चांदपुर नगरवासियों को चेयरपर्सन फ़हमीदा ख़ातून ने दी शानदार पार्क की सौग़ात

चेयरपर्सन फ़हमीदा ख़ातून ने दी चांदपुर नगरवासियों को शानदार पार्क की सौग़ात

-सहयोग के लिए चांदपुर वासियों का रहेंगे दिल से शुक्रगुज़ार : अरशद अंसारी

बिजनौर। नगर पालिका परिषद चांदपुर की चेयरपर्सन फ़हमीदा ख़ातून ने चांदपुर नगर वासियों की परेशानी और उनकी सेहत को अच्छा बनाने के लिए नगर वासियों को एक शानदार पार्क की सौग़ात दी है। चेयरपर्सन फ़हमीदा ख़ातून ने फ़ीता काटकर पार्क का शुभारंभ करते हुए पार्क नगर वासियों को सौंपा। पार्क में बच्चों के खेलने कूदने व बड़ों के लिए टहलने, जिम के सामान, फूल हरियाली का माकूल इंतजाम किया गया है। चेयरपर्सन पुत्र अरशद अंसारी ने कहा कि उन्होंने 5 साल में शहर को चमकाने में कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी है। सड़कें नालियां, साफ़ सफ़ाई, बिजली, पानी आदि को प्राथमिकता के साथ किया है।

फ़ीता काटकर पार्क का उद्घाटन करतीं चेयरपर्सन फ़हमीदा ख़ातून साथ में मौजूद समाजसेवी अरशद अंसारी

अरशद अंसारी ने कहा कि उनका मकसद शहर को सभी सुविधाएं उपलब्ध कराना रहा है। उन्होंने ने कहा कि पिछले 5 साल में बिना किसी जाति भेदभाव के साथ चाँदपुर नगर पालिका परिषद का विकास किया गया है। आगे भी चांदपुर क्षेत्रवासियों को शिकायत का मौका नहीं दिया जाएगा।

एसपी ग्रामीण धर्म सिंह ने किया थाना मैस का निरीक्षण

एसपी ग्रामीण धर्म सिंह ने किया थाना मैस का निरीक्षण

बिजनौर। अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी धर्म सिंह मार्छाल द्वारा थाना अफ़ज़लगढ़ का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान थाने की साफ-सफाई, शस्त्रागार, मेस, महिला हेल्प डेस्क व कार्यालय इत्यादि को चेक किया गया तथा संबंधित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए व पैदल गश्त कर जनता को सुरक्षा का एहसास दिलाया।

अफ़ज़लगढ़ थाना कोतवाली मैस में निरीक्षण करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण धर्म सिंह मार्छाल

अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी ने अफ़ज़लगढ़ थाना कोतवाली प्रभारी निरीक्षक मनोज कुमार को आवश्यक दिशा निर्देश देते हुए कहा कि क्षेत्र का माहौल पूरी तरह अपराध मुक्त बनाये रखने के लिए हर व्यापक कदम उठाएं। साथ ही असामाजिक व क्षेत्र में शांति व्यवस्था भंग करने का प्रयास करने वालों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही अमल में लाई जाए।

थाना पर ही मिलेगा न्याय, उच्चाधिकारियों के नहीं काटने होंगे चक्कर: राजीव चौधरी

उच्चाधिकारियों के नहीं काटने होंगे चक्कर, थाना पर ही मिलेगा न्याय : राजीव चौधरी

राजीव चौधरी
प्रभारी निरीक्षक स्योहारा

बिजनौर। प्रभारी निरीक्षक थाना स्योहारा राजीव चौधरी ने कहा कि पुलिस के प्रति जनता का विश्वास बढ़ाने के लिए पीड़ितों को त्वरित न्याय थाना पर ही दिलाया जाएगा तथा अपराधियों पर शीघ्र कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि थाना स्तर पर ही पीड़ितों की हर सम्भव मदद की जाएगी।
राजीव चौधरी का कहना है कि समय रहते पीड़ितों को न्याय मिलेगा तो जनता के मन में पुलिस के प्रति विश्वास उत्पन्न होगा। उन्होंने कहा मेरे थाना क्षेत्र में कोई अप्रिय घटना ना घटे इसको लेकर मेरा पूरा प्रयास रहेगा तथा पूरा पुलिस बल 24 घंटे जनता की सेवा में समर्पित रहेगा। शासन की मंशानुरूप कार्य करते हुए पीड़ितों को न्याय दिलाना उनकी प्रथम प्राथमिकता शामिल है। राजीव चौधरी ने सख्त लहजे में कहा गुण्डे, मवाली भू माफिया, असामाजिक तत्व अपना रास्ता बदल लें अन्यथा उनकी असली जगह जेल की सलाखें होंगी।

काले काम करने वालों की ख़ैर नहीं

गौरतलब है कि यहां से पूर्व राजीव चौधरी थाना नजीबाबाद में एसएसआई थे, वह अपनी शानदार पुलिसिंग एवं सशक्तता के लिए जाने जाते थे। उनकी बेदाग़ छवी कुशल नेतृत्व क्षमता व शालीन स्वभाव तथा न्यायप्रिय कार्यशैली से प्रभावित होकर जनता उनका बहुत आदर में सम्मान करती है, और वह जनता के दिलों पर राज भी करने लगे हैं। प्रभारी निरीक्षक राजीव चौधरी का कहना है कि उनके कार्य क्षेत्र में किसी भी तरह के काले काम करने वालो की ख़ैर नहीं। अपराध और अपराधियों के प्रति ज़ीरो टॉलरेंस की नीति अपनाकर उन्हें उनके असल ठिकाने यानी सलाखों के पीछे भेजा जाएगा।

12 दिसम्बर तक जनपद में लागू धारा-144

12 दिसम्बर तक जनपद में धारा-144 लागू

प्रतिबंध का उल्लंघन करने वाले के विरूद्व धारा-188 के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी- अपर जिला मजिस्ट्रेट (प्रशासन) विनय कुमार सिंह

बिजनौर। अपर जिला मजिस्ट्रेट (प्रशासन) विनय कुमार सिंह द्वारा बताया गया कि जनपद में विभिन्न प्रकार की परीक्षाओं एवं आगामी नगरीय निकाय सामान्य निर्वाचन आसन्न है उक्त के दृष्टिगत विश्वस्त सूत्रों एवं विभिन्न समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों से संज्ञानित है कि जनपद में तेजी से चल रही राजनैतिक गतिविधियों के परिप्रेक्ष्य में कुछ अवांछनीय तथा असमाजिक तत्व सक्रिय होकर जनपद की लोक प्रशांति एवं साम्प्रदायिक सौर्हाद को प्रभावित कर सकते हैं। अतः उक्त आधार पर जनपद बिजनौर में लोक प्रशांति बनाये रखने हेतु अविलम्ब निषेधाज्ञा लागू किया जाना आवश्यक हो गया है।
उन्होंने बताया कि उपरोक्त के दृष्टिगत तत्काल प्रभाव से आगामी 12दिसम्बर, 2022 तक दण्ड प्रक्रिया की धारा-144 के अधीन निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि उक्त आदेश के किसी भी प्रतिबंध का उल्लंघन करने वाले के विरूद्व धारा-188 के अंतर्गत कार्यवाही की जाएगी।

विशेष अभियान दिवस में युवाओं व महिलाओं में दिखा उत्साह

विशेष अभियान दिवस में युवाओं व महिलाओं में दिखा उत्साह

आयोग ने ऑफलाइन के साथ ऑनलाइन फार्म भरने की दी सुविधा- अपर जिलाधिकारी (वि0रा0)

08 दिसम्बर तक विधान सभा निर्वाचक नामावली मेें नाम सम्मिलित करने हेतु करें आवेदन- उप जिला निर्वाचन अधिकारी

बिजनौर। अपर जिलाधिकारी (वि0रा0)/ उप जिला निर्वाचन अधिकारी अरविन्द कुमार सिंह ने राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों, एनजीओ व संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ कलक्ट्रेट स्थित अपने कार्यालय कक्ष में विधानसभा निर्वाचक नामावलीयों के कार्यों के संबंध में बैठक कर उनसे अभियान में सहयोग करने की अपील की। उन्होंने बताया कि ऑफलाइन के अतिरिक्त ऑनलाइन फार्म भरने हेतु एनवीएसपी पोर्टल,वीएचए किये जाने की सुविधा भी आयोग द्वारा प्रदान की गयी है।

09 नवम्बर से 03 दिसम्बर 2022 तक अभियान अंतर्गत जनपद की सभी आठों विधानसभाओं में 14550 फार्म-6, प्राप्त किये गये, जिसमें 18 से 19 आयु वर्ग के 5454 व महिलाओं के 6116 फार्म प्राप्त हुए, 1259 फार्म-8 तथा 24096 फार्म-6बी प्राप्त हुए। उन्होंने बताया कि 04 दिसम्बर 2022 को आयोजित विशेष अभियान दिवस में जनपद की सभी आठों विधानसभाओं में 5722 फार्म-6, प्राप्त किये गये जिसमें 18 से 19 आयु वर्ग के 1614 व महिलाओं के 2409 फार्म प्राप्त हुए 289 फार्म-8 तथा 4840 फार्म-6बी प्राप्त हुए।

उन्होंने बताया कि जनपद की सभी आठों विधानसभाओं में 1654 मतदान केन्द्र व 3012 मतदेय स्थल हैं। भारत निर्वाचन आयोग, नई दिल्ली एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उ0प्र0 लखनऊ के दिशा निर्देशानुसार अर्हता दिनांक 01 जनवरी, 2023 के आधार पर विधान सभा की निर्वाचक नामावलियों का आलेख्य प्रकाशन दिनांक 09 नवम्बर, 2022 को किया जा चुका है तथा दिनांक 09 नवम्बर, 2022 से दिनांक 08 दिसम्बर, 2022 के मध्य दावे और आपत्तियां प्राप्त करने के निर्देश दिये गये हैं।

प्राप्त निर्देशों के अनुसार अर्हक तारीख के संदर्भ में, नामावली में किसी भी अर्ह व्यक्ति का नाम सम्मिलित किए जाने के लिए कोई दावा या किसी नाम के सम्मिलित किए जाने हेतु या किसी प्रविष्टि की विशिष्टयों की बाबत कोई आक्षेप किया जाता है तो वह 08दिसम्बर 2022 को या उससे पूर्व प्ररूप-6, 6क, 7, 8, 8क में से, जो समुचित हो, उस प्रारूप में दाखिल किया जाये।
उन्होंने बताया कि हर ऐसा दावा या आक्षेप निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण कार्यालय में या मतदान स्थल पर उपस्थित पदाभिहित अधिकारियों/ बूथ लेबिल आफिसर या संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण कार्यालय के समक्ष पेश किये जा सकते है, जो कि वह उपरोक्त तारीख के अपश्चात् मिल जाये।

अपर जिलाधिकारी (वि0रा0)/ उप जिला निर्वाचन अधिकारी अरविन्द कुमार सिंह ने बताया कि उक्त के साथ ही एक पात्र नागरिक, जो 2023 वर्ष में पश्चातवर्ती अर्हता तारीखों अर्थात 01 अप्रैल, 2023, 01 जुलाई, 2023 या 01 अक्टूबर 2023 में से किसी को अठारह वर्ष की आयु प्राप्त करने वाला है, वह भी सूचना की तारीख से, अग्रिम में, प्रारूप 6 में निर्वाचक नामावली में अपना नाम सम्मिलित करने के लिए दावा कर सकता है।

इस अवसर पर समस्त उपजिलाधिकारी, भारतीय जनता पार्टी के धीर सिंह, सपा के अखलाक, आरएलडी के यादराम सिंह, काग्रेंस के मुनीश त्यागी, बीएसपी के मौ0 सिददीकी सहित एनजीओ व संस्थाओं के प्रतिनिधि सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित रहे।

कबड्डी प्रतियोगिता में चांदपुर ने जीता फाइनल मैच

फाइनल मैच में चांदपुर की टीम ने दरबाड़ा की टीम को 31-29 के अंतर से हराया

गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर में अंतर महाविद्यालय कबड्डी प्रतियोगिता का हुआ आयोजन

बिजनौर। गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर में आयोजित अंतर महाविद्यालय कबड्डी प्रतियोगिता में चांदपुर की टीम ने दरबाड़ा की टीम को 31-29 अंकों के अंतर से हराया।
महाविद्यालय में हुई कबड्डी प्रतियोगिता में रुहेलखंड विश्वविद्यालय बरेली से संबंध विभिन्न महाविद्यालयों की टीमों ने सहभागिता की। प्रतियोगिता का उद्घाटन महाविद्यालय के प्राचार्या डॉ० साधना ने किया। उन्होंने खिलाड़ियों को लगन एवं पूर्ण मनोयोग के साथ खेलने के लिए प्रोत्साहित किया तथा सभी खिलाड़ियों को खेल भावना के साथ अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने के लिए प्रेरित किया। प्रतियोगिता में वर्धमान कॉलेज बिजनौर, बरेली कॉलेज बरेली, एस०एम० कॉलेज चंदौसी, विवेकानंद महाविद्यालय दरबाडा भागीरथी देवी कॉलेज धनौरा, मॉडल पब्लिक एजुकेशन कॉलेज चंदौसी, आर०एस०एम० कॉलेज धामपुर, गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर की टीमों ने भाग लिया।

उद्घाटन मैच मॉडल पब्लिक एजुकेशन कॉलेज चंदौसी एवं आरएसएम कॉलेज धामपुर के टीमों के बीच हुआ। जिसमें आरएसएम कॉलेज विजयी रहा। प्रथम सेमीफाइनल मैच वर्धमान कॉलेज बिजनौर व विवेकानंद महाविद्यालय दरबाडा के बीच हुआ। जिसने विवेकानंद कॉलेज की टीम ने मैच जीता। द्वितीय सेमीफाइनल गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर व भागीरथी देवी महाविद्यालय धनौरा के बीच हुआ। गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर की टीम ने मैच जीता। फाइनल मैच गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर तथा विवेकानंद महाविद्यालय दरबाड़ा के बीच हुआ। जिसमें गुलाब सिंह हिंदू महाविद्यालय चांदपुर ने मैच 31- 29 के अंतर से जीता। विश्वविद्यालय परीक्षक डॉ. सोमपाल सिंह एवं आयोजन सचिव डॉ० अशोक कुमार ने खिलाड़ियों के प्रदर्शन के आधार पर एमजेपी रुहेलखंड विश्वविद्यालय बरेली की कबड्डी टीम के खिलाड़ियों का चयन किया। एमजेपी रूहेलखंड विश्वविद्यालय की चयनित टीम 6/12 /2022 को रोहतक में होने वाले अन्तर्विश्वविद्यालय कबड्डी नॉर्थ जोन प्रतियोगिता में प्रतिभाग करेगी। निर्णायक का दायित्व हेमंत कुमार, विकास कुमार, मनीष कुमार, शुभम चौधरी आदि ने किया। प्रतियोगिता के सफल आयोजन हेतु आयोजन सचिव लेफ्टिनेंट डॉ० अशोक कुमार ने सभी का आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर पूर्व नेशनल खिलाड़ी मनोज कुमार एवं विकल चौधरी मौजूद रहे।

फादरसन स्कूल चांदपुर ने हापुड़ की टीम को 20 अंकों से हराया

फादरसन स्कूल चांदपुर ने हापुड़ की टीम को 20 अंकों से हराया

बिजनौर। फादरसन पब्लिक स्कूल चांदपुर में आयोजित तीन दिवसीय सीबीएसई कबड्डी कल्स्टर के दूसरे दिन फादरसन पब्लिक स्कूल चांदपुर की टीम ने रॉयल पब्लिक स्कूल हापुड़ को 20 अंकों से पराजित किया।

विद्यालय में चल रहे कबड्डी कलस्टर के दूूसरे दिन दूसरे राउंड और तीसरे राउंड का मैच हुआ। अर्पण पब्लिक स्कूल शामली ने सेंट थोमस स्कूल मेरठ को 39 अंक से पराजित कर तीसरे राउंड में मदरलैंड पब्लिक स्कूल शामली को शानदार 10 अंक से पराजित किया। दूसरे राउंड के दौरान फादरसन पब्लिक स्कूल चांदपुर ने शानदार प्रदर्शन करते हुए रॉयल पब्लिक स्कूल हापुड की टीम को 20 अंकों से पराजित कर तीसरे राउंड में अपनी दावेदारी पेश की। आचार्यकुलम हरिद्वार की टीम ने सबसे शानदार प्रदर्शन करते हुए दूसरे राउंड में होली हेवन पब्लिक स्कूल हिन्डोली को 24 अंकों से व तीसरे राउंड में इन्द्रप्रस्थ पब्लिक स्कूल बागपत को 21 अंकों से शिकस्त देकर अपनी जीत को जारी रखते हुए चौथे राउंड में जगह बनाई। दूसरे दिन में 64 टीमों ने अपना जोर दिखाया।

संस्था की प्रबंधक श्रीमती आभा सिंह ने बताया कि स्कूल दिन प्रतिदिन शिक्षा के नए आयाम छू रहा है तथा विघालय की व्यवस्था में बच्चों का सर्वागीण विकास निहित है। आजकल बच्चों में खेलकूद की भावना कम होती जा रही है। इसी के मद्देनजर बोर्ड द्वारा इस प्रकार प्रतियोगिताएं आयोजित कराया जाना अति सरहानीय है। प्रतियोगता में तरुण अग्रवाल, प्रशांत शर्मा, राजकुमार वर्मा, संजीव सहरावत, संदीप सिंह, मो. अजहर, विवेक चौधरी, निकेंद्र तोमर, शितिज़ कुमार आदि का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

आवास बनवाने के नाम पर धन मांगने वाले की करें शिकायत: सीडीओ

आवास बनवाने के नाम पर धन मांगने वाले की करें शिकायत: सीडीओ

जिला बिजनौर को 1912 आवासों का लक्ष्य प्राप्त, ऑनलाईन स्थायी प्रतीक्षा सूची से वरीयता क्रम में पात्रता के अनुसार आवासों का होगा आवंटन, धनराशि की मांग करने वालों के खिलाफ दर्ज कराई जाएगी एफआईआर-मुख्य विकास अधिकारी पूर्ण बोरा

बिजनौर। प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत सरकारी मकान बनाए जाने के लिए जिला बिजनौर को 1912 आवासों का लक्ष्य प्राप्त हो गया है। मुख्य विकास अधिकारी पूर्ण बोरा ने उक्त जानकारी देते हुए बताया कि विकास खण्डवार एवं ग्राम पंचायतवार लक्ष्य का निर्धारण सीधे ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा ही किया गया है। प्राप्त लक्ष्य के सापेक्ष ग्राम पंचायतों में आवास प्लस साइट पर उपलब्ध ऑनलाईन स्थायी प्रतीक्षा सूची से वरीयता क्रम में पात्रता के अनुसार आवासों का आवंटन किया जायेगा।
उन्होंने बताया कि यह सूची किसी भी स्तर पर परिवर्तित नहीं की जा सकती है। उन्होंने जन सामान्य को सूचित करते हुए कहा कि कोई भी व्यक्ति प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) में आवास बनाने के लिए किसी कर्मचारी अथवा अन्य व्यक्ति को पैसा न दें। उन्होंने कहा कि यदि किसी लाभार्थी से कोई कर्मचारी अथवा अन्य व्यक्ति आवास बनवाने के नाम पर धनराशि की मांग करता है, तो उसकी शिकायत मुख्य विकास अधिकारी, बिजनौर (मो0नं0 9454416912), परियोजना निदेशक, जिला ग्राम्य विकास अभिकरण, बिजनौर (मो0न0-7906808872) एवं जिला विकास अधिकारी, बिजनौर (मो0न0-7380300169) से उनके मोबाइल नम्बर पर अथवा लिखित रूप में साक्ष्य के साथ कर उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। इसके अलावा यदि कोई ग्राम पंचायत सचिव/सरकारी कर्मचारी अथवा अन्य कोई बाहरी व्यक्ति धनराशि मांगता है, तो उसकी वीडियो/आडियो क्लिप बना लें और तत्काल उसकी सूचना उपरोक्त दूरभाष नम्बरों पर उपलब्ध कराएं ताकि संबंधित दोषी व्यक्तियों के खिलाफ तुरन्त FIR दर्ज करायी जा सके।

