चेकिंग को पहुंची विद्युत विभाग की टीम पर जानलेवा हमला, कई ऑफिसर घायल


चेकिंग को पहुंची विद्युत विभाग की टीम पर जानलेवा हमलाचांदपुर रोड स्थित ग्राम खरकपुर में बिजली चोरी की जांच का मामला। अधिशासी अभियंता, एसडीओ सेकेंड व जेई के साथ जमकर मारपीट। अधिशासी अभियंता गंभीर रूप से घायल। डीएम एसपी ने जिला अस्पताल पहुंच कर जाना घायलों का हालचाल। मुख्य आरोपी गिरफ्तार।


बिजनौर। चांदपुर रोड स्थित ग्राम खरकपुर में बिजली चोरी की शिकायत पर चेकिंग करने पहुंची विद्युत विभाग की टीम पर ग्रामीणों ने जानलेवा हमला कर दिया। हमलावरों ने अधिशासी अभियंता, एसडीओ सेकेंड व जेई के साथ जमकर मारपीट की। घटना में सिर पर फावड़े की चोट लगने से अधिशासी अभियंता गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की तहरीर थाना शहर कोतवाली पुलिस को दी गई है। वहीं बताया गया है कि मामले के मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

जानकारी के अनुसार बिजली चोरी की शिकायत पर चेकिंग करने के लिए विद्युत विभाग की टीम शनिवार सुबह चांदपुर रोड स्थित ग्राम खरकपुर में पहुंची। टीम का नेतृत्व अधिशासी अभियंता अनिल कुमार पांडे कर रहे थे, जबकि एसडीओ सेकेंड व जेई आदि साथ में शामिल थे। आरोप है कि चेकिंग से नाराज लाठी डंडे आदि से लैस ग्रामीणों ने टीम को घेर कर जमकर मारपीट शुरू कर दी। इस दौरान हमलावरों ने अधिशासी अभियंता अनिल कुमार पांडे के सिर पर फावड़ा मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। वहीं एसडीओ सेकेंड व जेई भी घायल हो गए। सभी घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अधिशासी अभियंता की हालत गंभीर बताई गई है।

घटना की सूचना पर जिलाधिकारी उमेश मिश्रा व पुलिस अधीक्षक डॉ0 धर्मवीर सिंह जिला अस्पताल पहुंचकर विद्युत विभाग के घायल अधिकारी, कर्मचारियों का हाल-चाल जाना। उन्होंने चिकित्सकों को बेहतर उपचार हेतु निर्देशित किया। (अग्रिम सूचनाओं की प्रतीक्षा है)

विद्युत उपकेंद्र पर किया विशाल भंडारे का आयोजन

उपकेंद्र पर कार्यरत कर्मियों ने विशाल भंडारे का किया आयोजन

लखनऊ। मंगलवार को जहां पूरे प्रदेश में धूमधाम के साथ हनुमत पूजन किया गया वहीं राजधानी लखनऊ में भी जगह जगह भंडारे आयोजित किए गए। इसी क्रम में 33/11 केवी उपकेन्द्र कल्याणपुर लखनऊ में जेठ माह के अंतिम बड़े मंगलवार को विधि विधान के साथ पूजन कर विशाल भंडारे का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर क्षेत्र के हजारों भक्तों ने प्रसाद ग्रहण किया।कार्यक्रम को सफल बनाने में अवर अभियंता कुंवर विक्रम सिंह, टीजी 2 अजय मिश्रा, अरविंद वर्मा, संजय वर्मा, अनुज श्रीवास्तव, कमलेश कुमार सहित उपकेंद्र के दर्जनों अधिकारियों कर्मचारियों ने सहयोग किया।

एकमुश्त समाधान योजना में अब अनिवार्य नहीं रजिस्ट्रेशन

एकमुश्त समाधान योजना: अब रजिस्ट्रेशन अनिवार्य नहीं

बिजनौर। बिजली विभाग की एकमुश्त समाधान योजना अंतर्गत इस बार विद्युत उपभोक्ताओं को अपने बिलों के समाधान के लिए पंजीकरण नहीं कराना पड़ेगा। इस पर सरकार की ओर से बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी सुविधा उपलब्ध कराई गई है।

बिजनौर विद्युत वितरण खंड प्रथम के अधिशासी अभियंता एके पांडे ने जानकारी देते हुए बताया कि शासन की ओर से अक्सर विद्युत उपभोक्ताओं को एकमुश्त समाधान योजना का लाभ उठाने का अवसर दिया जाता रहा है। सरकार इस योजना के तहत अब तक बिजली उपभोक्ताओं को लाभ उठाने के लिए रजिस्ट्रेशन कराना होता था, लेकिन इस बार सरकार ने योजना का लाभ उठाने वाले उपभोक्ताओं को रजिस्ट्रेशन नहीं कराने की छूट दी है। कोई भी उपभोक्ता सीधे तौर पर इस योजना के तहत अपने विद्युत बिल का एकमुश्त समाधान करा सकता है। अधिशासी अभियंता ने बताया कि उनके विभाग में 47449 उपभोक्ता हैं जिनमें घरेलू व्यवसाय व ट्यूबवेल के उपभोक्ता शामिल हैं इन उपभोक्ताओं पर 4118.44 लाख रुपए की बक़या है। एक मुश्त समाधान योजना के अंतर्गत उपभोक्ताओं क़ो 1074. 30 लाख रुपए का लाभ होना है। सरकार की इस कल्याणकारी योजना का लाभ उपभोक्ता एक जून से 30 जून तक प्राप्त कर सकते हैं।

