाने से ब्लड शुगर बढ़ने का खतरा रहता है

व्हाइट ब्रेड- व्हाइट ब्रेड भी डायबिटीज के मरीजों के लिए नुकसानदेह हो सकती है। ऐसे में इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को व्हाइट ब्रेड बिल्कुल नहीं खानी चाहिए।

चीकू- डायबिटीज के पेशेंट को फलों में चीकू खाने से भी परहेज करना चाहिए। चीकू खाने में बेहद मीठा होता है और इसका ग्लाइसेमिक इंडेक्स भी काफी ज्यादा बढ़ा हुआ होता है। इसलिए शुगर के मरीजों को चीकू खाने से बचना चाहिए।

चोरी की घटनाओं पर प्रभावी अंकुश को स्योहारा पुलिस की रात्रि गश्त


चोरी की घटनाओं पर प्रभावी अंकुश को स्योहारा पुलिस की रात्रि गश्त
एसपी के निर्देश अपराधियों में रहे खौफ तो जनता में पुलिस के प्रति विश्वास का भाव
बिजनौर। रात्रि के समय चोरी की संभावित घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाने के उद्देश्य से थानाध्यक्ष स्योहारा की टीम सजग है। थानाध्यक्ष के नेतृत्व में पूरी टीम रात भर क्षेत्र की गलियों में गश्त कर रही है।

पुलिस अधीक्षक डा. धर्मवीर सिंह द्वारा अपराधियों के विरुद्ध अभियान चला कर धरपकड़ के निर्देश दिये गए हैं। फिलहाल के सर्द मौसम और इस कारण होने वाले कोहरे का लाभ उठा कर चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया जाता है। एसपी का जोर है कि यदि पुलिस गश्त अनवरत होती रहेगी तो चोरों और अपराधियों में पुलिस का खौफ बरकरार रहेगा। वहीं आम जनमानस में पुलिस के प्रति विश्वास कायम रहने के साथ ही और अधिक मजबूत होगा।

इसी क्रम में स्योहारा थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार गौड़ के नेतृत्व में विगत रात्रि ढ़ाई बजे से साढ़े चार बजे तक थाने के स्टाफ ने मोटरसाइकिल से गश्त किया। इस दौरान एसएसआई देवेंद्र सिंह, कस्बा इंचार्ज दिनेश कुमार, एसआई सलीम, एसआई ओंकार सिंह, एसआई नरेंद्र कुमार, एसआई हरेंद्र सिंह, एसआई अजीत सिंह व अन्य स्टाफ ने चोरी की घटनाओं को रोकने के लिए मोटरसाइकिल से गश्त किया। पुलिस ने गांव और गली-गली जाकर लोगों को जागरूक किया। इससे पहले पुलिस ने फ्लैग मार्च भी किया।

उत्तर भारत में फिलहाल ठंड से राहत नहीं

नई दिल्ली। उत्तर भारत के अधिकतर राज्यों में ठंड से फिलहाल राहत मिलने के आसार नहीं हैं। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) के अनुसार नए पश्चिमी विक्षोभ की वजह से मौसम बदल रहा है। दिल्ली-एनसीआर में सुबह के समय कोहरे की धुंध है। पंजाब-हरियाणा, राजस्थान, बिहार, ओडिशा, बंगाल, मध्यप्रदेश में घना कोहरा छाया हुआ है। दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, राजस्थान सहित भारत के कुछ राज्यों में अगले दो-तीन दिनों में शीतलहर की वजह से ठंड बढ़ने का अनुमान है। यहां घना कोहरा रहने की भी संभावना है। राजधानी दिल्ली में शीतलहर से मामूली राहत मिल सकती है लेकिन सुबह के समय कोहरा छाया रह सकता है।

राजमार्ग-3 ब्लॉक होने से बढ़ेंगी मुश्किलें- हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति में भारी बर्फबारी देखी गई। इस कारण लाहौल-स्पीति जिले के सिस्सू में राष्ट्रीय राजमार्ग-3 ब्लॉक हो गया है। इससे पहले शनिवार को क्षेत्र में शीत लहर का कहर देखने को मिला था। मौसम विभाग ने रविवार को भारी बर्फबारी होने की चेतावनी दी थी। बर्फबारी और रास्ते ब्लॉक होने से लोगों की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ सकती हैं।