बिजनौर की 10 पालिकाएं सामान्य, दो एससी के लिए आरक्षित

बिजनौर की 10 पालिकाएं सामान्य, दो एससी के लिए आरक्षित

बिजनौर। शासन ने निकायों के अध्यक्ष पद के आरक्षण की घोषणा कर दी है। इस बार बिजनौर जिले की दो पालिकाओं किरतपुर और शेरकोट को अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित किया गया है। बाकी दस पालिकाओं में अध्यक्ष पद की सीट सामान्य है। वहीं बिजनौर पालिका को इस बार अनारक्षित कर दिया गया है, जबकि पिछली बार महिला के लिए आरक्षित थी। पिछली बार हुए चुनाव में जिले में सिर्फ हल्दौर पालिका ही एससी वर्ग के लिए आरक्षित थी। इस बार हल्दौर को अनारक्षित की श्रेणी में कर दिया गया है। वहीं पालिका किरतपुर को इस बार एससी वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। शेरकोट में अध्यक्ष अनुसूचित जाति का ही बनेगा। नगर पंचायतों की बात करें तो जिले में झालू को महिलाओं के लिए आरक्षित किया गया है। बाकी पांच नगर पंचायतों में कोई भी चुनाव लड़ सकेगा।

जिले की दस पालिकाओं की स्थिति
बिजनौर – अनारक्षित

नगीना – अनारक्षित

नजीबाबाद – अनारक्षित

नूरपुर – अनारक्षित

स्योहारा – अनारक्षित

चांदपुर – अनारक्षित

नहटौर – अनारक्षित

धामपुर – अनारक्षित

अफजलगढ़ – अनारक्षित

हल्दौर – अनारक्षित

किरतपुर – अनुसूचित जाति

शेरकोट – अनुसूचित जाति

नगर पंचायत आरक्षण

झालू – महिला

मंडावर – अनारक्षित

बढ़ापुर – अनारक्षित

सहसपुर – अनारक्षित

जलालाबाद – अनारक्षित

साहनपुर – अनारक्षित

नगर निगम, पालिका परिषद व पंचायत के लिए आरक्षण की घोषणा

निकाय चुनाव: नगर निगम, नगर पालिका परिषद व नगर पंचायत के लिए आरक्षण की घोषणा

लखनऊ। यूपी के नगर निगमों, नगर पंचायतों व नगर पालिका परिषदों के लिए आरक्षण की घोषणा कर दी गई है। अब जल्द ही निकाय चुनाव की तारीखों का भी एलान कर दिया जाएगा।
नगर विकास मंत्री अरविंद कुमार शर्मा ने मीडिया को संबोधित कर यह जानकारी दी।

यूपी में नगर निकाय चुनाव के लिए 17 नगर निगमों, 200 नगर पालिका परिषद और 562 नगर पंचायतों के लिए आरक्षण की घोषणा कर दी गई है। नगर विकास मंत्री एके शर्मा ने पालिका परिषद और नगर पंचायत के अध्यक्षों के आरक्षण की अधिसूचना जारी की। पालिका परिषद में 200 और नगर पंचायत में 562 अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होना है। सीटों का आरक्षण के आधार किया गया है। इससे साफ है कि अधिकतर सीटों पर बड़ा उलटफेर हुआ है।

नगर विकास विभाग की तरफ से कहा गया है कि सूची पर अगर किसी को कोई आपत्ति है या उसे लेकर कोई सुझाव देना है तो संबंधित डीएम कार्यालय में जाकर लिखित रूप में दर्ज करा सकते हैं। तय समय सीमा के अंदर आपत्तियां नहीं आती हैं तो उन पर विचार नहीं किया जाएगा। उधर सूची प्रकाशित होने के बाद से सियाससी सरगर्मियां तेज हो गई है। इस सूची में कई वार्डों की स्थिति बदल गई है, ऐसे में दावेदारों पर भी असर पड़ा है। कई ऐसे वर्तमान सभासद आरक्षण की बदली स्थिति के कारण रेस से बाहर हो गए हैं। अब देखना ये होगा कि वो क्या किसी प्रत्याशी को समर्थन देते हैं या फिर अपने लिए कोई दूसरी सीट ढूंढते हैं।

वर्ष 2017 में सात मेयर पद थे अनारक्षित

वर्ष 2017 में कुल 16 नगर निगम थे। इसमें सात नगर निगमों के मेयर पद अनारक्षित थे। तीन मेयर पद सामान्य महिला, दो पद ओबीसी महिला, एक एससी महिला, दो पद ओबीसी व एक पद एससी के लिए आरक्षित किया गया था। इस बार 17 नगर निगमों के मेयर पद का आरक्षण जारी किया जाएगा।

वर्ष 2017 में नगर निगमों के मेयर का आरक्षण
सहारनपुर-ओबीसी

मेरठ-एससी महिला

गाजियाबाद-महिला

मुरादाबाद-अनारक्षित

बरेली-अनारक्षित

अलीगढ़-अनारक्षित

मथुरा-वृंदावन-एससी

आगरा-अनारक्षित

फिरोजाबाद-ओबीसी महिला

कानपुर-महिला

झांसी-अनारक्षित

प्रयागराज-अनारक्षित

लखनऊ-महिला

अयोध्या-अनारक्षित

गोरखपुर-ओबीसी

वाराणसी-ओबीसी महिला

ई-रिक्शाओं का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कराया एनाउंसमेंट

ई-रिक्शाओं का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कराया एनाउंसमेंट

पांच दिन बाद बिना पंजीकरण की ई-रिक्शाओं के विरूद्ध की जायेगी कड़ी कार्रवाई

बिजनौर। अफजलगढ़ नगर व क्षेत्र में चल रहे ई-रिक्शा के अवैध संचालन को लेकर पुलिस ने ई रिक्शा स्वामियों से ई-रिक्शाओं का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए एनाउंसमेंट कराया। इस अवसर पर कोतवाल मनोज कुमार सिंह ने बताया कि एसपी के निर्देश पर एनाउंसमेंट कराकर ई-रिक्शा मालिको को पांच दिन के भीतर ई- रिक्शा का रजिस्ट्रेशन कराने के लिए कहा गया है। इसके अलावा ई- रिक्शा पर पंजीकरण संख्या लिखवाने को कहा गया है। उन्होंने कहा कि निर्धारित समय सीमा के बाद भी अवैध रूप से ई रिक्शा का संचालन होते पाया गया तब सघन अभियान चलाकर बिना पंजीकरण की ई-रिक्शाओं के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जायेगी और बिना पंजीकरण की ई-रिक्शाओं को जब्त कर लिया जायेगा। इस अवसर पर कस्बा इंचार्ज अनोखेलाल गंगवार के अलावा कांस्टेबल विकास बाबू, शैलेन्द्र कांत, सचिन कुमार, जिले सिंह तथा संदीप भुल्लर आदि उपस्थित रहे।

गौरतलब है कि पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने जनपद के अपर पुलिस अधीक्षक नगर, ग्रामीण व पूर्वी तथा सभी क्षेत्राधिकारियों को निर्देश देकर कहा है कि जनपद के थाना क्षेत्रों में चलने वाली बिना नम्बर की ई-रिक्शा चालकों को अपने-अपने थाना क्षेत्रों में उद्घोषणा कराकर सूचित कर दिया जाए कि वह पांच दिनों के अन्दर अपने ई रिक्शा का रजिस्ट्रेशन कराकर नम्बर लिखवाएं। ई-रिक्शा चालकों को चेतावनी दी जाए कि पांच दिनों के बाद बिना नम्बर की ई-रिक्शा सड़क पर चलती दिखायी देने पर उसके उपरान्त सघन अभियान चलाकर चालक व ई- रिक्शा के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही कर ई-रिक्शा जब्त कर ली जाएगी।

डग्गामार वाहन चालकों की पौ बारह, ई~रिक्शा चालकों पर सितम

डग्गामार वाहन चालकों की पौ बारह, ई~रिक्शा चालकों पर सितम

ई~रिक्शा (मिनी मेट्रो) को पंजीकरण कराने के लिए मांगा समय

पुरानी मॉडल रिक्शा (मिनी मेट्रो) के पंजीकरण कम शुल्क में कराने की मांग

मुख्यमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा

बिजनौर। एक तरफ शहर बिजनौर ही नहीं बल्कि पूरे जिले में डग्गामार वाहनों से राजस्व को लाखों करोड़ों रुपए का चूना लगाया जा रहा है वहीं ई रिक्शा चला कर अपना और अपने परिवार का पेट भरने वाले गरीबों पर जुल्म ढाया जा रहा है। हाल ही में अभियान चला कर ई~रिक्शा (मिनी मेट्रो) चालकों को रजिस्ट्रेशन के लिए मजबूर किया जा रहा है। इसी कारण बिना पंजीकरण के ई~रिक्शा (मिनी मेट्रो) को पंजीकरण कराने के लिए समय प्रदान करने तथा पुरानी मॉडल रिक्शा (मिनी मेट्रो) के पंजीकरण कम शुल्क में कराने के लिए जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन मुख्यमंत्री को संबोधित है।

ई~रिक्शा (मिनी मेट्रो) चालकों वहाजुद्दीन, इमरान अहमद, शरीफ अहमद, शमशेर आदि ने कलेक्ट्रेट पहुंच कर जिलाधिकारी को ज्ञापन सौंपा। अवगत कराया कि वह लोग रिक्शा मिनी मेट्रो चलाकर अपना व अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं। उनके पास जो भी पुराने मॉडल के रिक्शा हैं, उन का पंजीकरण नहीं कराया जा रहा है। गरीब होने के कारण नई रिक्शा खरीदने में असमर्थ हैं। उनके रिक्शा पुलिस द्वारा सीज किये जा रहे हैं, जिससे उनको अपना व अपने परिवार का पालन पोषण करने में काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है और जीवन यापन करना कठिन हो गया है। उन्होंने ज्ञापन के माध्यम से मुख्यमन्त्री से निवेदन किया कि पुराने मॉडल के रिक्शा के रजिस्ट्रशन हेतु कोई सरल प्रकिया अपनाने के लिए सम्बन्धित अधिकारी को आदेशित करें। इससे पहले 27 नवंबर को सीओ चांदपुर को भी ज्ञापन सौंपा गया था।

साइड पटरी इण्टरलॉकिंग रोड व नाली निर्माण के नाम पर हजम कर लिए साढ़े 77 लाख!

भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा, कहानी का दूसरा हिस्सा…

साइड पटरी इण्टरलॉकिंग रोड व नाली निर्माण के नाम पर हजम कर लिए साढ़े 77 लाख!

जांच पड़ताल में मौके पर नहीं पाया गया निर्माण

बिजनौर। नगर पंचायत मण्डावर में पदस्थ लोगों ने भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा पार कर डाली। विकास कार्य के नाम पर करोड़ों रुपए का घोटाला कर लिया गया। सब कुछ सन 2012 से 17 तक के बीच सपा नेता और सभासद की पत्नी के कार्यकाल में हुआ। कई ऐसे कार्य हुए जिनमें घोर अनियमितता कर शासन को कई करोड़ रुपए के राजस्व की क्षति पहुंचाई गई। इस मामले में तत्कालीन जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, अधिशासी अधिकारियों और तीन ठेकेदारों की शिकायत मुख्यमंत्री से की गई थी। मामले को गंभीरता से लेते हुए तत्कालीन अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) ने जांच कराई।

ऐसे ही एक मामले में आरोप है कि कस्बे में प्रकाश पब्लिक स्कूल से मण्डी समिति की ओर साइड पटरी इण्टरलॉकिंग रोड व नाली का निर्माण कराने के नाम पर रुपए 4333160-00 एवं रुपए-3420807-00 कुल 77 लाख 53 हजार 967 का भुगतान किया गया, जबकि ऐसा कोई कार्य वहाँ पर मौजूद तक नहीं है।

नायब तहसीलदार से जांच करने के बाद एसडीएम ब्रजेश कुमार सिंह ने 19 अक्टूबर 2019 को अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) को लिखित में अवगत कराया कि शिकायत के संबंध में अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मण्डावर से आख्या प्राप्त की गयी। अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मण्डावर की आख्यानुसार आवेदक द्वारा प्रार्थना पत्र में यह शिकायत की गयी है कि नगर पंचायत मण्डावर में प्रकाश पब्लिक स्कूल से मण्डी समिति की ओर साईड पटरी इण्टरलॉकिंग रोड व नाली का निर्माण कराया गया है, जिसका सत्यापन सईद अहमद सहायक अभियन्ता प्रा०खं०लोक निर्माण विभाग बिजनौर एवं श्रीमती सीमा रानी वर्मा अधिशासी अधिकारी एवं उमेश बाबू अवर अभियन्ता नगर पंचायत मण्डावर के साथ संयुक्त रूप से किया गया है, जो कि सरासर गलत व निराधार है, जबकि ऐसा कोई कार्य वहाँ पर मौजूद तक नहीं है।

उक्त संबंध में अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मण्डावर से आख्या प्राप्त की गयी। अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत द्वारा अपनी आख्या में यह उल्लेख किया गया है कि उक्त इण्टरलॉकिंग टाइल्स वर्णित स्थल पर लगायी गयी थीं, जिन्हें पी0डब्लू0डी० द्वारा मार्ग चौड़ीकरण के दौरान हटा दिया गया था, जिसका वर्णन सहायक अभियन्ता चतुर्थ प्रान्तीय खण्ड लो०नि०वि० बिजनौर के पत्रांक संख्या 866 / 1सी0 दिनांक 04.05.2018 में किया गया है। साथ ही उक्त कार्य का सत्यापन गठित समिति के सदस्यों द्वारा किया गया था। बाद में उखाड़ी गयी टाइल्स की नीलामी नगर पंचायत मण्डावर द्वारा दिनांक 10.12.2018 को की गई एवं अवशेष टाइल्स नगर पंचायत मण्डावर में रखी हुई है। 

प्रकाश पब्लिक स्कूल से मण्डी समिति तक रोड

उपरोक्त शिकायत के संबंध में नायब तहसीलदार बिजनौर द्वारा जाँच करायी गयी। नायब तहसीलदार बिजनौर की जाँच आख्यानुसार…

कार्य का विवरण-प्रकाश पब्लिक स्कूल से मण्डी समिति तक इण्टरलॉकिंग टाइल्स। कुल भुगतान राशि- रुपए-4333160-00 एवं रुपए-3420807-00 है।
मौके पर कोई निर्माण नहीं पाया गया। अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मण्डावर एवं लिपिक द्वारा बताया गया कि उक्त टाइल्स को वहाँ (वर्णित स्थल) से उखाड़ दिया गया है, जिसमें से कुछ टाइल्स को रुपए-50800-00 में नीलाम कर दिया गया है, जिसकी नीलामी पत्रावली नहीं दिखाई गयी और न ही उपलब्ध करायी गयी तथा कुछ टाइल्स रखी हैं। स्थलीय निरीक्षण के समय शिकायतकर्ता मौके पर साथ में उपस्थित रहे।

विवेचना का सार यह है कि अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मण्डावर एवं नायब तहसीलदार बिजनौर की आख्यानुसार शिकायती प्रार्थना पत्र में वर्णित स्थल पर लगायी गयी थी, जिन्हें पी0डब्लू0डी० द्वारा मार्ग चौड़ीकरण के दौरान हटा दिया गया था, जिसका वर्णन सहायक अभियन्ता चतुर्थ प्रान्तीय खण्ड लो०नि०वि० बिजनौर के पत्रांक संख्या 866/ 1सी0 दिनांक 04.05.2018 में किया गया है, जिनकी नीलामी नगर पंचायत भण्डावर द्वारा दिनांक 10.12.2018 को रुपए-50800-00 में की गयी है एवं अवशेष टाइल्स नगर पंचायत मण्डावर में रखी हुई हैं। नगर पंचायत द्वारा लोक निर्माण विभाग की सड़क पर किस अधिकार के तहत निर्माण कराया गया है तथा इसके लिए कौन अधिकारी उत्तरदायी है, इस संबंध में अधिशासी अधिकारी नगर पंचायत मण्डावर से आख्या प्राप्त किया जाना समीचीन होगा। निरीक्षण के समय नगर पंचायत द्वारा न तो नीलामी पत्रावली दिखायी गयी और न ही अवशेष टाइल्स और न ही किसी सक्षम अधिकारी से अनापत्ति (एन०ओ०सी०) प्राप्त की गयी, जिससे यह प्रतीत होता है कि उक्त प्रकरण में कहीं न कहीं अनियमितता बरती गयी है व सरकारी धन का दुरूपयोग किया गया है।

कहानी अभी भी बाकी है…

किसान की पशुशाला से गाय को उठाकर ले गया बाघ

किसान की पशुशाला से गाय को उठाकर ले गया बाघ

बिजनौर। बढ़ापुर वन रेंज के आरक्षित वन क्षेत्र के समीप डेरा डालकर कृषि करने वाले एक किसान की पशुशाला से बाघ किसान की गाय को उठाकर ले गया। पास ही जंगल मे ले जाकर गाय को अपना निवाला बना लिया। सवेरे किसान जब डेरे पर पहुँचा तो देखा कि पशुशाला से दो गाय गायब थी। आसपास तलाश करने पर एक गाय का शव मिला परन्तु एक गाय का कुछ पता नही चल पाया है। किसान द्वारा घटना की सूचना वन विभाग सहित राजस्व विभाग को दे दी गई है।

नगर के मोहल्ला फूलबाग निवासी नसीम पुत्र अ० रहमान की नकटा नदी के समीप बढ़ापुर वन रेंज के आरक्षित वन क्षेत्र से सटे मौजा सेलापानी में कृषि भूमि है। जहां पर दशकों से नसीम के परिजनों द्वारा कृषि भूमि पर डेरा डालकर निवास किया जाता रहा है। उक्त डेरे पर ही पशुओं के लिये कच्ची पशुशाला भी बनाई हुई है, जिसमें करीब दर्जन भर पशुओं का पालन होता है। शुक्रवार को नसीम जुमे की नमाज पढ़ने के लिए नगर में गए था, जहां पर नसीम अपने परिजनों के कहने पर रात में नगर में वहीं रुक गया था। सवेरे जब नसीम अपने डेरे पर पहुँचा तो देखा कि पशुशाला से दो गाय गायब थी। आसपास देखने पर नसीम ने पाया कि गाय को बाघ उठाकर ले गया है। इसके बाद नसीम ने पासपड़ोस के किसानों के साथ आसपास के जंगल में तलाश किया तो डेरे से कुछ दूर जंगल में एक गाय मृत पड़ी हुई मिली। उसका पिछला हिस्सा बाघ द्वारा खाया जा चुका था। गाय के गले पर बाघ के पकड़ने के निशान भी मौजूद थे। आसपास में देखने पर कच्चे रास्ते पर बाघ के पदचिन्ह भी मिले, जिन्हें देखकर किसानों ने बाघ की पुष्टि की है। किसान नसीम द्वारा बताया गया कि उसके द्वारा इस बाबत वन विभाग व राजस्व विभाग को सूचना दे दी गई है। सूचना पर हलका लेखपाल प्रमोद कुमार ने जांच कर उचित कार्यवाही की बात कही है। बढ़ापुर वन रेंज के रेंजर कपिल कुमार से मोबाइल फोन पर संपर्क नहीं हो सका।