विद्युत पोल में करंट आने से आवारा कुत्ते की मौत, हंगामा

विद्युत पोल में करंट आने से आवारा कुत्ते की मौत, हंगामा। कई बार लिखित व मौखिक शिकायत के बावजूद भी कुम्भकर्णी नींद से नहीं जागा विद्युत विभाग।

नूरपुर (बिजनौर)। मोहल्ला शहीदनगर में एक विद्युत खंबे पर दौड रहे करंट की चपेट में आने से आवारा कुत्ते की मौत पर मोहल्ला वासियों ने विद्युत विभाग के खिलाफ हंगामा किया।
मोहल्ला शहीद नगर में सिराजू किराना स्टोर के सामने खड़े लोहे के विद्युत पोल में महीनों से करंट उतर रहा है। मोहल्ले वासियों ने इसकी कई बार विद्युत विभाग से शिकायत की लेकिन विद्युत विभाग के किसी भी कर्मचारी ने सुनी नहीं। मंगलवार को सुबह एक आवारा कुत्ते ने पानी पीने के लिए नाली में मुंह डाला तो विद्युत पोल में दौड रहे करंट से उसकी मौत हो गई। कुत्ते की मौत से मोहल्ले वासियों में हड़कंप मच गया। मोहल्लावासियों का आरोप है कि कई बार लिखित व मौखिक शिकायत करने के बावजूद भी विद्युत विभाग कुम्भकर्णी नींद से नहीं जागा है। अगर शीघ्र ही समस्या का समाधान न किया गया तो भविष्य में बडी घटना हो सकती है।

विद्युत कटौती से त्रस्त किसानों ने जेई को बनाया बंधक

विशाल अग्रवाल, एकलव्य बाण समाचार

विद्युत कटौती से त्रस्त किसानों ने जेई को बनाया बंधक

झालू, बिजनौर। विदुर कुटी फीडर पर किसानों ने बिजली की अंधाधुंध कटौती से त्रस्त होकर बुधवार प्रात: 10 बजे एसडीओ व जेई को बंधक बना लिया। दोनों ने किसानों को आश्वासन दिया कि शीघ्र ही समस्या का समाधान कर दिया जाएगा।

मौके पर आसपास के कई गांवों के किसान पहुंचे थे। इनमें तीबड़ी से विकास चौधरी, ऋषभ चौधरी, पहलवान दारा सिंह एवं विकास, जलालपुर से विक्की, सुमित सौरभ शामिल रहे।
——

कोरोना संक्रमण ने दिया विद्युत विभाग का तगड़ा झटका

कोरोना संक्रमण ने दिया विद्युत विभाग का तगड़ा झटका
काल के गाल में समा गए कई अधिकारी कर्मचारी

मुरादाबाद। कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने विद्युत विभाग को जोर का झटका दिया है। मुरादाबाद जोन में बड़े अफसर से लेकर आफिस स्टॉफ तक कई लोगों को विभाग अब तक खो चुका है। वहीं मुरादाबाद शहर के तीनों डिवीजन के बिजलीघरों पर तैनात कई अफसर और स्टाफ संक्रमित बताए गए हैं। कई ठीक होकर जैसे तैसे बिजली सप्लाई को सुचारू कराने के काम में जुटे हुए हैं। विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि इस संक्रमण की लहर से विभाग को काफी नुकसान पहुंचा है, इसकी भरपाई जल्द होना मुश्किल है।
कोरोना संक्रमण में के इस दौर में व्यवस्थाएं कराने से जुड़े डीएम, सीडीओ भी संक्रमित हो चुके हैं। जिला स्तर के कई अधिकारी संक्रमित होकर स्वस्थ्य हो गए तो वहीं कई जिंदगी की जंग हार गए।
बताया  जाता है कि बिजली विभाग अधिकारियों कर्मचारियों के फ्रंट लाइन पर काम करने के कारण लगातार लोगों के संपर्क में होने से काफी लोग संक्रमित हो गए। इस कारण कई अधिकारियों की संक्रमण से मौत हो गई तो कई अधिकारी व स्टाफ पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद होम आइसालेट हो चुके हैं। विभागीय सूत्रों का कहना है कि शहर के डिवीजन तीन में सबसे अधिक स्टाफ इस संक्रमण से जूझ रहा है। एसडीओ, जेई के साथ ही आफिस स्टाफ भी संक्रमित हुआ है। इनमें से कई ठीक होकर अब घर से ही बिजली व्यवस्था को मेनटेन कराने के काम को पूरा करा रहे हैं। स्टाफ का कहना है कि इस समय सारा फोकस निर्बाध विद्युत आपूर्ति पर है, बाकी काम तो जैसे तैसे पूरे करा ही लिए जाएंगे।