दिल्ली में फिर सर्दी बढ़ने के आसार- दिल्ली में आज सुबह न्यूनतम तापमान 9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। कुछ जगहों पर सुबह के समय विजिबिलिटी 100 मीटर दर्ज की गई। दिल्ली में पश्चिम व उत्तर-पश्चिम से चलने वाली हवाओं के कारण ठिठुरन बढ़ने और तापमान के चार डिग्री सेल्सियस तक पहुंचने का अनुमान है। विभाग ने अपने पूर्वानुमान में कहा कि अगले चार से पांच दिन तक पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तरी राजस्थान, असम, मेघालय, मणिपुर और त्रिपुरा में घना कोहरा छाया रहेगा। अगले दो-तीन दिनों में बिहार, उत्तरी मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और ओडिशा में घना कोहरा छाए रहने का भी अनुमान है।

तहरी भोज के साथ चौकी इंचार्ज ने बांटे चौकीदारों को कम्बल

चौकी इन्चार्ज कुलदीप सिंह ने किया तहरी भोज का आयोजन, चौकीदारो को बांटे कम्बल
लखनऊ। राजधानी में ठिठुरती ठंड से राहत पहुंचाने के मद्देनजर गरीबों को कंबल वितरण का सिलसिला लगातार जारी है। इसी क्रम में रविवार को मलिहाबाद थाना क्षेत्र की कसमण्डी कलां पुलिस चौकी पर तहरी भोज कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर चौकी क्षेत्र अन्तर्गत आने वाले विभिन्न गांवों के 13 चौकीदारों को कम्बल प्रदान किये गये। तहरी भोज में हर वर्ग के तमाम लोग शामिल हुए।
चौकी इन्चार्ज कुलदीप सिंह ने बताया कि पुलिस के साथ हर समय कन्धे से कन्धा मिलाकर चलने वाले चौकीदारों को ठण्ड से बचाने के लिए उन्हें कम्बल प्रदान किये गये हैं। साथ ही क्षेत्र के अच्छे और सामाजिक लोगों से बेहतर तालमेल बनाने के लिये समरसता तहरी भोज का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में कांस्टेबल सीताराम, इमरान, अमित, विभिन्न गांवों के ग्राम प्रधान व क्षेत्रीय ग्रामीण मौजूद रहे।

भीषण सर्दी की चपेट में समूचा उत्तर भारत

भीषण सर्दी से ठिठुरे समूचे उत्तर भारत के बाशिंदे
कोहरे ने लगाए वाहनों की रफ्तार पर ब्रेक

चंडीगढ़ (धारा न्यूज): उत्तर भारत भीषण सर्दी की चपेट में आ गया है। पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर में सुबह से ही कोहरा छा गया। कोहरे के कारण परिवहन सेवाओं पर भी असर पड़ा। उत्तर भारत में तापमान में तीन से पांच डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने के साथ तीन जनवरी से राहत मिलने की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। चार से छह जनवरी के बीच पश्चिमी हिमालय क्षेत्र में बारिश या बर्फबारी का अनुमान है।

दिल्ली में टूटा 15 साल पुराना रिकॉर्ड:
मौसम विभाग ने कहा कि हिमालय के पश्चिमी क्षेत्र में कुछ जगहों पर ओले पड़ने की भी आशंका है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में अगले 24 घंटे के दौरान यही स्थिति रहेगी। दिल्ली में शीत लहर के प्रकोप के बीच न्यूनतम तापमान 15 साल में सबसे कम 1.1 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। बेहद घने कोहरे के कारण दृश्यता शून्य हो गई। दिल्ली के सफदरजंग वेधशाला में न्यूनतम तापमान 1.1 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जोकि 15 साल में सबसे कम तापमान है। आज सुबह दिल्ली-एनसीआर में बारिश हुई और पंजाब के कुछ हिस्सों में भी हल्की बूंदाबादी की सूचना है। बारिश से कोहरा छंट गया लेकिन आसमान में बादल छा गए।

हिमाचल प्रदेश में फिर से बारिश और बर्फबारी: हिमाचल प्रदेश में एक बार फिर से बारिश और बर्फबारी (Snowfall) का दौर शुरू हुआ है। लाहौल में बर्फबारी व शिमला, मंडी, समेत तमाम इलाकों में शनिवार सुबह हल्की बूंदाबादी हुई। हिमाचल में शीतलहर (Coldwave) चरम पर है। मौसम विभाग ने अगले चार दिन तक प्रदेश में बारिश और बर्फबारी (Snowfall) का अनुमान जताया है। बीते रविवार को हिमाचल में शिमला शहर सहित प्रदेश भर में बर्फबारी देखने को मिली थी, जबकि बीते पांच दिन से प्रदेश में धूप खिली हुई थी, लेकिन एक बार फिर से अब मौसम का मिजाज बिगड़ गया है।