18वीं विधान सभा के तृतीय सत्र को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए सभी दलीय नेताओं से सहयोग के लिए अनुरोध

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधान सभा के अध्यक्ष सतीश महाना ने सोमवार से प्रारम्भ हो रहे 18वीं विधान सभा के तृतीय सत्र को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए सभी दलीय नेताओं से सहयोग के लिए अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि संसदीय व्यवस्था में संवाद और सकारात्मक चर्चा-परिचर्चा के माध्यम से लोकतंत्र मजबूत होता है।

विधान भवन में आयोजित सर्वदलीय बैठक में सभी दलीय नेताओं ने विधान सभा अध्यक्ष को सदन चलाने में सहयोग देने का आश्वासन दिया। विधान सभा अध्यक्ष ने कहा कि यह देश की सबसे बड़ी विधान सभा है। स्वाभाविक रूप से उत्तर प्रदेश विधान सभा की कार्यवाही पूरे देश के विधान मण्डलों के लिए एक मानक और आदर्श भी उपस्थिति करती है।

विधान सभा अध्यक्ष ने सभी दल के नेताओं से अनुरोध किया कि वे अपना-अपना पक्ष सदन में शालीनता एवं संसदीय मर्यादा के अन्तर्गत रखें और प्रेमपूर्ण वातावरण में सदन में बहस करें। श्री महाना ने दलीय नेताओं से अपेक्षा करतेे हुए कहा कि जिस तरह पूर्व के सत्रोें में आप सभी का सहयोग मिला है, इसी तरह के सहयोग की उम्मीद इस बार भी है। इस अवसर पर सभी दलीय नेताओं ने विधान सभा अध्यक्ष की कार्य शैली की सराहना करतेे हुए कहा कि आपके दिशा निर्देशन में विधान सभा में कुछ न कुछ नया देखने को मिल रहा है। उम्मीद है कि भविष्य में भी नये प्रयोग के साथ विधान सभा में परिवर्तन देखने को मिलेगा। इस बात पर विधान सभा अध्यक्ष ने अपनी सहमति व्यक्त की।

सर्वदलीय बैठक में संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने सभी दलीय नेताओं को आश्वस्त किया कि सरकार पूरी गम्भीरता के साथ विकास को नई गति देने और उसे आगे बढ़ाने के लिए कार्य करेगी। सरकार सभी मुद्दों पर सकारात्मक कार्यवाही के लिए प्रतिबद्ध है। संसदीय कार्यमंत्री ने मुख्यमंत्री की भावना के अनुरूप सभी दलीय नेताओं से सदन में शान्तिपूर्ण सहयोग करने की अपील की।

बैठक में समाजवादी पार्टी के नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव के स्थान पर मनोज पाण्डेय, राष्ट्रीय लोक दल के नेता प्रदीप, अपना दल (सोनेलाल) के नेता राम निवास वर्मा, निर्बल इण्डियन शोषित हमारा आम दल के नेता संजय निषाद एवं अनिल कुमार त्रिपाठी, सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेता ओमप्रकाश राजभर, कांग्रेस पार्टी की नेता श्रीमती आराधना मिश्रा ‘मोना,’ जनसत्ता दल (लोकतान्त्रिक) के नेता रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भइया’, बहुजन समाज पार्टी के नेता उमाशंकर सिंह ने भी अपने विचार व्यक्त किये और सदन की कार्यवाही को व्यवस्थित ढंग से चलाने में हर तरह का सहयोग देने का आश्वासन दिया।
इस अवसर पर उत्तर प्रदेश विधान सभा के प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे, प्रमुख सचिव व अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे।

ज्वाइंट पुलिस कमिश्नरपीयूष मोर्डिया ने छात्र-छात्राओं कोप्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

राजकुमार इंटर कॉलेज में सड़क सुरक्षा एवं उत्तर प्रदेश पुलिस की सकारात्मक भूमिका पर पोस्टर प्रदर्शनी का आयोजन संपन्न

ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर लॉ एंड आर्डर
पीयूष मोर्डिया ने छात्र-छात्राओं को
प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्मानित

लखनऊ विद्यालय के प्रबंधक राजीव बक्शी ने मुख्य अतिथि एवं उनके साथ आए सभी गणमान्य व्यक्तियों का फूल माला पहनाकर किया भव्य स्वागत

लखनऊ। राजकुमार इंटर कॉलेज व इंडियन सोसायटी ऑफ क्रिएटिव आर्ट्स की ओर से राजकुमार इंटर कॉलेज के सभागार में सड़क सुरक्षा एवं उत्तर प्रदेश पुलिस की सकारात्मक भूमिका विषय पर पोस्टर प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि के रूप में ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर लॉ एंड आर्डर पीयूष मोर्डिया मौजूद रहे।विद्यालय के प्रबंधक राजीव बक्शी ने मुख्य अतिथि एवं उनके साथ आए सभी गणमान्य व्यक्तियों का फूल माला पहनाकर अभिनंदन किया।

इस अवसर पर विद्यालय के हाल में छात्र-छात्राओं द्वारा शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रदर्शन किया गया। इस मौके पर सड़क सुरक्षा से संबंधित लगभग 100 से भी अधिक छात्र-छात्राओं ने अपने द्वारा बनाए गए पोस्टर का प्रदर्शन भी किया। ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर लॉ एंड आर्डर पीयूष मोर्डिया ने छात्र-छात्राओं को उनके द्वारा किए गए बेहतरीन प्रयास की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए उन्हें प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया तथा उनके भविष्य निर्माण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश शुभकामनाएं दी। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद समाजसेवियों और पत्रकारों को भी सराहनीय कार्यों के लिए सम्मानित किया।

विद्यालय परिसर में इंडियन सोसायटी ऑफ क्रिएटिव आर्ट के संस्थापक, निदेशक एवं अंतर्राष्ट्रीय मूर्तिकार कृष्णचंद्र बाजपेई, उत्तर प्रदेश ज़िला मान्यता प्राप्त पत्रकार एसोसिएशन के महासचिव अब्दुल वहीद, शिक्षाविद एवं प्रखर समाजसेवी प्रोफेसर शशि मौली पांडे, पत्रकार नजम अहसन, छायाकार आरिफ मुकीम, पंजाब नेशनल बैंक के अधिकारी एवं समाजसेवी रमाकांत पांडे, समाजसेवी एवं मारुति शोरूम के प्रबंधक सौरभ सिंह सोमवंशी, ख्यातिलब्ध मूर्तिकार महेश कुमार एवं दिनेश कुमार, आज़ाद प्रेस के समाजसेवी महफूज हसन एवं मोहम्मद खुर्शीद अकरम के साथ ही कार्यक्रम समन्वयक अमृत बाजपेई तथा अन्य विशेष गणमान्य उपस्थित रहे। विद्यालय के प्रधानाचार्य सब्यसाची तिवारी और उनकी समस्त टीम ने कार्यक्रम का संचालन किया।

दून स्कूल के छात्र पहुंचे भारत पाक सीमा चौकी

दून स्कूल के छात्र पहुंचे भारत पाक सीमा चौकी

बीकानेर। देहरादून के प्रतिष्ठित दून स्कूल के 28 छात्र रविवार को क्षेत्रीय मुख्यालय सीमा सुरक्षा बल बीकानेर के अधीन सीमा दर्शन चौकी पहुंचे।

इंजतार भूमि स्कूल की डायरेक्टर ऑफ एक्टिविटीज मिस मनु मल्होत्रा के साथ 5 अध्यापक अंजन चौधरी, लेटमदाद अली, प्रिया चौहान, देवराती घोष एवं दीपांकर सिरोही मौजूद थे। सीमा चौकी पर उन्हें सीमा सुरक्षा बल के बारे में जानकारी देने के साथ ही वहां स्थित संग्रहालय एवं वैभव गैलरी भी दिखाई गई। इसके अलावा सन 1965 एवं 1971 के युद्ध में जब्त किए गए हथियारों और सीमा सुरक्षा बल के पुराने एवं वर्तमान में प्रयोग किए जाने वाले हथियारों की प्रदर्शनी दिखाई गई। इसके पश्चात ब्लू अर्थ गैलरी का दौरा कराने के साथ ही भारत-पाकिस्तान सीमा दिखाई गई।

इस दौरान स्कूल के छात्रों में भारी उत्साह देखने को मिला। सभी छात्रों एवं अध्यापकों ने दौरे में काफी अत्यधिक रुचि दिखाई। इस दौरे को कैमल मैन कैमल ऑर्गेनाइजर ऑफ कैमल सफारी बीकानेर के माध्यम से पुष्पेंद्र सिंह राठौर उपमहानिरीक्षक सीमा सुरक्षा बल बीकानेर के मार्गदर्शन में किया गया। विदित हो कि सीमा दर्शन चौकी साचुं की लोकप्रियता दिन प्रतिदिन देश के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले आम नागरिकों के छात्रों के बीच बढ़ती जा रही है।

एमडीकेवी में प्राधिकृत नियंत्रक नियुक्त, प्रबंध समिति हुई निष्क्रिय

कालेज स्टाफ के दो माह से रुके वेतन का रास्ता हुआ साफ

प्राधिकृत नियंत्रक कालेज पहुंचे, प्रवक्ता शोभा वर्मा थीं अनुपस्थित

प्राधिकृत नियंत्रक ने प्रधानाचार्या कक्ष पर लगे ताले को किया सील

नजीबाबाद। मूर्ति देवी कन्या इंटर कालेज नजीबाबाद के प्रबंधक द्वारा चयनित प्रधानाचार्या सुनीता चौधरी के हस्ताक्षर‌ वाले वेतन बिल पर हस्ताक्षर न करने से उपजी वेतन समस्या का समाधान हो गया। जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर की संस्तुति पर जेडी मुरादाबाद ने वेतन वितरण अधिनियम के तहत प्राधिकृत नियंत्रक नियुक्त कर दिया, जिससे कालेज की प्रबंध समिति निष्क्रिय हो गयी। मूर्ति देवी कन्या इंटर कालेज नजीबाबाद में माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड प्रयागराज ने इसी विद्यालय की अर्थशास्त्र प्रवक्ता सुनीता चौधरी को प्रधानाचार्या पद पर चयन किया। लेकिन प्रबंधक नीरज जैन ने विद्यालय को अल्पसंख्यक संस्था बताकर चयनित प्रधानाचार्या को कार्यभार ग्रहण नहीं कराया था। जिला विद्यालय निरीक्षक ने प्रबंधक को सुनीता चौधरी को कार्यभार ग्रहण कराने का अंतिम नोटिस जारी किया लेकिन प्रबंधक ने कार्यभार ग्रहण नहीं कराया तब जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर रामाज्ञा कुमार ने 14अक्टूबर 2022 को अपने कार्यालय में सुनीता चौधरी को प्रधानाचार्या पद का कार्यभार ग्रहण करा दिया। जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर ने पृथक से स्टाफ की उपस्थिति पंजिका प्रमाणित कर स्टाफ को हस्ताक्षर करने के निर्देश दिए लेकिन कार्यवाहक प्रधानाचार्या शोभा वर्मा ने प्रबंधक की तरह सुनीता चौधरी को प्रधानाचार्या स्वीकार नहीं किया। जिला विद्यालय निरीक्षक ने अक्टूबर माह का वेतन सुनीता चौधरी के हस्ताक्षर‌ से बनवाकर प्रबंधक को हस्ताक्षर कर वेतन बिल प्रस्तुत करने के निर्देश दिए लेकिन प्रबंधक ने सुनीता चौधरी के साथ वेतन बिल पर हस्ताक्षर करने से इंकार कर दिया, जिससे कालेज के स्टाफ को अक्टूबर व नबम्बर का वेतन नहीं मिला। कालेज की प्रधानाचार्या व स्टाफ ने जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर से भेंट कर वेतन दिलाने की मांग की थी। जिला विद्यालय निरीक्षक ने स्टाफ के वेतन व प्रबंधक के असहयोग के चलते संयुक्त शिक्षा निदेशक मुरादाबाद को वेतन समस्या से अवगत कराते हुए प्रबंध समिति को निष्क्रिय कर प्राधिकृत नियंत्रक नियुक्त करने की संस्तुति की। संयुक्त शिक्षा निदेशक मुरादाबाद ने जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर की संस्तुति पर राजकीय हाई स्कूल मुनव्वर सैद के प्रधानाचार्य डा निशांत यादव को प्राधिकृत नियंत्रक नियुक्त कर दिया। जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर ने प्राधिकृत नियंत्रक के हस्ताक्षर प्रमाणित कर दिया। प्राधिकृत नियंत्रक निशांत यादव तीन दिसम्बर को दोपहर दो बजे कालेज पहुंचे तो पूर्व कार्यवाहक प्रधानाचार्या/प्रवक्ता शोभा वर्मा अनुपस्थिति मिली तथा अनाधिकृत रूप से प्रधानाचार्या कक्ष का ताला लगा कर गायब हो गई। पता चला कि प्राधिकृत नियंत्रक ने प्रधानाचार्या कक्ष को सील कर दिया। जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर द्वारा कालेज का प्राधिकृत नियंत्रक नियुक्त करने के बाद अक्टूबर माह के वेतन बिल पर सुनीता चौधरी व प्राधिकृत नियंत्रक के हस्ताक्षर होने व नबम्बर माह का वेतन बिल बन जाने के बाद अब कालेज के स्टाफ को वेतन मिलने का रास्ता साफ हो गया। उधर प्रधानाचार्या सुनीता ने जिला विद्यालय निरीक्षक बिजनौर, संयुक्त शिक्षा निदेशक व प्राधिकृत नियंत्रक से प्रधानाचार्या का समस्त कार्यभार ग्रहण कराने की मांग की है।

संयुक्त शिक्षा

आबकारी इंस्पेक्टर ने देर रात्रि तक चलाया सघन चेकिंग अभियान

आबकारी इंस्पेक्टर उपेन्द्र कुमार शुक्ला ने देर रात्रि तक चलाया सघन चेकिंग अभियान

अफजलगढ। आगामी चुनाव के मद्देनजर आबकारी इंस्पेक्टर ने अपनी टीम के साथ अफजलगढ़ व रेहड़ थाना क्षेत्र की सभी दुकानों पर देर रात्रि तक सघन चेकिंग अभियान चलाया। आगामी चुनाव के मद्देनजर आबकारी इंस्पेक्टर उपेन्द्र शुक्ला ने अपनी टीम के साथ अफजलगढ़ नगर सहित क्षेत्र की दुकानों की जांच की। आबकारी इंस्पेक्टर उपेन्द्र कुमार शुक्ला ने बताया कि किसी भी कीमत पर किसी भी दुकान पर कोई भी गड़बड़ी नहीं करने दी जाएगी और ना ही कहीं भी ओवररेटिंग करने दी जाएगी। अगर कोई भी ओवररेटिंग करता पाया गया तो उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। इस मौके पर आबकारी इंस्पेक्टर उपेन्द्र कुमार शुक्ला सिपाही राहुल कुमार सिपाही ईमानदार सिंह आदि मौजूद रहे।

एसडीएम सीओ ने किया बूथों का निरीक्षण

एसडीएम सीओ ने किया बूथों का निरीक्षण

बिजनौर। आसन्न निकाय चुनाव को देखते हुए पुलिस प्रशासन मुस्तैद और गंभीर है। इसी क्रम में क्षेत्राधिकारी नगर अनिल कुमार  सिंह व एसडीएम सदर बिजनौर द्वारा कस्बा झालू व कस्बा हल्दौर के समस्त बूथों का निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होंने सम्बन्धित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

विशाल कम्बोज को मिली व्यापारी सुरक्षा फोरम में जिम्मेदारी

विशाल कम्बोज को मिली व्यापारी सुरक्षा फोरम में जिम्मेदारी

बिजनौर। व्यापारी सुरक्षा फोरम की सदस्यता अभियान को जारी रखते हुए नवीन ईकाई की घोषणा की गई। कम्बोज बिल्डिंग मटीरियल पर संपन्न हुई बैठक का संचालन जिला मंत्री राहुल वर्मा ने किया ओर अध्यक्षता अनिल कम्बोज वरिष्ठ व्यापारी नेता व समाजसेवी ने की। कम्बोज परिवार पिछले कई वर्षो से व्यापार मंडल मे सक्रिय है। अनिल कम्बोज पहले भी व्यापार मंडल मे नगर अध्यक्ष रहे चुके हैं उनकी सक्रियता को देखते हुए उनके पुत्र विशाल कम्बोज को संगठन का रामलीला चौराहे का अध्यक्ष मनोनीत किया। साथ ही आकाश कम्बोज को संघठन का मंत्री मनोनीत किया गया।

संगठन के द्वारा राजीव कम्बोज को महामन्त्री हर्षवर्धन शर्मा, सौहित चौधरी, राईस अहमद, राहुल गुप्ता, मौ,अमजद, नीरज वर्मा को संगठन का सदस्य मनोनीत किया गया। इस अवसर पर अनिल कम्बोज ने कहा कि संगठन के लिए दिन रात तन मन धन से तैयार रहेंगे। अनिल कम्बोज पहले भी व्यापरियों की लड़ाई लड़ते आये हैं।
बैठक में जिला अध्यक्ष राजकुमार गोयल, जिला संगठन मंत्री प्रदीप अग्रवाल, जिला मंत्री राहुल वर्मा, राहुल राणा आदि व्यापारी उपस्थित रहे।

अग्नि सुरक्षा के सम्बन्ध में अभियान चलाया

अग्नि सुरक्षा के सम्बन्ध में अभियान चलाया

बिजनौर पुलिस महानिदेशक, फायर सर्विस उत्तर प्रदेश लखनऊ के आदेशानुसार पुलिस अधीक्षक जनपद बिजनौर के निर्देशन में अजय कुमार शर्मा, मुख्य अग्निशमन अधिकारी के नेतृत्व में समस्त प्रभारी अग्निशमन केन्द्रों द्वारा स्कीम नंबर-03 एवं 06 के अंतर्गत जनपद बिजनौर के हॉस्पिटल /नर्सिंग होम एवं होटल का फायर ऑडिट, मॉक ड्रिल अग्नि सुरक्षा, इवेकुवेशन एवं अग्नि सुरक्षा के सम्बन्ध में अभियान चलाया गया। इनमें नजीबाबाद के मेट्रो हॉस्पिटल हरिद्वार रोड, कुंदीर हॉस्पिटल, आजाद हॉस्पिटल आजाद मार्केट, ईवा हॉस्पिटल हरिद्वार रोड, आरोग्य हॉस्पिटल हरिद्वार रोड नजीबाबाद। नगीना में नगीना इंटरनेशनल हैंडीक्राफ्ट नूरसराय, रामल वुडक्राफ्ट काजी सराय, फरहान हैंडीक्राफ्ट अकबराबाद रोड, हुमा वुड आर्ट इंडस्ट्रियल एरिया आजाद कॉलोनी नगीना। बिजनौर में कैलाशवती मेमोरियल हॉस्पिटल जजी चौक, सुपर वेदांता हॉस्पिटल ट्रामा सेंटर नजीबाबाद रोड, सुभाती हॉस्पिटल नजीबाबाद रोड, अग्रवाल गैस्ट्रो एंड लिवर क्लिनिक नजीबाबाद रोड, बलदेव मेमोरियल क्लिनिक नजीबाबाद रोड, लाइफ केयर क्लिनिक नजीबाबाद रोड, देव क्लिनिक नजीबाबाद रोड, वेव शुगर मिल नगीना रोड, मून स्टार इंडस्ट्रीज चांदपुर रोड, शिप्रा होटल सिविल लाइन, श्री साईं गेस्ट हाउस सिविल लाइन के अलावा धामपुर में शुगर मिल मुरादाबाद रोड, श्री साईं ट्रैक्टर्स कालागढ़ रोड, भारत ट्रैक्टर्स कालागढ़ रोड और देवेंद्र बजाज नगीना रोड शामिल हैं।

कोर्ट के आदेश पर चेयरपर्सन, सभासद, दरोगा सहित 9 के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज

कोर्ट के आदेश पर चेयरपर्सन, नामित सभासद, दरोगा सहित 9 के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज
– नहटौर के पूर्व कस्बा इंचार्ज सहित 4 पुलिसकर्मियों पर भी रिपोर्ट दर्ज।
– पीड़ित ने सीजीएम के यहां दर्ज कराई थी शिकायत

नहटौर। सीजेएम साबिर अली ने धोखाधड़ी से कम किरायेदारी पर दुकान आवंटित कर गबन करने तथा नगर पालिका परिषद को नुकसान पहुंचाए जाने के मामले में पुलिस ने चेयरपर्सन फिरोजा खातून, पुत्र इजहार उर्फ राजा अंसारी, भाजपा के पूर्व नगर अध्यक्ष व नामित सभासद वैभव गोयल, दरोगा सहित नौ लोगों के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करके कार्रवाई शुरू कर दी है।
मोहम्मद साबिर निवासी मोहल्ला हकीमान थाना नहटौर ने सीजेएम के यहां दिए गए प्रार्थना पत्र में अवगत कराया कि वर्ष 2017 में एक दुकान ₹11000 प्रति माह के हिसाब से आवंटित की गई थी। नगर पालिका ने 70 हजार रुपए की धनराशि वादी से प्राप्त करके उसके हक में कर दी थी। साथ ही किरायेदारी की रसीद जारी कर दी थी। आरोप है कि प्रार्थी ने दुकान खोलने की तैयारी शुरू की ही थी कि चेयरपर्सन व उसके पुत्र इजहार उर्फ राजा अंसारी ने मार्च 2021 को किरायेदारी जारी रखने के लिए 4 लाख रुपए मांगे, ना देने पर उक्त दुकान को किसी और के नाम आवंटित करने की धमकी दी। धनराशि ना देने पर चेयरपर्सन व उसके पुत्र ने चक्षु गोयल के नाम दुकान आवंटित करके गबन किया और पालिका को नुकसान पहुंचाया। यह भी आरोप है कि 28 जुलाई 2022 को आरोपी चक्षु गोयल, वैभव गोयल, रमन गोयल व उपनिरीक्षक बबलू सिंह मय फोर्स के उसकी दुकान पहुंचे और गाली गलौज, मारपीट की तथा सामान फेंक दिया। इस मामले में वादी ने पुलिस को अवगत कराया। पुलिस द्वारा कार्रवाई न करने पर सीजेएम के यहां प्रार्थना पत्र दिया। सीजेएम ने प्रार्थना पत्र के आधार पर कार्रवाई करने का आदेश जारी कर दिया। पुलिस ने चेयरपर्सन फिरोजा खातून चेयरपर्सन पुत्र इजहार उर्फ राजा अंसारी, चक्षु गोयल, वैभव गोयल, रमन गोयल, दरोगा बबलू सिंह, सिपाही बिट्टू, प्रदीप, सुनील के खिलाफ मुकदमा पंजीकृत करके कार्रवाई शुरू कर दी है। कोतवाल पंकज तोमर ने बताया कि न्यायालय के आदेश पर मुकदमा पंजीकृत करके कार्रवाई शुरू कर दी है।

अपनी झोली भरने के लिए किया काम
नहटौर। भाजपा नेताओं की विपक्ष नेताओं के साथ मिलीभगत उजागर हो गई है। पुलिस द्वारा दर्ज की गई रिपोर्ट से साबित हो गया है कि भाजपा के नामित सभासद वैभव गोयल और गैर भाजपाई चेयरपर्सन फिरोजा खातून द्वारा विकास कार्यों में मिलीभगत करके काफी गोलमाल किया गया। शासन की ओर से नामित सभासद बनाकर जनहित में कार्य करने की उम्मीद की गई थी लेकिन भाजपा सभासद द्वारा निजी हित में कार्य किया गया और जमकर अपनी झोली भरी गई।

अनूठा अभियान: नव दम्पति को “आँखें” के संरक्षक ने भेंट किया पौधा

विवाह के पवित्र बन्धन में बन्धे नव दम्पति को “आँखें” के संरक्षक ने भेंट किया पौधा।

विवाह संस्कार के दौरान चलाया जा रहा पौधा रोपण संस्कार अभियान

शादी की प्रत्येक वर्षगाँठ पर पौधा रोपण करने का संकल्प

मेरठ। वृक्षों के अंधाधुंध कटान से पर्यावरण प्रदूषित हो रहा है। पारिस्थितिक चक्र में आए असंतुलन से जन जीवन प्रभावित हो रहा है। विश्व भर में सरकारें पर्यावरण संरक्षण पर जोर दे रही हैं। हमारे देश में भी विभिन्न योजनाएं संचालित कर पौधारोपण अभियान चलाया जा रहा है, लेकिन यह जिम्मेदारी सिर्फ सरकारों की ही नहीं है। आमजन को भी स्वेच्छा से इस के प्रति जागरूक होना होगा। कुछ इसी तर्ज पर सामाजिक संस्था “आँखें” द्वारा विवाह संस्कार में पौधा रोपण संस्कार अभियान चलाया जा रहा है।

इसी अभियान के तहत ग्राम राली चौहान में सनातन पद्धति से सम्पन्न हुए शादी समारोह में सामाजिक संस्था “आँखें” द्वारा विवाह संस्कार में पौधा रोपण संस्कार संपन्न कराया गया। “आँखें” के संरक्षक पूर्वी और विकास बड़गुर्जर ने शादी के पवित्र बन्धन में बन्धे नवदम्पति अनन्या सुपुत्री सतपाल निवासी राली चौहान (मेरठ) एवं सुनील कुमार सुपुत्र वीरपाल सिंह निवासी पिचौकरा (बागपत) को पौधा भेंट किया। साथ ही शादी की प्रत्येक वर्षगाँठ पर पौधा रोपण करने का संकल्प भी दिलाया। पौधा प्राप्त कर एवं पौधा रोपण का संकल्प लेकर उत्साहित नव दम्पति ने कहा कि वह पर्यावरण के प्रति सजगता का संकल्प लेकर अत्यन्त आन्नद की अनुभूति कर रहे हैं।

समाजसेवी विकास बड़गुर्जर ने कहा कि वृक्षों के अंधाधुंध कटान से वातावरण अत्यन्त प्रभावित है। मौसम चक्र में असंतुलन है, जो भविष्य के लिए शुभ संकेत नहीं है। पृथ्वी पर उत्पन्न होने वाले भावी संकट के समाधान के लिए पौधा रोपण अत्यंत आवश्यक है।
इस अवसर पर पूर्वी, अमित कुमार, गीता, रचना, प्रदीप, अमित, मदन सैन, सुविष कुमार, प्रवेश कुमार आदि उपस्थित रहे।

यूपी में 16 सीनियर आईपीएस के तबादले

यूपी में 16 सीनियर आईपीएस के तबादले

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में 16 आईपीएस अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। गाजियाबाद, आगरा और प्रयागराज में तीन नए कमिश्नरेट में सोमवार को पुलिस आयुक्तों की नियुक्ति कर दी गई है। सोमवार रात जारी एक शासकीय आदेश में यह जानकारी दी गई. आदेश के अनुसार अजय मिश्रा, डा. प्रीतिंदर सिंह और रमित शर्मा को क्रमश: गाजियाबाद, आगरा तथा प्रयागराज का पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया है। अजय मिश्रा डीजीपी मुख्यालय में प्रतीक्षारत थे। डा. प्रीतिंदर सिंह पुलिस महानिरीक्षक कारागार प्रशासन लखनऊ, जबकि रमित शर्मा आईजी बरेली के पद पर थे।
गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के पुलिस आयुक्त आलोक सिंह समेत भारतीय पुलिस सेवा (आईपीएस) के कुछ अधिकारियों का तबादला भी किया गया है। आदेश के अनुसार आलोक सिंह का तबादला लखनऊ स्थित पुलिस महानिदेशक कार्यालय में अपर पुलिस महानिदेशक के रूप में किया गया है। उनकी जगह लखनऊ परिक्षेत्र में पुलिस महानिरीक्षक के रूप में पदस्थ लक्ष्मी सिंह को नोएडा का नया पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया है। इसी तरह अशोक मुथा जैन को वाराणसी का नया पुलिस आयुक्त नियुक्त किया गया है। सचिव गृह उत्तर प्रदेश शासन तरुण गाबा को पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ की जिम्मेदारी सौंपी गई है। पुलिस महानिरीक्षक प्रयागराज डा. राकेश सिंह को इसी पद पर बरेली भेजा गया है। आईजी एसएसएफ लखनऊ चंद्रप्रकाश (द्वितीय) को आईजी प्रयागराज बनाया गया है। एसएसपी अयोध्या प्रशांत वर्मा को एसपी बहराइच के पद पर भेजा गया है, जबकि यहां से केशव कुमार चौधरी को अपर पुलिस आयुक्त/पुलिस आयुक्त आगरा के पद पर भेजा गया है। एसएसपी प्रयागराज शैलेश पांडे अब मथुरा की जिम्मेदारी संभालेंगे। एसएसपी मथुरा अभिषेक यादव को एसपी अभिसूचना मुख्यालय लखनऊ बनाया गया है। एसएसपी आगरा प्रभाकर चौधरी को सेना नायक 11वीं वाहिनी पीएसी सीतापुर बनाया गया है।

नगर पंचायत मंडावर में करोड़ों का घोटाला किया “शान से”…!

नगर पंचायत मंडावर में शान से हुआ करोड़ों का घोटाला!

तत्कालीन डीएम, सीडीओ, चार ईओ और तीन ठेकेदारों पर गंभीर आरोप

सपा से चेयरमैन आशिफ उर्फ “शान” के कार्यकाल सन 2012 से 17 के बीच का मामला

अंत्येष्टि स्थल, कान्हा पशु आश्रय स्थल और प्रकाश पब्लिक स्कूल से मंडी समिति तक इंटर लॉकिंग की जगह पक्की सड़क निर्माण में घपले की हुई शिकायत

अफसरशाही में दब कर रह गई शिकायतकर्ता की आवाज़

बिजनौर। नगर पंचायत मण्डावर के द्वारा कराए गए कार्यों में करोड़ों रुपए के घोटाले का मामला प्रकाश में आया है। यह मामला समाजवादी पार्टी के नेता और सभासद की पत्नी के कार्यकाल सन 2012 से 17 तक के बीच का बताया गया है। खास बात यह है कि इसमें तत्कालीन जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, चार अधिशासी अधिकारियों और तीन ठेकेदारों की शिकायत मुख्यमंत्री से करते हुए सीबीआई जांच की मांग शिकायतकर्ता ने की है। मामला अंत्येष्टि स्थल, कान्हा पशु आश्रय स्थल के निर्माण और प्रकाश पब्लिक स्कूल से मंडी समिति तक इंटर लॉकिंग की जगह पक्की सड़क निर्माण से जुड़ा हुआ है। इन सभी में घोर अनियमितता कर शासन को कई करोड़ रुपए के राजस्व की क्षति पहुंचाई गई।

जानकारी के अनुसार एक शिकायतकर्ता द्वारा मुख्यमंत्री को दिनांक 02 फरवरी 2019 एवं भाजपा सांसद भारतेन्द्र सिंह को अवगत कराया गया कि समाजवादी पार्टी के नेता और सभासद की पत्नी के कार्यकाल सन 2012 से 17 तक के बीच घोटालों और अनियमितताओं की जांच को दबाया जा रहा है! शिकायतकर्ता ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर आनलाईन शिकायत कर कहा कि अंत्येष्टि स्थल का अधूरा निर्माण पीडब्लूडीए के द्वारा एक करोड़ 22 लाख रुपए में कराया गया। रोड पर साईड पटरी के नाम पर अवैध रूप से 5 करोड़ 87 लाख 97 हजार रुपए का कार्य तीन ठेकेदारों संजीव मदान निवासी सिविल लाइंस बिजनौर, शौकीन शाह निवासी ग्राम गजरौला शिव और अमित कुमार निवासी मोहल्ला जाटान बिजनौर ने कराया। यही नहीं कान्हा पशु आश्रय स्थल में भी उक्त ठेकेदारों ने शाह विलायत मण्डावर मोहम्मदपुर देवमल रोड बनाया। इसमें भी लाख रुपए का घोटाला किया गया। गंभीर आरोप ये है कि इस पूरे प्रकरण में समाजवादी पार्टी सरकार के कार्यकाल में रहे डीएम जगत राज तथा मुख्य विकास अधिकारी इन्द्रमणि त्रिपाठी को व्यक्तिगत लाभ पहुंचाया गया। शिकायतकर्ता ने मामले की जांच सीबीआई से करने का अनुरोध किया। यह भी अवगत कराया कि अधिशासी अधिकारी गार्गी त्यागी ने भुगतान राशि में करोड़ों रुपए के जीएसटी, इनकम टैक्स की कोई जानकारी नहीं दी, जिसमें ठेकेदारों को लाभ पहुंचाया गया है। इन सभी ठेकेदारों को जीएसटी, इनकम टैक्स काटकर कितना भुगतान किया गया इसकी कोई जानकारी नहीं दी गई। यह सब कुछ शासन में बैठे अधिकारियों के कारण हुआ है, जिनको मोटी रिश्वत देकर शिकायत दबा ली जाती है।

आरोपों के क्रम में बताया कि नगर पंचायत मण्डावर में रहे पूर्व अधिशासी अधिकारी बिजेन्द्र पाल सिंह, सीमा रानी वर्मा, संदीप कुमार एवं मौजूदा ईओ गार्गी त्यागी, जो कि कोतवाली ब्लॉक में कार्यरत हैं। ईओ ने करोड़ों रुपए के गबन की शिकायत को छह माह तक दबाए रखा तथा शासन को गुमराह किया। डेढ़ वर्ष बीतने के बावजूद शासन को सही सूचना नहीं दी। ईओ मण्डावर गार्गी त्यागी ने फर्जी बोर्ड प्रस्ताव कर दिनांक 19 मार्च 2019 को नया सवेरा योजना में एक करोड़ 10 लाख 51 हजार 855 रुपए निकाल दिये, जिससे रिश्वत देने तथा नेताओं द्वारा जांच को दबाने में कामयाब हो गई। सूचना अधिकार अधिनियम द्वारा मांगी गई जानकारी में सम्बन्धित पत्रावली की कोई जानकारी नहीं दी गई। यह भी आरोप लगाया कि इसके अलावा भी जो ठेकेदार सपा सरकार में रहे, वो ही आज तक कार्य कर रहे हैं तथा चेयरमैन को लाभ पहुचाते हैं। नगर पंचायत मण्डावर में जल निगम द्वारा पूर्व में किए गए बोरिंग को भी मेन लाईन से नहीं जोड़ा गया, इस कारण पानी की समस्या आती रहती है। इस कार्य में भी लाखों रुपए का गबन किया गया। किसी भी शिकायत का कोई समाधान नहीं किया गया है। तत्कालीन जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डे ने इसी शिकायत से सम्बन्धित पत्रांक सं0-3092 विषेश सचिव अनुभाग-1 लखनऊ दिनांक 26 फरवरी 2020 को भेज दिया था। इसकी जांच सीबीआई से कराई जानी अति आवश्यक है।

कहानी अभी बाकी है…

तालाब कब्जाने वाले दबंगों ने बरपाया महिला प्रधान पर कहर

तालाब कब्जाने वाले दबंगों ने बरपाया महिला प्रधान पर कहर

तालाब से दबंगों का कब्जा हटवाया तो घर में घुस कर पीटा, जान की धमकी

पुलिस ने नहीं की कार्रवाई तो लेनी पड़ी न्यायालय की शरण

अमरोहा। सरकार की मंशानुरूप कानून का पालन कराना वाल्मीकि महिला ग्राम प्रधान को भारी पड़ गया। ग्राम पंचायत के तालाब पर कब्जा करने वाले दबंगों ने घर में घुस कर प्रधान को गालियां देते हुए पीटा और इज्जत उतारने की कोशिश भी की। शोर सुनकर पहुंचे लोगों के सामने आरोपी जान से मारने की धमकी देते हुए फरार हो गए। रही सही कसर थाना पुलिस ने पूरी कर दी। शिकायत के बावजूद रिपोर्ट दर्ज न होने पर पीड़ित महिला प्रधान को न्यायालय की शरण लेनी पड़ी।

जनपद अमरोहा के थाना रहरा अंतर्गत ग्राम जयतौली की ग्राम प्रधान श्रीमती रजनी पत्नी नाजिम ने बताया कि वह वाल्मीकि जाति से है और सरकार की मंशानुरूप अपने कर्तव्य का निर्वहन कर रही है। आरोप है कि ग्राम जयतौली के ही इशरत पुत्र जाफर अली, वसी पुत्र साबिर अली, रिफाकत पुत्र नजाकत और ग्राम शकरगढ़ी के कदीम पुत्र खलील अहमद ने गांव के तालाब पर कब्जा किया हुआ है। प्रधान श्रीमती रजनी के अनुसार उसने प्रशासनिक स्तर पर अवैध कब्जे के विरुद्ध कार्यवाही की। इस बात को लेकर उक्त चारों आरोपी उससे रंजिश रखते हैं।

दिनांक 19 अक्तूबर 2022 को शाम करीब 6 बजे वह अपने घर पर घरेलू कार्य कर रही थी। तभी अचानक इशरत, वसी, रिफाकत व कदीम नाजायज़ हथियारों से लैस होकर उसके घर में जबरदस्ती घुस आए और गाली गलौच करते हुए पिटाई की और उसके कपड़े फाड़ दिये। शोर मचाने पर पहुंचे गाँव के नौशाद पुत्र एवज, फरमान पुत्र चन्दा व अन्य काफी लोगों ने चारों आरोपियों को घर से निकाला। जाते समय प्रधान को धमकी देते गए कि अगर तालाब से उनका कब्जा हटवाया तो जान से मार देंगे। पीड़ित महिला प्रधान ने घटना की सूचना थाना पुलिस को दी, लेकिन पुलिस के द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई। अगले दिन पुलिस अधीक्षक अमरोहा को भी शिकायती पत्र दिया गया लेकिन फिर भी कोई कार्यवाही नहीं हुई। इस पर मजबूर होकर पीड़िता ने न्यायालय की शरण ली। अब कहीं जाकर कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

“टुंडे कबाब” के मालिक हाजी रईस का निधन, शोक में बंद रहेंगी सभी दुकानें

मशहूर टुंडे कबाब की दुकान के मालिक हाजी रईस का निधन, शोक में बंद रहेंगी सभी दुकानें
by Young Bharat

लखनऊ। राजधानी की पहचान 125 साल पुरानी टुंडे कबाबी के मालिक हाजी रईस के इंतकाल के कारण शोक में सभी दुकानें आज रविवार को बंद रहेंगी।

बड़े बेटे उस्मान ने बताया कि हाजी रईस अहमद का शुक्रवार दोपहर इंतकाल हो गया। 88 वर्षीय हाजी रईस को दोपहर लगभग 3.30 बजे हार्ट अटैक पड़ा और उनका निधन हो गया। शनिवार को ऐशबाग कब्रिस्तान में उनका दफीना किया गया।
उनके परिवार में छोटे बेटे रिजवान के अलावा उनका भरा-पूरा परिवार है। निधन पर कई संभ्रांत लोगों ने अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं। इस शोक में शहर की टुंडे कबाब की सभी दुकानें रविवार को बंद रहेंगी।
टुंडे कबाब की दुकान करीब 125 साल पुरानी है।

07 दिसम्बर से कृषि यन्त्रों पर अनुदान हेतु करें आवेदन

07 दिसम्बर से कृषि यन्त्रों पर अनुदान हेतु करें आवेदन

बिजनौर। उप कृषि निदेशक गिरीश चन्द ने जनपद बिजनौर के कृषक भाइयों को अवगत करते हुए बताया कि कृषि विभाग द्वारा विभिन्न प्रकार के कृषि यन्त्रों को अनुदान पर प्राप्त करने के लिए दिनांक 07 दिसम्बर,2022 को पूर्वान्ह 11ः00 बजे से बुकिंग प्रारम्भ की जा रही है। यन्त्रों की बुकिंग हेतु विभागीय पारदर्शी किसान सेवा योजना पोर्टल पर ऑनलाइन स्वयं अथवा जनसेवा केन्द्र से बुकिंग करते हुए टोकन जनरेट करने के उपरान्त निर्धारित जमानत धनराशि को आनलाइन या ऑफलाइन चालान के माध्यम से निर्धारित समय सीमा के अन्तर्गत अपने नजदीकी यूनियन बैंक की किसी भी शाखा में जमा कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि किसान भाई पोर्टल पर उपलब्ध निर्माता कम्पनी/ अधिकृत विक्रेताओं से ही अनिवार्य रूप से कृषि यन्त्र का क्रय करें। उन्होंने बताया कि रुपए 10 हजार तक के अनुदान वाले कृषि यन्त्रों हेतु जमानत धनराशि शून्य है। रुपए 10001 से रुपए 01 लाख तक के अनुदान वाले कृषि यन्त्रों हेतु जमानत धनराशि रुपए 2500 है तथा रुपए 1,00,001 से अधिक अनुदान वाले कृषि यन्त्रों हेतु जमानत धनराशि रुपए 5000 शासन द्वारा निर्धारित है। इससे सम्बन्धित अन्य जानकारी के लिए कृषक भाई कार्यालय उप कृषि निदेशक, बिजनौर में सम्पर्क कर सकते हैं।

31 शिकायती व प्रार्थना पत्र में से 02 का मौके पर ही निस्तारण

31 शिकायती व प्रार्थना पत्र में से 02 का मौके पर ही निस्तारण

प्राप्त शिकायतों का निस्तारण पूर्ण गुणवत्ता व समयबद्वता के साथ करना सुनिश्चित करें- उपजिलाधिकारी नजीबाबाद विजय वर्धन तोमर

बिजनौर। तहसील नजीबाबाद में आयोजित सम्पूर्ण समाधान दिवस का आयोजन जिलाधिकारी के निर्देश पर उपजिलाधिकारी नजीबाबाद विजय वर्धन तोमर की अध्यक्षता में सम्पन्न हुआ। उपजिलाधिकारी ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का निस्तारण पूर्ण गुणवत्ता व समयबद्वता के साथ करना सुनिश्चित करें तथा आगामी तहसील दिवस से पूर्व सभी शिकायतों का निस्तारण पूर्ण मानक के अनुसार कर लिया जाए और कोई भी शिकायत लंबित न रहने पाए। इस अवसर पर 31 शिकायती व प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें से 02 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया।

उपजिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि यदि किसी शिकायत का निस्तारण किया जाना सम्भव नहीं है तो उसका स्पष्ट कारण लिखते हुए शिकायतकर्ता को अवगत कराया जाए ताकि वे अपनी शिकायत को पुनः प्रेषित न करे। साथ ही निर्देश दिये कि वर्तमान और लम्बित शिकायतों का निस्तारण पूर्ण गुणवत्ता के साथ सुनिश्चित करें।

सम्पूर्ण समाधान दिवस के अवसर पर चकरोड पर अवैध कब्जा हटाने, पेंशन योजना का लाभ दिलाने, आवास दिलाने सहित कुल 31 शिकायती व प्रार्थना पत्र प्राप्त हुए, जिसमें से 02 का मौके पर ही निस्तारण कर दिया गया तथा शेष के गुणवत्तापरक ढंग से समयसीमा के अन्तर्गत निस्तारण करने के संबंधित अधिकारी को निर्देश दिये गये। प्राप्त शिकायती व प्रार्थना पत्रों में राजस्व विभाग की 13, पुलिस विभाग की 09, विकास विभाग की 02 व अन्य विभागों की संख्या 07 है।

इस अवसर पर उपजिलाधिकारी न्यायायिक रितु चौधरी, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 विजय कुमार गोयल, तहसीलदार कमलेश कुमार सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।

19 दिसम्बर तक दर्ज कराएं विवाह के रजिस्ट्रीकरण के सम्बन्ध में आपत्ति

19 दिसम्बर तक दर्ज कराएं विवाह के रजिस्ट्रीकरण के सम्बन्ध में आपत्ति

19 दिसम्बर तक दें विशेष विवाह अधिनियम अर्न्तगत विवाह के रजिस्ट्रीकरण हेतु आपत्ति व साक्ष्य

बिजनौर। विशेष विवाह अधिकारी/अपर जिलाधिकारी वि०रा० अरविन्द कुमार सिंह ने बताया कि अर्जुन पुत्र धर्मी निवासी सलेमपुर मथवा थाना कोतवाली शहर बनाम शिवानी पुत्री अशोक कुमार निवासी मौ० पीरजानगान कस्बा झालू थाना हल्दौर द्वारा विशेष विवाह अधिनियम-1954 के अर्न्तगत विवाह के रजिस्ट्रीकरण हेतु न्यायालय के समक्ष प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया है।

उन्होंने सर्वसाधारण को सूचित करते हुए बताया कि उक्त विवाह के रजिस्ट्रीकरण के सम्बन्ध में यदि किसी व्यक्ति को कोई आपत्ति हो तो वह नियत दिनांक 19 दिसम्बर 2022 से पूर्व/तक किसी भी कार्य दिवस में न्यायालय में उपस्थित होकर अपनी आपत्ति/साक्ष्य प्रस्तुत कर सकता हैं। नियत तिथि के बाद किसी भी आपत्ति पर कोई विचार नहीं किया जायेगा।

आज प्रत्येक मतदेय स्थल पर होगा विशेष कैम्प का आयोजन

आज प्रत्येक मतदेय स्थल पर होगा विशेष कैम्प का आयोजन, उठाएं लाभ

08 दिसम्बर तक विधान सभा निर्वाचक नामावली मेें नाम सम्मिलित करने हेतु करें आवेदन

बिजनौर। अपर जिलाधिकारी (वि0रा0)/ उप जिला निर्वाचन अधिकारी अरविन्द कुमार सिंह ने सर्वसाधारण को सूचित करते हुए बताया कि भारत निर्वाचन आयोग, नई दिल्ली एवं मुख्य निर्वाचन अधिकारी, उ0प्र0 लखनऊ के दिशा निर्देशानुसार अर्हता दिनांक 01 जनवरी, 2023 के आधार पर विधान सभा की निर्वाचक नामावलियों का आलेख्य प्रकाशन दिनांक 09 नवम्बर, 2022 को किया जा चुका है तथा दिनांक 09 नवम्बर, 2022 से दिनांक 08 दिसम्बर, 2022 के मध्य दावे और आपत्तियां प्राप्त करने के निर्देश दिये गये है दिनांक 04 दिसम्बर,2022 (रविवार) को विशेष कैम्प का आयोजन प्रत्येक मतदेय स्थल पर किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि प्राप्त निर्देशों के अनुसार अर्हक तारीख के संदर्भ में, नामावली में किसी भी अर्ह व्यक्ति का नाम सम्मिलित किए जाने के लिए कोई दावा या किसी नाम के सम्मिलित किए जाने हेतु या किसी प्रविष्टि की विशिष्टयों की बाबत कोई आक्षेप किया जाता है तो वह 08दिसम्बर 2022 को या उससे पूर्व प्ररूप-6, 6क, 7, 8, 8क में से, जो समुचित हो, उस प्ररूप में दाखिल किया जाये।

उन्होंने बताया कि हर ऐसा दावा या आक्षेप निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण कार्यालय में या मतदान स्थल पर उपस्थित पदाभिहित अधिकारियों/ बूथ लेबिल आफिसर या संबंधित निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण कार्यालय के समक्ष पेश किये जा सकते है। जो कि वह उपरोक्त तारीख के अपश्चात् मिल जाए। उक्त के साथ ही एक पात्र नागरिक, जो 2023 वर्ष में पश्चातवर्ती अर्हता तारीखो अर्थात् 01 अप्रैल, 2023, 1 जुलाई, 2023 या 1 अक्टूबर 2023 में से किसी को अठारह वर्ष की आयु प्राप्त करने वाला है, वह भी सूचना की तारीख से, अग्रिम में, प्ररूप 6 में निर्वाचक नामावली में अपना नाम सम्मिलित करने के लिए दावा कर सकता है।

उन्होंने बताया कि उक्त के अतिरिक्त ऑनलाइन फार्म भरने हेतु एनवीएसपी पोर्टल,वीएचए किये जाने की सुविधा भी आयेाग द्वारा प्रदान की गयी है। साथ ही मतदाताओं के सुविधा हेतु आयोग द्वारा मतदाताओं से फोटोयुक्त निर्वाचक नामावलियों में नाम किसी आक्षेप को देने हेतु दिनांक 04 दिसम्बर,2022 (रविवार) को विशेष कैम्प का आयोजन प्रत्येक मतदेय स्थल पर किया जायेगा।

प्रदेश लेवल पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले बच्चे को मिलेगा 25 लाख रुपए का इनाम

प्रदेश लेवल पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले बच्चे को मिलेगा 25 लाख रुपए का इनाम

शिखर शिशु सदन स्कूल में एनुअल स्पोर्ट्स डे कार्यक्रम

बिजनौर। धामपुर के शिखर शिशु सदन स्कूल में एनुअल स्पोर्ट्स डे कार्यक्रम में पहुंचे अंतरराष्ट्रीय वालीबॉल के कप्तान गुरचंद सिंह ने स्पोर्ट्स डे कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में नन्हे-मुन्ने बच्चों ने रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत कर सभी का मन मोह लिया। प्रिंसिपल वीके राणा व स्कूली बच्चों ने कप्तान गुरचद सिंह को फूलों का गुलदस्ता देकर स्वागत किया।

धामपुर क्षेत्र के नहटौर रोड पर शिखर शिशु सदन स्कूल में एनुअल स्पोर्ट्स डे कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में पहुंचे अंतरराष्ट्रीय वॉलीबॉल खिलाड़ी कप्तान गुरचंद सिंह ने स्पोर्ट्स डे कार्यक्रम का शुभारंभ किया। स्कूल के सभी छात्र-छात्राएं प्रतिदिन अपनी कला का प्रदर्शन कर अपनी एक अलग पहचान बनाई। उपजिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह, क्षेत्राधिकारी धामपुर व स्कूल स्टाफ ने चार कबूतर को हवा में आजाद किया। कबूतरों को हवा में आजाद करने का उद्देश्य था कि भारत के सभी नागरिकों को आजादी का एहसास हो। स्कूल के सभी छात्र छात्राओं ने तरह-तरह की खेल प्रतियोगिताओं में अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।

खेल प्रतियोगिता में विजेताओं को मेडल देकर चीफ गेस्ट अंतरराष्ट्रीय वॉलीबॉल के खिलाड़ी कप्तान गुरचंद सिंह ने सम्मानित किया। स्कूल मैनेजर नरेंद्र गुप्ता ने अपने संबोधन में कहा कि खेल प्रतियोगिता में प्रदेश लेवल पर प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले बच्चे को 25 लाख रुपए के इनाम से नवाजा जाएगा। मैनेजर नरेंद्र गुप्ता ने बताया कि बच्चों के साथ उसके अध्यापक को भी 25 लाख रुपए का इनाम दिया जाएगा।

सपा के राष्ट्रीय सचिव बने डा लाखन सिंह पाल

सपा के राष्ट्रीय सचिव बने डा लाखन सिंह पाल

बिजनौर। समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चांदपुर निवासी वरिष्ठ सपा नेता डॉक्टर लाखन सिंह पाल को समाजवादी पार्टी में पदोन्नत करते हुए सपा का राष्ट्रीय सचिव मनोनीत किया है। डॉक्टर लाखन सिंह पाल को समाजवादी पार्टी में उच्च पद पर मनोनीत किए जाने पर असद मियां, दीपचंद पाल, जुल्फिकार धुर्वे आदि ने मुबारकबाद देते हुए अखिलेश यादव का आभार जताया है।

शिवसेना जिलाध्यक्ष चौधरी संजय राणा को पितृ शोक

शिवसेना जिलाध्यक्ष चौधरी संजय राणा को पितृ शोक

अफजलगढ। शिवसेना जिलाध्यक्ष बिजनौर चौधरी संजय राणा के पिता समाजसेवी चौधरी जगदीश सिंह का 87 वर्ष की आयु में लम्बी बीमारी से आज निधन हो जाने से क्षेत्र में शोक की लहर फैल गई। अंतिम संस्कार रविवार को प्रातःकाल 11:00 बजे कालागढ के निकट रामगंगा नदी के निकट श्मशान घाट पर किया जायेगा। सूचना प्राप्त होते ही भारतीय किसान यूनियन के ब्लाॅक अध्यक्ष मदन राणा, मनवीर यादव, राकेश भारद्वाज, रविंद्र सिंह आदि क्षेत्रवासी एवं सुदूर निवासी परिजन, सम्बन्धी शोक संवेदना व्यक्त करने एवं उनकी अंतिम यात्रा में सम्मिलित होने उनके पैतृक निवास मुरलीवाला पहुँचना शुरू हो गये हैं।

पुरानी पेंशन बहाली तक जारी रहेगा संवाद एवं संघर्ष: चंद्रहास सिंह

डॉ रामाशीष सिंह पुण्यतिथि पर अटेवा करेगा 7 दिसंबर को कैंडल मार्च

पुरानी पेंशन बहाली तक जारी रहेगा संवाद एवं संघर्ष: चंद्रहास सिंह

बिजनौर। उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ जनपद शाखा बिजनौर की बैठक जिलाध्यक्ष जयप्रकाश पाल की अध्यक्षता एवं जिला महामंत्री पंकज कटारिया के संचालन में हुई। बैठक का आयोजन अटेवा पेंशन बचाओ मंच के प्रांतीय आह्वान पर डॉ रामाशीष सिंह की पुण्यतिथि पर पुरानी पेंशन बहाली के समर्थन में कैंडल मार्च की सफलता को लेकर किया गया। बैठक को संबोधित करते हुए अटेवा प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रहास सिंह ने कहा कि पुरानी पेंशन शिक्षकों एवं कर्मचारियों का संवैधानिक अधिकार है जिसके लिए शिक्षक कर्मचारी संघर्षरत है। पुरानी पेंशन बहाली के संघर्ष में 7 दिसंबर 2016 को डॉक्टर रामाशीष की शहादत हुई। यह शहादत बेकार नहीं जाएगी। पुरानी पेंशन बहाली तक संघर्ष जारी रहेगा। डॉ रामाशीष सिंह की शहादत की बदौलत पुरानी पेंशन बहाली का संघर्ष देश के प्रत्येक राज्य में व्यापक रूप से चल रहा है। प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के प्रांतीय संगठन मंत्री अश्वनी कुमार ने कहा अटेवा पुरानी पेंशन बहाली के संघर्ष को सफलता के आयाम तक ले जाने का काम कर रहा है। उनके संघर्ष की बदौलत चार राज्यों में पुरानी पेंशन बहाल हुई है। जिला अध्यक्ष जय प्रकाश पाल ने कहा कि अटेवा के संघर्ष में पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के प्रत्येक कर्मचारी की सहभागिता रही है जो निरंतर जारी रहेगी। आगामी 7 दिसंबर के कैंडल मार्च में जनपद का प्रत्येक कर्मचारी प्रतिभाग करेगा। जिला महामंत्री पंकज कटारिया ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली की आवाज अटेवा ने बुलंद की। इस संघर्ष में हम पूरी तरह अटेवा के साथ हैं। पुरानी पेंशन बहाली तक संवाद एवं संघर्ष जारी रहेगा। जिला कोषाध्यक्ष नरेश कुमार, संदीप कुमार, राजवंश, नंदराम, अंशुल कुमार, मंजुल कुमार, सत्यपाल सिंह, चतर सिंह, उदयराज सिंह, मोहम्मद सलमान, संजय कुमार, शंभू नाथ आदि ने विचार व्यक्त किए।

राष्ट्रीय विकलांग एसोसिएशन ने काला दिवस के रूप में मनाया विश्व विकलांग दिवस

विश्व विकलांग दिवस को राष्ट्रीय विकलांग एसोसिएशन ने मनाया काला दिवस

दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 को सभी प्रावधानों में लागू करने की मांग

बिजनौर। राष्ट्रीय विकलांग एसोसिएशन की बैठक शनिवार को एजाज अली हॉल बिजनौर में आयोजित की गई। अध्यक्षता राष्ट्रीय अध्यक्ष एमआर पाशा तथा संचालन मंडल अध्यक्ष सजाकत हुसैन ने किया। एजाज अली हॉल से दिव्यांगजन जुलूस के रूप में प्रदर्शन करते हुए कलक्ट्रेट पहुंचे तथा डीएम कार्यालय का घेराव किया। राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन जिलाधिकारी बिजनौर को सौपा।

राष्ट्रीय विकलांग एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एमआर पाशा ने बताया कि दिव्यांगों की संख्या प्रदेश में दो करोड़ तथा पूरे भारतवर्ष में 11 करोड़ है। इसके बावजूद दिव्यांगों के लिए कोई भी सुविधा उपलब्ध नहीं है। इसलिए विश्व विकलांगता दिवस को काला दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया गया है। इस दौरान सरकार की नीतियों का विरोध करते हुए दिव्यांगों की समस्याओं की ओर ध्यान देने का अनुरोध किया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष एमआर पाशा ने मांग की कि दिव्यांग आयोग का गठन किया जाए, उसका अध्यक्ष दिव्यांग हो, देश व प्रदेश के मुख्यालयों के साथ प्रत्येक जनपद मुख्यालयों पर दिव्यांग भवन बनाए जाए एवं उनका संचालन दिव्यांगों द्वारा सुनिश्चित किया जाए, उत्तर प्रदेश के समस्त जिलों में तीसरी मंजिल पर स्थित डूडा विभाग के कार्यालयों को नीचे शिफ्ट किया जाए, जिसका लाभ दिव्यांग जनों को मिल सके। तीसरी मंजिल पर होने के कारण दिव्यांगजन डूडा विभाग नहीं जा पाते तथा विभाग में प्रचलित योजना का लाभ से वंचित रह जाते हैं, दिव्यांगों का आरक्षण 4% से 10% किया जाए, दिव्यांगों का यूडीआईडी कार्ड देश की समस्त परिवहन निगमों जैसे बस, ट्रेन, जलयान एवं वायुयान में छूट सहित समस्त भारत में मान्य कराने की अनिवार्य व्यवस्था करायी जाए, सभी सरकारी कार्यालयों में दिव्यांगों की सुविधा के लिए रैम्प बनाया जाए व दिव्यांगों का उत्पीड़न बन्द किया जाए, सभी नगर पालिका / नगर पंचायतों में दिव्यांगों की सुविधा के लिए रैम्प बनवाया जाए, रेलगाड़ी के 2 एसी 3 एसी में दिव्यांगों को 90 प्रतिशत छूट दी जाए। पीसीओ की तर्ज पर दिव्यांग जनों को साइबर कैफे दिए जाएं, दिव्यांगों की पेन्शन 1000 से 5000 की जाए, सभी दिव्यांगजनों के सरकारी आवास बनाये जाएं। दिव्यांग कन्याओं एवं युवाओं की शादी अनुदान राशि कम से कम 2 लाख की धनराशि लाभार्थी के खाते में डाली जाए, दिव्यांग अधिकार अधिनियम 2016 को सभी प्रावधानों को अति शीघ्र से लागू किया जाए।

इस मौके पर रियासत राजा, मोहम्मद साजिद, गुरु वचन, गुलजार, सत्य प्रकाश, सुखबीर सिंह, गजेंद्र सिंह, कानूनी सलाहकार वीरेंद्र चौहान एडवोकेट, फहीम अख्तर, शमशेर अली, वाइस प्रेसिडेंट मोहम्मद वसीम, लक्ष्मी देवी, मंजू देवी, आदि उपस्थित रहे।

15 सूत्रीय मांग को लेकर अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर धरने पर डटे रहे विद्युतकर्मी

15 सूत्रीय मांग को लेकर अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर धरने पर डटे रहे कर्मी

बिजनौर। बिजली कर्मचारी संघर्ष समिति की अगुवाई में जिले के सैकड़ों कर्मचारी, अधिकारी और संविदा कर्मी पांचवे दिन भी 15 सूत्रीय मांग को लेकर अधीक्षण अभियंता कार्यालय पर धरने पर डटे रहे।

बिजली कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति उत्तर प्रदेश की अगुवाई में पिछले 5 दिन से जिले के बिजली विभाग के कर्मचारी और अफसर अपनी 15 सूत्रीय मांगों को लेकर अधीक्षण अभियंता कार्यालय में धरना दे रहे हैं।

पुरानी पेंशन बहाली की मांग

बिजली विभाग के कर्मचारियों और अफसरों की मांग है कि पुरानी पेंशन बहाल की जाए, आउटसोर्सिंग के माध्यम से रखे गए कर्मचारियों को नियमित किया जाए, वेतन विसंगतियों को दूर किया जाए, आए दिन बिजली अफसरों व इंजीनियरों के साथ जो दुर्घटनाएं होती हैं उसके लिए इंजीनियर प्रोटेक्शन एक्ट लागू किया जाए।

कैशलेस चिकित्सा सुविधा की मांग

इसके साथ ही कोरेना काल में जो बिजली कर्मी की मौत हुई है इसके चलते बिजली कर्मियों को कैशलेस चिकित्सा की सुविधा भी दिए जाने संबंधी 15 सूत्रीय मांगों को लेकर चल रहा है। इस मौके पर शैलेंद्र दुबे, जितेंद्र सिंह गुर्जर, जयप्रकाश सिंह, गिरीश कुमार पांडे, महेंद्र राय, सोहेल आबिद, पीके दीक्षित, शशिकांत श्रीवास्तव, मोहम्मद वसीम, राम सहारे वर्मा, विशंभर सिंह, सुनील प्रकाश पाल, शंभू रतन दीक्षित, पीएस वाजपेई, जेपी सिंह सहित सैकड़ों बिजलीकर्मी और अफसर मौजूद रहे।

75 घंटे, 750 निकाय: स्वच्छता के अभियान को मिशन मोड पर लाने की शुरूआत

75 घंटे, 750 निकाय: स्वच्छता के अभियान को मिशन मोड पर लाने की शुरूआत

चांदपुर/बिजनौर। “75 घंटे, 750 निकाय ” नाम से स्वच्छता के अभियान को मिशन मोड पर लाने की शुरूआत हो गई है। इस मिशन में खासतौर पर शहर के मुख्य स्थानो पर पडे कचरे को साफ किया गया। कुछ स्थानों का सौंदर्यीकरण कर वहां सेल्फी पॉइंट्स भी बनाए गए। अधिशासी अधिकारी श्रीमती पूर्णिमा ने बताया कि स्मार्ट सिटी की दौड़ में शामिल उत्तर प्रदेश के शहरों में अब स्वच्छता के लिए एक नई पहल शुरू की गई है। “75 घंटे, 750 निकाय” नाम से स्वच्छता के अभियान को पूरे प्रदेश में मिशन मोड पर लाने की शुरूआत हुई है। इसमें जहां खासतौर पर कचरा डालने के स्थानों को साफ किया जाएगा, वहीं इन स्थानों का सौंदर्यीकरण कर वहां सेल्फी पॉइंट्स भी बनाए गए हैं। एक दिसंबर से इसकी शुरुआत हुई है।

उन्होंने बताया कि शहरों में कुछ ऐसी जगहें होती हैं, जहां जाने-अनजाने कूड़ा कचरा डंप होने लगता है, लेकिन यूपी में ऐसी जगहों पर अब आपको सेल्फी पॉइंट मिलेंगे।

साथ ही प्रयोग के तौर पर कई शहरों में कचरा फेंकने से रोकने के लिए नगर निगम, पालिका, पंचायत की चौकी भी होगी। ये चौकियां लोगों को स्वच्छता के लिए जागरूक तो करेंगी ही साथ ही इस बात को भी सुनिश्चित किया जाएगा कि लोग कहीं और कचरा न डालें। इस मौके पर चेयरपर्सन श्रीमती फहमीदा बेगम, ईओ उमेश बाबू समेत काफी संख्या में सफाई कर्मी मौजूद रहे।

ग्राम प्रधान संगठन के संस्थापक महावीर दत्त शर्मा की 14 वीं पुण्यतिथि पर 5 से 8 दिसंबर तक गोष्ठियों का आयोजन

ग्राम प्रधान संगठन के संस्थापक महावीर दत्त शर्मा की 14 वीं पुण्यतिथि पर 5 से 8 दिसंबर तक गोष्ठियों का आयोजन

बिजनौर। राष्ट्रीय पंचायती राज ग्राम प्रधान संगठन के संस्थापक पंडित महावीर दत्त शर्मा जी की 14 वीं पुण्यतिथि पर प्रदेश के सभी जनपदों में जिला इकाइयों द्वारा श्रद्धांजलि सभा एवं गोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में मुरादाबाद मंडल स्तर पर जनपद बिजनौर के अफजलगढ़ ब्लॉक में उक्त श्रद्धांजलि सभा एवं गोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन 7 दिसंबर 2022, दिन बुधवार को किया जा रहा है। मुख्य अतिथि सुरेश चंद शर्मा राष्ट्रीय महासचिव एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष, अति विशिष्ट अतिथि प्रदेश अध्यक्ष ललित शर्मा तथा विशिष्ट अतिथि प्रदेश उपाध्यक्ष गणेश ठाकुर एडवोकेट एवं मीडिया प्रभारी मुरादाबाद मंडल डॉ सत्येंद्र शर्मा अंगिरस रहेंगे।

बैठक में उपस्थित सभी पदाधिकारी ग्राम प्रधानों की समस्याओं को सुनकर उनके निराकरण हेतु संबंधित बीडीओ, डीपीआरओ एवं सीडीओ से मिलकर निराकरण कराने की कार्रवाई कराएंगे। जनपद बिजनौर इकाई द्वारा जिला मुख्यालय पर ब्लॉक मोहम्मदपुर देवमल के सभागार में 5 दिसंबर 2022, दिन सोमवार को श्रद्धांजलि सभा एवं गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा। जनपद के सभी ग्राम प्रधानों से उक्त कार्यक्रम में प्रातः 11बजे उपस्थित होने की अपील की गई है। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि जिला पंचायत राज अधिकारी सतीश कुमार एवं विशिष्ट अतिथि गणेश ठाकुर एडवोकेट प्रदेश उपाध्यक्ष तथा डॉ सत्येंद्र शर्मा अंगिरस मीडिया प्रभारी मुरादाबाद मंडल राष्ट्रीय पंचायती राज ग्राम प्रधान संगठन उपस्थित होंगे। जनपद के सभी ग्राम प्रधानों से कार्यक्रम में उपस्थित होकर गोष्ठी में प्रतिभाग कर अपने अपने विचारों का आदान प्रदान करने का अनुरोध किया गया है।

वार्ड आरक्षण: बहुतेरों के अरमान ध्वस्त, जबकि बहुतों की खिल उठीं बांछे

परिसीमन के बाद बिजनौर में वार्ड हुए 25 से 32


बिजनौर। निकाय चुनावों की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जाने लगा है। हालांकि अभी तारीख तो तय नहीं हुई है, लेकिन वार्ड आरक्षण की सूची शासन ने शुक्रवार को जारी कर दी।
प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात ने राजधानी लखनऊ में गुरुवार को 48 और शुक्रवार को 27 जिलों में स्थित वार्डों के आरक्षण की अनंतिम अधिसूचना जारी की। इसी क्रम में शुक्रवार को जिले की 12 नगर पालिका परिषद और छह नगर पंचायतों के वार्ड का आरक्षण जारी किया गया। इसी के साथ चुनाव लड़ने का सपना संजोए बैठे बहुतेरों के अरमान ध्वस्त हो गए हैं जबकि बहुतों की बांछे खिल गई हैं।

बिजनौर नगर पालिका में सीमा विस्तार के बाद पहला चुनाव हो रहा है। पिछले चुनाव तक बिजनौर नगर पालिका में 25 वार्ड हुआ करते थे, अब 32 वार्ड हो गए हैं। पालिका क्षेत्र में शामिल ग्रामीण आबादी को  भी शहर की सरकार चुनने का मौका मिलेगा। बिजनौर पालिका के वार्ड नंबर एक को अनुसूचित जाति महिला, वार्ड दो को पिछड़ा वर्ग महिला के आरक्षित किया गया है। वार्ड तीन और चार एससी वर्ग, पांच और छह महिलाओं के लिए आरक्षित हुए हैं। सात में पिछड़ा वर्ग जबकि आठ में पिछड़ा वर्ग महिला का आरक्षण है। नौ और दस महिलाओं के लिए, 11 में पिछड़ा वर्ग का आरक्षण है। वार्ड 12, 14, 15, 16, 18, 21, 22, 23, 24, 25, 26, 27, 29 और 31 को अनारक्षित रखा गया है। वार्ड 13 में ओबीसी महिला जबकि 19, 28 और 30 में पिछड़ा वर्ग का आरक्षण है। वार्ड नंबर 17, 20 और 32 भी महिलाओं के लिए आरक्षित हैं।

किरतपुर में महिलाओं के लिए नौ वार्ड आरक्षित
किरतपुर। किरतपुर नगरपालिका के वार्डों के आरक्षण की सूची जारी कर दी है है। किरतपुर नगरपालिका में कुल 25 वार्ड है। जिनमें वार्ड एक आंबेडकर नगर महिला वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। वार्ड दो छज्जुपुरा में अनारक्षित, वार्ड तीन भुड्डी में अनुसूचित जाति महिला, वार्ड चार वाल्मीकि बस्ती में अनसूचित जाति, वार्ड पांच हसनपुरा में महिला, वार्ड छह वलीपुरा में अनुसूचित जाति, वार्ड सात नवादा में अनारक्षित, वार्ड आठ लाड़पुरा में अनारक्षित, वार्ड नौ चमारान में महिला वर्ग, वार्ड दस मिर्जापुरा में पिछड़ा वर्ग, वार्ड 11 चौहनान में अनारक्षित, वार्ड 12 काजियान में पिछड़ा वर्ग महिला, वार्ड 13 बागवानान में महिला वर्ग, वार्ड 14 बुद्धूूपाडा अनारक्षित, वार्ड 15 किला महिला, वार्ड 16 शीशग्रान में अनारक्षित, वार्ड 17 चाहरौनक अनारक्षित, वार्ड 18 मिल्कियान पिछड़ा वर्ग, वार्ड 19 महाजनान अनारक्षित, वार्ड 20 झंडा अनारक्षित, वार्ड 21 अफगानान महिला, वार्ड 22 अंसारियान पिछड़ा वर्ग महिला, वार्ड 23 अहमदखेल में पिछड़ा वर्ग, वार्ड 24 लुकमानपुरा में अनारक्षित, वार्ड 25 मीठाशहीद पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित है।

नगीना पालिका में 11 वार्ड अनारक्षित
नगीना। नगीना नगरपालिका के वार्ड आरक्षण की सूची जारी किए जाने के बाद सभासद का चुनाव लड़ने का सपना संजोए बैठे तमाम नेताओं के अरमानों पर पानी फिर गया। आरक्षण सूची में अपनी मनमर्जी का आरक्षण देख कई नेता गदगद नजर आ रहे हैं। पालिका के 25 वार्ड की जारी आरक्षण सूची में 11 वार्ड अनारक्षित हैं। छह वार्ड महिला, एक अनुसूचित जाति, एक अनुसूचित जाति महिला, चार पिछड़ा वर्ग और एक वार्ड पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित किया गया है। वार्ड नंबर 1, 5, 13,15,16,18,20, 21, 22, 23 और 24 अनारक्षित हैं। वार्ड नंबर 2, 8,11,12,14,17 महिलाओं के लिए आरक्षित हैं। वार्ड नंबर तीन अनुसूचित जाति महिला, वार्ड नंबर चार अनुसूचित जाति, वार्ड नंबर 6,7,19,25 को पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किया गया है। वार्ड नंबर 9 और 10 पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित की गई है।

अफजलगढ़ में छह वार्ड महिलाओं के लिए
अफजलगढ़। अफजलगढ़ नगर पालिका के गौहरअली खां उत्तरी वार्ड नंबर एक, बेगमसराय पश्चिमी वार्ड छह, जैनुलाबेदीन पश्चिमी वार्ड संख्या 18, जैनुलाबेदीन उत्तरी वार्ड संख्या 19, नेजोसराय उत्तरी वार्ड संख्या 23 व नेजोसराय पश्चिमी वार्ड संख्या 24 को महिला के लिए आरक्षित किए गए हैं। किला पूर्वी वार्ड संख्या दो, अनुसूचित जाति महिला तथा मंझोली उत्तरी वार्ड संख्या 22, नेजोसराय दक्षिण वार्ड 25 पिछड़े वर्ग की महिला के लिए आरक्षित किया गया है। बेगमसराय पूर्वी वार्ड संख्या सात, नेजोसराय पूर्वी वार्ड संख्या आठ, नायकसराय उत्तरी वार्ड संख्या 10, मुमताज हुसैन पूर्वी वार्ड 12, पिछड़ा वर्ग के लिए तथा किला उत्तरी वार्ड संख्या तीन, गौहरअली खां पूर्वी वार्ड संख्या चार, चिरंजीलाल वार्ड संख्या पांच, नायकसराय दक्षिण वार्ड संख्या नौ, नायकसराय पश्चिम वार्ड 11, मियाजीमौखा पूर्वी वार्ड संख्या 13, मियाजीमौखा उत्तरी वार्ड संख्या 14, मुमताज हुसैन पश्चिमी वार्ड संख्या 15, किला दक्षिणी वार्ड संख्या 16, गौहरअली खां पश्चिमी वार्ड संख्या 17, जैनुलाबेदीन दक्षिणी वार्ड संख्या 20 तथा मंझोली दक्षिण वार्ड संख्या 21 को अनारक्षित घोषित किया गया है।

स्योहारा और सहसपुर के वार्ड आरक्षण
स्योहारा। नगर पालिका स्योहारा के वार्ड एक अनुसूचित जाति महिला, वार्ड दो, तीन और छह, आठ अनारक्षित है। वार्ड चार अनुसूचित जाति, वार्ड पांच और सात पिछड़ा वर्ग, वार्ड 9 व 11, 18 पिछड़ा वर्ग महिला, वार्ड 10,12, 13, 14,17,21 महिला के लिए आरक्षित हैं। वार्ड 15,16,19, 20, 22,23, 24 भी अनारक्षित हैं। वहीं वार्ड 25 पिछड़ा वर्ग घोषित किए गए है।

नगर पंचायत सहसपुर में वार्ड एक और 15 पिछड़ा वर्ग, वार्ड 2 अनुसूचित जाति महिला, वार्ड 3 महिला, वार्ड 4, 5, 6, 7, 8, 10, 13, 14 अनारक्षित हैं। वार्ड 9, 12 पिछड़ा वर्ग महिला, वार्ड 11 महिला के लिए आरक्षित है।

हल्दौर में पांच वार्ड सामान्य वर्ग महिला के लिए
हल्दौर। पांच वार्ड में सामान्य वर्ग की महिला, नौ वार्ड अनारक्षित, दो वार्ड में पिछड़ा वर्ग महिला, तीन वार्ड में अनुसूचित जाति और दो वार्ड में अनुसूचित जाति की महिला का आरक्षण जारी हुआ है।
मोहल्ला जमनावाला और आंबेडकर नगर में महिला, राजीवनगर और मोहल्ला भूड़ उत्तर में पिछड़ा वर्ग महिला, मालीवाला कुंआ, मोहल्ला राजीवनगर उत्तरी, महलवाला, रईसान, शहीद स्मारक, वैश्यान अनारक्षित हैं। जबकि खेड़ा दक्षिण और धूलिया वाला में अनुसूचित जाति महिला, तोल्लावाला, चौधरियान और चमनवाला में अनुसूचित जाति का आरक्षण है। हरवंश बाजार, खेड़ा उत्तर, सैमीवाला में पिछड़ा वर्ग का आरक्षण है।

बढ़ापुर के आठ वार्ड अनारक्षित
बढ़ापुर। बढ़ापुर नगर पंचायत में वार्ड संख्या एक, तीन, आठ, 11, 12, 13,14 और 15 अनारक्षित हैं। वार्ड संख्या छह, 10, चार और पांच पिछड़ा वर्ग महिला एवं वार्ड दो अनुसूचित जाति महिला के लिए आरक्षित हुआ है।

झालू के दो वार्ड पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित
झालू। झालू नगर पंचायत के वार्ड नंबर 02, 08, 09, 10, 11, 12 को अनारक्षित, वार्ड नंबर 06, 13 को पिछड़ा वर्ग, वार्ड नंबर एक, पांच, 14 को महिला, वार्ड तीन और चार को अनुसूचित जाति महिला, वार्ड सात को पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित किया गया है।

धामपुर नगरपालिका में अनारक्षित किए गए 12 वार्ड
धामपुर। वार्ड नंबर दो, तीन, चार, पांच, 16, 17, 19, 20, 21, 22, 24, 25 को अनारक्षित रखा गया है। वार्ड नंबर एक में अनुसूचित जाति महिला के लिए आरक्षण तय किया गया है। वार्ड नंबर छह, सात, 13 महिलाओं के लिए आरक्षित है। जबकि वार्ड नंबर आठ, 18 पिछड़ा वर्ग की महिलाओं के लिए आरिक्षत हैं। वार्ड नंबर 12, 14, 15, 23 पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित किए गए हैं।

चांदपुर में 12, नूरपुर में नौ वार्ड अनारक्षित घोषित
चांदपुर/नूरपुर। नगरपालिका परिषद चांदपुर के लिए जारी सूची के अनुसार वार्ड 3, 5, 6, 7, 8, 11, 16, 18, 20, 21, 22 और 25 अनारक्षित घोषित किए गए हैं। जबकि वार्ड नंबर एक और 17 पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित है। वार्ड दो अनुसूचित जाति महिला तथा 9, 10, 12, 13, 15 और 24 को महिलाओं के लिए आरक्षित किया गया। वार्ड चार, 14, 19 और 23 पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित हैं। नूरपुर में 25 वार्ड हैं, जिनमें से रविदासनगर अ, रविदासनगर ब, रामनगर ब, शहीदनगर, रामनगर ब, गोविंदनगर, इस्लामनगर प्रथम, कबीरनगर ब, गोविंदनगर अनारक्षित घोषित किए गए हैं। हजरतनगर ब व इस्लामनगर द्वितीय पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित हुए हैं। इसके अलावा गांधीनगर अ अनुसूचित महिला के लिए आरक्षित है।
बंजारन, इस्लामनगर द्वितीय स, इस्लामनगर ब, रविदासनगर अ पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित हैं। रामनगर द्वितीय, हजरतनगर अ पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित हुए हैं। शाहीदनगर ब प्रथम शहीदनगर ब द्वितीय, मोहम्मदनगर हजरतनगर द्वितीय अ पर महिला उम्मीदवार लड़ेंगी

27 जिलों के निगम, पालिका और पंचायत में वार्डवार आरक्षण सूची जारी

27 जिलों के निगम, पालिका और पंचायत में वार्डवार आरक्षण सूची जारी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में नगर निकाय चुनाव के आरक्षण के बाकी बचे 27 जिलों के नगर निगम, नगर पालिका और नगर पंचायत में वार्डवार आरक्षण की सूची जारी कर दी गई है। इससे पहले गुरुवार को 48 जिलों के आरक्षण की सूची जारी की गई थी।

75 जिलों में बढ़े 1985 वार्ड~

प्रमुख सचिव नगर विकास अमृत अभिजात ने गुरुवार को 48 और शुक्रवार को 27 जिलों में स्थित वार्डों के आरक्षण की अनंतिम अधिसूचना जारी की। वर्ष 2017 में 652 निकाय के 11995 वार्डों में चुनाव हुआ था। इस बार 762 निकाय के 13980 वार्डों में चुनाव होना है। पिछली बार की अपेक्षा इस बार 1985 अधिक वार्डों पर चुनाव होना है। नगर पालिका परिषद अधिनियम 1916 और नगर निगम अधिनियम 1959 में दी गई व्यवस्था के आधार पर वार्डों का आरक्षण किया है।

अध्यक्षों का आरक्षण~

नगर विकास मंत्री एके शर्मा शनिवार को पालिका परिषद और नगर पंचायत के अध्यक्षों के आरक्षण की अधिसूचना जारी करेंगे। नगर विकास विभाग ने इसके लिए तैयारियां पूरी कर ली हैं। पालिका परिषद में 200 और नगर पंचायत में 562 अध्यक्ष पद के लिए चुनाव होना है। सीटों का आरक्षण चक्रानुक्रम के आधार किया गया है। इससे साफ है कि अधिकतर सीटों पर बड़ा उलटफेर हुआ है।

इन जिलों में जारी हुई वार्ड आरक्षण की सूची
शुक्रवार को शामली, अम्बेडकरनगर, आगरा, आजमगढ़, इटावा, कन्नौज, कानपुर, गोरखपुर, झांसी, प्रयागराज, फतेहपुर, फर्रूखाबाद, बलिया, बिजनौर, बुलंदशहर, मऊ, मथुरा, मिर्जापुर, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, मेरठ, मैनपुरी, रामपुर, ललितपुर, सहारनपुर, सीतापुर तथा हरदोई शामिल हैं। आरक्षण को लेकर सात दिनों में आपत्तियां मांगी गई हैं, हालांकि इसमें ज्यादा बदलाव की संभावना कम ही है। इससे पहले गुरुवार को 48 जिलों के वार्ड वार आरक्षण की सूची जारी की गई थी।

वादे से क्यों पलट गए योगी आदित्यनाथ जैसे संत: कुलदीप कुमार मोर

वादे से क्यों पलट गए योगी आदित्यनाथ जैसे संत: कुलदीप कुमार मोर

बिजनौर। भारतीय किसान यूनियन भानू के जिला महासचिव भाकियू (भानु) कुलदीप कुमार “मोर” ने कहा है कि भाजपा सरकार चुनाव घोषणा पत्र में किए वायदों को पूरा क्यों नहीं करती। साथ ही सवाल भी है कि योगी आदित्यनाथ जैसे संत वादे से क्यों पलट गए?

भारतीय किसान यूनियन भानू के जिला महासचिव भाकियू (भानु) कुलदीप कुमार “मोर” ने एक बयान में कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष भानू प्रताप सिंह ने ऊर्जा मंत्री को नलकूपों की बिजली फ्री करने के लिए पत्र दिया था। भाजपा सरकार ने चुनावी घोषणा पत्र में किसान के नलकूप को फ्री बिजली देने की घोषणा की थी, लेकिन वादा पूरा करने की जगह किसानों पर अतिरिक्त बोझ डालने की पूरी तैयारी कर दी है। नलकूप पर बिना किसी पूर्व सूचना के घटिया किस्म के मीटर लगाए जा रहे हैं। भाकियु भानू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानू प्रताप सिंह को जवाब में भाजपा सरकार के पत्र मे बताया गया कि किसान के नलकूप को फ्री बिजली देने का कोई विधेयक नहीं है ।
अब सरकार से सवाल यह है कि जब भाजपा ने चुनाव में घोषणाएं की थीं, उस समय भी सत्ता में भाजपा थी। सारी जानकारी उत्तरप्रदेश सरकार के नुमाइंदों के पास थी। वहीं आम जनता की नौकरी करने वाले अधिकारियों ने भी इस घोषणा पत्र को पढ़ा होगा, लेकिन किसी भी अधिकारी द्वारा जनता को क्यों नहीं बताया गया कि उत्तरप्रदेश में फ्री बिजली देने का कोई विधेयक नहीं है।
अब जब उत्तरप्रदेश में योगी जी जैसे संत मुख्यमंत्री हैं और पूरी दुनिया जानती है कि भारतीय संत कभी झूठे वादे नहीं करते हैं और योगी आदित्यनाथ जी नाथ समुदाय से आते हैं, जो अपने कहे वादे से कभी नहीं मुकरते। इतना समय दोबारा सत्ता में बैठते हुए हो गया है, फिर योगी सरकार अपना वादा पूरा क्यूँ नहीं करती? मुफ्त की रेवडी बांटने वालों पर राष्ट्रपति या सुप्रीम कोर्ट को संज्ञान लेना चाहिए। आखिर सत्ता में बैठी सरकारों से देश के यह प्रमुख अंग क्यों नहीं पूछते कि जो वादे घोषणा पत्र में लिखते हो उनको पूरा क्यों नहीं करते!

एमडीएस नजीबाबाद में 17‌ दिसंबर से आयोजित होगी स्काउट जिला रैली

17‌ दिसंबर से एमडीएस नजीबाबाद में आयोजित होगी स्काउट जिला रैली: रामाज्ञा कुमार

बिजनौर। जनपदीय स्काउट गाइड रैली का आयोजन 17, 18 दिसम्बर को एमडीएस इण्टर कालेज नजीबाबाद में किया जाएगा। यह जानकारी जिला विद्यालय निरीक्षक ने दी।

उत्तर प्रदेश भारत स्काउट गाइड जनपद संस्था बिजनौर की बैठक सीनियर लीडर ट्रेनर सत्यपाल सिंह की अध्यक्षता एवं जिला सचिव कैलाश चंद के संचालन में राजा ज्वाला प्रसाद आर्य इंटर कॉलेज बिजनौर में आयोजित की गई। बैठक को संबोधित करते हुए जिला विद्यालय निरीक्षक एवं जिला मुख्यायुक्त रामाज्ञा कुमार ने कहा कि प्रत्येक यूनिट में स्काउट एवं गाइड की गतिविधियों में सुचारू रूप से जारी रखना है। जनपद की प्रत्येक यूनिट का रजिस्ट्रेशन एवं पंजिकरण का कार्य समय से पूरा किया जाना है। स्काउट एवं गाइड हमेशा कर्म वचन से शुद्ध एवं निष्ठा ईमानदारी व सेवा भाव से कार्य करता है। 17, 18 दिसम्बर को एमडीएस इण्टर कालेज नजीबाबाद में जनपदीय स्काउट गाइड रैली का आयोजन किया जाएगा। इसके लिए 15 जनवरी से बेसिक स्काउट मास्टर की ट्रेनिंग कराई जाएगी। आरजेपी प्रधानाचार्य कैप्टन बिशन लाल ने सभी का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि स्काउट गाइड प्रत्येक परिस्थिति में सेवा भाव से कार्य करने के लिए अपने को तैयार रखता है। बैठक में जिला गाइड आयुक्त डॉ निर्मल शर्मा, जिला कोषाध्यक्ष राकेश कुमार शर्मा, डीओसी स्काउट चंद्रहास सिंह, डीओसी गाइड ऋतु रानी, एमडीएस प्रधानाचार्य अनुपम महेश्वरी, आरएचएस प्रधानाचार्य मेघराज सिंह, केपीएस प्रधानाचार्या संगीता गुप्ता, किसान इंटर कॉलेज प्रधानाचार्या सुनीति त्यागी, महेंद्र कुमार, शिव कुमार, टीकम सिंह, सुनील कुमार, पुष्पा चौहान आदि ने विचार व्यक्त किए।

परिवार परामर्श केन्द्र के सदस्यों की सूझबूझ से फिर एक साथ रहेंगे दो परिवार

परिवार परामर्श केन्द्र के सदस्यों की सूझबूझ से फिर एक साथ रहेंगे दो परिवार

बिजनौर। पुलिस परिवार केन्द्र की ओर से परिवारों को टूटने से बचाया जा रहा है। परिवार परामर्श केन्द्र के सदस्यों की सूझ-बूझ से दो परिवारों को एक साथ रहने के लिए राजी किया गया।

पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह के निर्देशन में पुलिस लाइन प्रांगण में पुलिस परिवार परामर्श केन्द्र की बैठक का आयोजन किया गया। इस दौरान परिवार परामर्श केन्द्र में 05 मामलों को सुना गया, इसमें आपसी वैचारिक मतभेद की वजह से परिवार टूटने के कगार पर था। परिवार परामर्श केन्द्र के अधिकारी/कर्मचारी व विभिन्न क्षेत्रों से नामित सदस्यों की ओर से दोनों पक्षों की बातों को विधिवत सुना गया, जिसमें परिवार परामर्श केन्द्र के सदस्यों की सूझ-बूझ से पति-पत्नि के मध्य आपसी मनमुटाव व कलह को दूर करते हुए 02 परिवारों का आपसी समझौता कराया गया।

उक्त जोड़ों ने फिर से एक साथ जीवन व्यतीत करने हेतु अपनी सहमति जताई। परिवार परामर्श के सदस्यों द्वारा दम्पत्ति जोड़े को हंसी खुशी एक साथ विदा किया गया एवं अन्य मामलों में अगली तारीख दी गई है। परिवार परामर्श के दौरान समिति सदस्य आनन्द स्वरूप शर्मा, श्रीमति सुमन चौधरी, उ0नि0 सविता तोमर, म0का0 शिवाली, म0का0 रीना उपस्थित रहे।

इंसान की जिन्दगी अनमोल, यह नहीं मिलती बार बार: माया दक्ष

इंसान की जिन्दगी अनमोल, यह बार बार नहीं मिलती: माया दक्ष

नहटौर। एएनएम माया दक्ष ने आमजन, खासकर छात्र व छात्राओं से छात्राओं से आह्वान किया है कि वह अपनी सुरक्षा के लिए हैल्मेट का प्रयोग जरूर करें क्योंकि इंसान की जिन्दगी अनमोल है और यह बार बार नहीं मिलती।

हैल्मेट पहनकर स्कूटी चलाती माया दक्ष

प्रेस को जारी बयान में उन्होंने कहा कि प्रशासन महिलाओं को सशक्त आत्मनिर्भर तथा उनकी सुरक्षा के लिए जागरूकता रैली व गोष्ठियां आयोजित कर रहा है। उनका मकसद सुरक्षित यातायात, अपनी सुरक्षा के लिए आत्मनिर्भर बनना आदि के सम्बन्ध में जानकारी देकर उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है। माया दक्ष ने छात्र छात्राओं व महिलाओं से नियमों का पालन करते हुए हैल्मेट का इस्तेमाल हर हाल में करने पर जोर दिया। हर हाल में हैल्मेट का इस्तेमाल करने के सम्बन्ध में जब दक्ष हाॅस्पिटल की एमडी व स्वास्थ्य विभाग की एएनएम माया दक्ष से इस सम्बन्ध में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि जब हम हैल्मेट खुद लगाकर चलेंगे तो उससे सरकार या प्रशासन की सुरक्षा नहीं बल्कि अपनी खुद की सुरक्षा होगी। हैल्मेट लगाकर यात्रा करने से अपना और अपने परिवार का भविष्य सुरक्षित रहता है।

गन्ने के खेत में आग से किसान को हुआ हजारों का नुकसान

गन्ने के खेत में लगी आग से किसान का हजारों रुपए का नुकसान

नहटौर। गन्ने के खेत में लगी आग से किसान का हजारों रुपए का नुकसान हो गया। पीड़ित किसान ने तहसील धामपुर और पुलिस को तहरीर देकर कार्यवाही की मांग की है। जानकारी के अनुसार क्षेत्र के ग्राम बिलासपुर निवासी योगेश कुमार पुत्र महेंद्र सिंह का खेत रास्ते के किनारे पर है। बताया जाता है कि तीन बीघा खेत में गन्ना खड़ा है। अचानक किन्हीं कारणों से उसमें आग लग गई। ग्रामीणों ने आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन विफल रहे। आग से किसान का हजारों रुपए कीमत का गन्ना जल गया। पीड़ित ने तहसील धामपुर और पुलिस को तहरीर दी है।

312 किलो भार उठाकर सिद्धांत ने प्राप्त किया सिल्वर मेडल

312 किलो भार उठाकर सिद्धांत ने प्राप्त किया सिल्वर

मेडल आगरा में आयोजित हुई सीनियर स्टेट वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता

नहटौर। आगरा में आयोजित सीनियर स्टेट वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता में नहटौर के सिद्धांत ने 312 किलो भार उठाकर सिल्वर मेडल प्राप्त किया। सिद्धांत की इस उपलब्धि से परिजनों व क्षेत्र में हर्ष व्याप्त है।

सिल्वर मेडल के साथ सिद्दांत चौधरी

जानकारी के अनुसार नहटौर क्षेत्र के ग्राम मुस्सेपुर निवासी संजीव चौधरी के पुत्र सिद्धांत चौधरी ने आगरा में आयोजित तीन दिवसीय सीनियर स्टेट वेटलिफ्टिंग प्रतियोगिता में प्रतिभाग किया। सहारनपुर निवासी कोच सोहन सिंह ने बताया कि सिद्धांत ने 102 किलो वर्ग भार में स्नैच 135 किलो, क्लीन एंड जर्क 177 किलो सहित 312 किलो भार उठाकर सिल्वर मेडल प्राप्त किया। सिद्धांत चौधरी द्वारा प्राप्त की गई उपलब्धि पर परिजनों द्वारा हर्ष व्यक्त किया गया। सहारनपुर वेटलिफ्टिंग अध्यक्ष परमजीत सिंह, सुखचैन सिंह, अशोक सक्सेना, टीम मैनेजर विवेक चौधरी ने सिद्धांत चौधरी का फूल मालाओं से माल्यार्पण कर स्वागत किया। कोच सोहन सिंह ने अन्य प्रतिभागियों से भी प्रेरणा लेने का आह्वान किया।

गोशाला के औचक निरीक्षण को पहुंचे एसडीएम धामपुर

गोशाला के औचक निरीक्षण को पहुंचे एसडीएम धामपुर अभिलेखों की जांच करते एसडीएम धामपुर मनोज कुमार

नहटौर। उपजिलाधिकारी धामपुर मनोज कुमार ने नगर स्थित गोशाला का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने पशुओं के रखरखाव के साथ अभिलेखों की जांच की और सबकुछ ओके पाया। एसडीएम ने गोशाला के सामने लटक रहे विद्युत लाइन के तारों को ऊपर कराने के निर्देश दिए।

जानकारी के अनुसार शाम करीब 5 बजे एसडीएम धामपुर मनोज कुमार अचानक नगर के मोहल्ला नोधा स्थित पशुशाला पहुंचे। उन्होंने वहां मौजूद 47 पशुओं के रख रखाव, चारा आदि का जायजा लिया और अभिलेखों की जांच की। एसडीएम मनोज कुमार ने पशुशाला के सामने से जा रही 440 वोल्ट की विद्युत लाइन के काफी नीचे लटक रहे तारों को ऊपर कराने के निर्देश दिए। एसडीएम ने बताया की गोशाला की व्यवस्था ओके हे। इस दौरान ईओ ओम गिरी, वरिष्ठ लिपिक विशेष उपाध्याय, लेखपाल ब्रहम सिंह रवि आदि मौजूद थे।

वाहन से बचाने को लेकर ई रिक्शा पलटी, महिला घायल

वाहन से बचाने को लेकर ई रिक्शा पलटी, महिला घायल नहटौर। सामने से तेज गति के साथ आ रहे वाहन से बचाने को लेकर ई रिक्शा अनियंत्रित होकर पलट गई। घटना में सवार एक महिला घायल हो गई। उसे उपचार के लिए सीएचसी भर्ती कराया गया है। प्राप्त समाचार के अनुसार क्षेत्र के ग्राम तालमपुर निवासी महिला सुधा पत्नी मुकेश किसी कार्य से नहटौर आई थी। बताया जाता है कि वह दोपहर ई रिक्शा द्वारा घर लौट रही थी। पैजनिया मार्ग पर पुरानी पिलखन के पास सामने से आ रहे एक तेज गति वाहन से बचाने को लेकर ई रिक्शा अनियंत्रित होकर पलट गई। घटना में सवार महिला सुधा घायल हो गई, जिसे उपचार के लिए सीएचसी में भर्ती कराया गया।

ई रिक्शा से बाहर निकलती महिला

अपने हौसले से दिव्यांग जनों के लिए मिसाल बने एमआर पाशा

अपने हौसले से दिव्यांग जनों के लिए मिसाल बने एम आर पाशा

दिव्यांगों की मदद करना बनाया जीवन का मकसद

बिजनौर। किसी शारीरिक कमी को अपनी कमजोरी न मानकर हौसला बुलंद कर दूसरों के लिए उदाहरण बनने वाले बहुत कम लोग होते हैं। क्षेत्र के गांव बुढ़नपुर निवासी दिव्यांग एमआर पाशा इसी का उदाहरण हैं, जो ना केवल दिव्यांगता को हराकर स्वयं आगे बढ़े, बल्कि हजारों दिव्यांगों के जीवन में आशा की किरण पैदा कर रहे हैं।

अपने इसी हौसले के दम पर वह दिव्यांगजनों का सहारा बन रहे हैं। उन्हें कृत्रिम अंग, व्हील चेयर, कैलिपर्स, ट्राई साईकिल, बैसाखी, सिलाई मशीन, कंबल, लिहाफ, गरम जैकेट आदि उपकरण वितरित कर मदद करने में जुटे हैं। बुढ़नपुर में 1984 में जन्मे एमआर पाशा जन्म से ही दिव्यांग हैं। स्योहारा के एमक्यू इंटर कालेज से 12वीं और धामपुर के आरएसएम डिग्री कालेज से बीएससी की शिक्षा प्राप्त की। एमआर पाशा बताते हैं कि बचपन से उन्होंने दिव्यांग होने के कारण बहुत सी चुनौतियों का सामना किया था, लेकिन इसे कभी अपनी कमजोरी नहीं बनने दिया। पढ़ाई के समय से ही उनके मन में अपने जैसों की मदद करने का विचार आया।

वर्ष 2000 में बनाया संगठन :

उन्होंने दिव्यांगजनों की समस्याएं हल कराने के लिए वर्ष 2000 में राष्ट्रीय विकलांग एसोसिएशन का गठन किया, जिसके वे राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। पाशा बताते हैं कि इससे गरीबों, दिव्यांगों, वृद्ध व असहाय लोगों की सेवा कर रहे हैं। कई शिविर लगाकर दिव्यांगजनों के लिए कृत्रिम अंग वितरित करवाते हैं। अब तक हजारों लोगों की पेंशन बनवा चुके हैं। कैलीपर्स, ट्राई साईकिल, व्हीलचेयर सहित लिहाफ-कंबल भी वितरित करते हैं। धीरे-धीरे बड़ी संख्या में लोग उनसे जुड़ते चले गए। दिव्यांगजनों की मांगों के लिए धरना प्रदर्शन भी करते हैं। वह गांव में जूनियर हाई स्कूल चलाते है, जिससे अपना जीवन-यापन करते हैं। एमआर पाशा का सपना है कि वे वृद्धाश्रम खोलें और कैलिपर्स बनाने की फैक्ट्री भी लगाना चाहते हैं।

ढाई वर्षीय बच्ची को उठाकर ले गया गुलदार, गंभीर

ढाई वर्षीय बच्ची को उठाकर ले गया गुलदार, गंभीर हालत में भर्ती

ग्रामीणों द्वारा गुलदार का पीछा करने पर मासूम बालिका को छोड़कर भागा

पिंजरा लगाने के बाद भी आज तक पकड़ा नहीं जा सका गुलदार

बिजनौर। ग्राम मौसमपुर में खेत पर काम करने गई एक महिला की ढाई वर्षीय पुत्री को गुलदार उठाकर ले गया। ग्रामीणों के शोर मचाने पर गुलदार बच्ची को छोड़कर भाग गया। बच्ची को गंभीर घायल अवस्था में अस्पताल ले जाया गया। बच्ची को काफी चोटें आई हैं। उसे बिजनौर अस्पताल रेफर किया गया है।

देहात क्षेत्रों में गुलदार का आतंक कम होने का नाम नहीं ले रहा है। मासूम बालिका की मां गीता ने बताया कि उसके पति होशियार सिंह मजदूरी का कार्य करते हैं। गुरुवार को दोपहर के समय वह खुद खेत पर काम करने गई थी। इसी दौरान गुलदार उसकी मासूम पुत्री पर हमला कर उसे उठाकर ले गया। वह पीछे काफी दूर तक दौड़ी लेकिन गुलदार ने बच्ची को नहीं छोड़ा। महिला के शोर मचाने पर मौके पर इकट्ठे हुए ग्रामीणों द्वारा गुलदार का पीछा करने पर वह मासूम बालिका को छोड़कर भाग गया। तब तक उसने काफी हद तक अपने पंजों से मासूम बालिका की गर्दन को जख्मी कर दिया। ग्रामीण बालिका को नगीना के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद उसे बिजनौर रेफर कर दिया गया।
ग्राम प्रधान मोहम्मद असलम ने बताया कि गांव में गुलदार का आतंक बना हुआ है। पिंजरा लगाने के बाद भी गुलदार आज तक पकड़ा नहीं जा सका है।

वर्चस्व की जंग में फिर एक और हाथी की मौत

वर्चस्व की जंग में फिर एक और हाथी की मौत
बढ़ापुर रेंज मे फिर एक और हाथी ने गंवाई जान

बढ़ापुर/बिजनौर। वन प्रभाग नजीबाबाद की बढ़ापुर रेंज मे एक हाथी की मौत से वन विभाग में हड़कंप मच गया। मृत नर हाथी के शरीर पर चोट के गहरे निशान है, जिससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि हाथियों में वर्चस्व को लेकर हुए खूनी संघर्ष में उसकी मौत हुई है। हाथी के शव का पोस्टमार्टम करने के लिए इंडियन वेटनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट बरेली से डॉक्टरों की टीम मौके पर पहुंच गई है। बता दें कि इससे पहले हाल ही में साहुवाला वन रेंज में भी एक नर हाथी की करंट की चपेट में आने से मौत हो गई थी। एक के बाद एक नर हाथी की मौत वन विभाग पर सवालिया निशान लगा रही है।
बताया जाता है कि वन क्षेत्राधिकारी बढ़ापुर कपिल कुमार को बुधवार को बढ़ापुर रेंज के कक्ष संख्या एक मे एक नर हाथी का शव पड़ा होने की सूचना मिली थी। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे रेंजर द्वारा घटना की सूचना उच्चाधिकारियों को दी गई थी। जिसके बाद डीएफओ नजीबाबाद डॉक्टर मनोज शुक्ला ने मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया था।रेंजर कपिल कुमार के अनुसार आरक्षित वन क्षेत्र के कक्ष संख्या एक में जिस स्थान पर हाथी का शव पड़ा है उसके आसपास अन्य हाथियों के पद-चिन्हों के अलावा भारी मात्रा मे खून बिखरा पड़ा हुआ है। घटनास्थल का नजारा देखने से प्रतीत होता है कि हाथी की मौत से पहले हाथियों के बीच जमकर खूनी संघर्ष हुआ है। हाथी के शव और घटनास्थल का निरीक्षण करने के बाद वन अधिकारी प्रथम दृष्टया हाथी की मौत को हाथियों के बीच वर्चस्व के लिए हुए आपसी संघर्ष ही मान रहे है।मृत हाथी के पेट पर दाई और आघा दर्जन के करीब बड़े और गहरे घाव नजर आ रहे हैं। पेट पर दिखाई दे रहे गहरे घाव अन्य हाथी के दांतों द्वारा किये गए प्रहार से होने का अंदाजा लगाया जा रहा है। वन अधिकारियो द्वारा आंशका व्यक्त की जा रही है कि किसी बडे ताकतवर हाथी ने अपने दांतो से प्रहार कर युवा नर हाथी को मौत के घाट उतारा है। मृत हाथी की आयु 15 वर्ष के करीब होना बताई जा रही है।
घटनास्थल के समीप बगनला गांव के ग्रामीणों का कहना है कि मंगलवार/ बुधवार की रात्रि जंगल से हाथियों के चिंघाड़ की आवाज़ सुनाई पड़ रही थी। हाथियों के बीच हुए खूनी संघर्ष में किसी अन्य हाथी के घायल होने का पता लगाने के लिए वन कर्मचारी जंगल में कांबिंग भी कर रहे हैं। बहरहाल हाथी की मौत क्यों ? और कैसे हुई ? इसका पता लगाने के लिए इंडियन वेटरनरी रिसर्च इंस्टिट्यूट (आईवीआरआई ) बरेली से डॉक्टरों की टीम हाथी के शव का पोस्टमार्टम करने के लिए गुरुवार को बढ़ापुर रेंज पहुंच गई है। इस घटना से 20 दिन पूर्व नजीबाबाद वन प्रभाग की साहूवाला रेंज के कक्ष संख्या पांच राजगढ़ में जंगल के बीच से गुजर रही विद्युत हाईटेंशन लाइन की चपेट मे आने से एक युवा नर हाथी की मौत हो गई थी।

भारती रस्तौगी को मिली अफजलगढ़ नगर अध्यक्ष की जिम्मेदारी

भारती रस्तौगी को मिली अफजलगढ़ नगर अध्यक्ष की जिम्मेदारी

धामपुर/बिजनौर। युवा समाजसेविका भारती रस्तौगी को अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन महिला प्रकोष्ठ का अफजलगढ़ नगर अध्यक्ष मनोनीत किया गया है। मनोनयन पर श्रीमती रस्तौगी के परिचितों और समर्थकों में हर्ष व्याप्त है।
दमयंती देवी नर्सिंग होम धामपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में श्रीमती भारती रस्तौगी को अफजलगढ़ का नगर अध्यक्ष मनोनीत कर मनोनयन पत्र सौंपा गया। इस अवसर पर अखिल भारतीय वैश्य महासम्मेलन की जिलाध्यक्ष डॉ मोनिका अग्रवाल ने भारती रस्तौगी की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि भारती रस्तौगी ने बहुत कम समय मे रिकॉर्ड सदस्यों को संगठन से जोड़कर एक कीर्तिमान स्थापित किया है जो अन्य पदाधिकारियों के लिए उदाहरण प्रस्तुत करता है।
नगर अध्यक्ष के रूप में मनोनीत होने के बाद भारती रस्तौगी ने कहा कि वह सौभाग्यशाली हैं कि उन्हें वैश्य समाज के लिए कुछ करने का, समाज को एकजुट करने का और समाज का विस्तार व विकास करने का अवसर मिला।
श्रीमती रस्तौगी ने वैश्य समाज के हित के लिए हरसंभव प्रयास करने का वादा करते हुए कहा कि समाज की प्रत्येक महिला को संगठन से जोड़कर मुख्य धारा में लाने का हरसंभव प्रयास किया जाएगा। संगठन के लिए अभी तक किये गए कार्यों का श्रेय उन्होंने अपनी टीम को देते हुए कहा कि अफजलगढ़ नगर की टीम के साथ मिलकर वैश्य समाज की गरिमा को नई ऊंचाइयों पर ले जाना उनकी पहली प्राथमिकता है।
इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के तौर पर संगठन की प्रदेश वरिष्ठ उपाध्यक्ष डॉ लता चंद्रा व संगीता अग्रवाल, दमयंती देवी नर्सिंग होम की संचालिका व संगठन की जिलाध्यक्ष डॉ मोनिका अग्रवाल, अफजलगढ़ से नगर महामंत्री रश्मि माहेश्वरी, उपाध्यक्ष मोनिका गुप्ता, कोषाध्यक्ष रजनी गुप्ता व कार्यकारिणी सदस्य मंजू रस्तौगी, रेणु अग्रवाल, रुचि गुप्ता, शिवानी अग्रवाल सहित बड़ी संख्या में समाज की महिलाएं उपस्थित रहीं।

नगर निकाय चुनाव को लेकर कोतवाल ने लिया मतदान केन्द्रों का जायजा

नगर निकाय चुनाव को लेकर कोतवाल ने लिया मतदान केन्द्रों का जायजा

चांदपुर। नगर निकाय चुनाव को लेकर चल रही तैयारियों को देखते हुए कोतवाल ने मतदान केंद्रों का जायजा लिया।
निकाय चुनाव के मद्देनजर पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह के निर्देश पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सतीश कुमार राय ने नगर के 25 मतदान केंद्र 77 बूथ मतदान स्थलों का निरीक्षण किया। इस दौरान मतदान केंद्र में चार दिवारी, शौचालय, हैंडपंप, लाइट आदि व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया गया। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सतीश कुमार ने निकाय चुनाव की तैयारियों के संबंध में नगर पालिका में बने 25 मतदान केंद्र 77 बूथ मतदान केंद्रों स्थलों का निरीक्षण किया। इसमें प्राथमिक विद्यालय पतियापाड़ा, मुफ्ती सराय, वैदिक कन्या इंटर

कॉलेज, रहमानिया इंटर कॉलेज, एमएम इण्टर कॉलेज, सरस्वती विद्या मंदिर, गुलाब सिंह हिंदू स्नातकोत्तर, पूर्व माध्यमिक विद्यालय संतनगर ढमलपुरी, हिंदू इंटर कॉलेज आदि शामिल रहे। सभी स्थानों पर व्यवस्थाएं ठीक पाई गई। कुछ में सुधार के लिए दिशा निर्देश दिए गए। निकाय चुनाव को लेकर पूरी तरह शांति व्यवस्था बनाए रखने को लेकर थाना प्रभारी निरीक्षक सतीश कुमार अलर्ट हैं। उन्होंने बताया कि शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव कराया जाएगा। पुलिस क्षेत्राधिकारी सुनीता दहिया, सुपर क्राइम निरीक्षक राजेश चौहान मौजूद रहे।

लोगों को सुरक्षा का एहसास कराने जिले की पुलिस सड़कों पर

सीओ नजीबाबाद ने की साहनपुर की सड़कों पर पैदल गश्तबिजनौर शहर की सड़कों पर गूंजी पुलिस के बूटों की आवाज। संदिग्ध व्यक्ति दिखे तो तुरंत पुलिस को करें सूचित: सीओ नगीना।

बिजनौर। क्षेत्राधिकारी नजीबाबाद गजेन्द्र पाल सिंह द्वारा आमजन को सुरक्षा का एहसास दिलाने के लिए कस्बा साहनपुर में पैदल गश्त की गई। उन्होंने लोगों को यातायात के नियमों का कड़ाई से पालन करने और सड़क किनारे अतिक्रमण न करने की भी हिदायत दी।

बिजनौर। पुलिस अधिकारियों द्वारा सड़कों पर पैदल गश्त कर आमजन को सुरक्षा का एहसास दिलाने का कार्य बदस्तूर जारी है। इसी क्रम में क्षेत्राधिकारी नगर अनिल कुमार सिंह द्वारा कोतवाली शहर क्षेत्रान्तर्गत पैदल गश्त की गई। इस दौरान पुलिस ऑफिस से जेल चौराहा, राम का चौराहा, सराफा मार्केट, डाकखाना चौराहा, शक्ति चौक, जजी चौक व सिविल लाइन स्थानों पर पुलिस की टीम ने भ्रमण किया।

बिजनौर। क्षेत्राधिकारी नगीना शुभ सुचित द्वारा थाना नगीना क्षेत्रान्तर्गत पैदल गश्त कर आमजन को सुरक्षा का एहसास दिलाया गया। इस दौरान उन्होंने किसी भी संदिग्ध व्यक्ति को देखे जाने पर तुरंत पुलिस को सूचना देने, सड़क किनारे अतिक्रमण न करने, यातायात के नियमों का पालन करने को कहा।

महिला मिशन शक्ति के तहत दी जानकारी

महिला मिशन शक्ति के तहत दी जानकारी

बिजनौर। क्षेत्राधिकारी नजीबाबाद द्वारा मय एंटी रोमियो टीम के साथ रमा जैन इंटर कॉलेज में महिला मिशन शक्ति के तहत सभी प्रकार के जारी हेल्पलाइन नंबर, साइबर क्राइम, यातायात सुरक्षा, नशा मुक्ति अभियान के बारे में जानकारी देकर जागरूक किया गया।

मृतकों के परिजनों को नहीं मिला मुआवजा, डीएम से गुहार

मृतकों के परिजनों को नहीं मिला मुआवजा, डीएम से लगाई गुहार

बिजनौर। सड़क हादसे में जान गंवाने वाले दो युवकों के परिजनों को अभी तक मुआवजा नहीं मिला। इसे लेकर पीड़ित परिजनों ने जिलाधिकारी से गुहार लगाई है। मामला 21 नवंबर को ट्रक की टक्कर से मौत के मुंह में समाने वाले बाइक सवार दो युवकों का है।

जिलाधिकारी उमेश मिश्रा से मिलकर मुफीज आलम पूर्व प्रधान, आसिफ अली, अलाउद्दीन ने रिहान व अनस के परिजनों को उचित मुआवजा दिलाने की मांग की।
रिहान पुत्र मोहम्मद मंसूर व अनस पुत्र फुरकान अहमद दिनांक 21 नवंबर 2022 की सुबह 10:45 बजे विशाल बैंकट हॉल जा रहे थे। इसी दौरान सामने से ट्रक संख्या पीबी05एबी9873 ने जोरदार टक्कर मार दी थी। हादसे में रिहान की मृत्यु मौके पर ही हो गई थी और अनस गंभीर रूप से घायल हो गया था, जिसकी मृत्यु अगले दिन हॉस्पिटल में इलाज के दौरान हो गई थी। ट्रक को पुलिस ने पकड़ कर थाने पर खड़ा कर दिया था। पुलिस क्षेत्राधिकारी बिजनौर ने मौके पर पहुंच कर दोनों पीड़ित परिवारों को उचित मुआवजा दिलाने का आश्वासन दिया था किंतु अभी तक दोनों पीड़ित परिवारों की कोई आर्थिक सहायता नहीं की गई। उन्होंने जिलाधिकारी से दोनों पीड़ित परिवारों को जल्द उचित मुआवजा दिलाने की मांग की।

यातायात माह में पुलिस ने जुर्माने में वसूले ₹ढ़ाई करोड़

यातायात माह में पुलिस ने जुर्माने में वसूले ₹ढ़ाई करोड़

~सचिन वर्मा

बिजनौर। यातायात माह नवम्बर 2022 का बुधवार को समापन हो गया। इस दौरान पुलिस ने करीब ढ़ाई करोड़ रुपए के चालान काटे। पुलिस द्वारा जिन लोगों के चालान किए गए उनमें से अधिकांश दोपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग नहीं करने वाले लोग शामिल हैं। इस माह में पूर्व की अपेक्षा अधिक चेकिंग की गई। लोगों को यातायात के नियमों का पालन करना सिखाने के लिए कई अभियान भी चलाए गए, लेकिन लोग जागरूक होने के बाद भी नियमों का पालन करने को तैयार नहीं हुए।

हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी नवम्बर को यातायात माह के रूप में मनाया गया। लोगों में जागरूकता पैदा करने के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम आयोजित भी किए गए। यातायात पुलिस ने स्कूली बच्चों के साथ मिलकर स्कलों, कॉलेजों व भीड़भाड़ वाले स्थानों पर कार्यक्रम आयोजित किए। स्वयं पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने भी स्कूल व कॉलेजों में जाकर बच्चों को अपने शपथ दिलाई कि वह अपने परिजनों के साथ साथ आसपास के लोगों को भी यातायात के नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित करेंगे। जागरूक अभियानों के साथ साथ पुलिस ने सघन चेकिंग अभियान भी चलाया। इस अभियान के दौरान पुलिस ने करीब ढाई करोड़ के चालान किए। पुलिस द्वारा जिन लोगों के खिलाफ ये कार्यवाही की गई उनमे से अधिकांश लोग हेलमेट के बिना दोपहिया वाहन चलाने वाले शामिल हैं। पुलिस द्वारा की गई इस कार्यवाही से वाहन चालकों में हड़कम्प तो मचा, लेकिन अभी भी अधिकांश चालक सीख लेने को तैयार नहीं।

यातायात माह भले ही समाप्त हो गया हो, लेकिन पुलिस का चेकिंग अभियान अब भी जारी रहेगा। यातायात नियमों का पालन न करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाती रहेगी। जिले में आगामी 15 दिनों तक सघन चेकिंग अभियान चलवाया जाएगा, जो भी वाहन चालक यातायात के नियमों का उल्लंघन करेगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

-दिनेश सिंह, एसपी बिजनौर

कर्ज से छुटकारा और अवैध संबंध बरकरार रखने के लिए बेकसूर को जलाया था जिंदा

कर्ज से छुटकारा और अवैध संबंध बरकरार रखने के लिए बेकसूर मदन को कार में जलाया था जिंदा

करोड़ों के कर्ज की अदायगी से बचने और तलाकशुदा प्रेमिका संग नया जीवन बिताने को क्रेशर मालिक सुशील गुप्ता ने रची साजिश। बेकसूर मर जाता तो सुशील के परिजनों को मिल जाती ढाई करोड़ रुपए बीमे की रकम।

साथी और महिला समेत पुलिस ने किया गिरफ्तार

बिजनौर। कर्ज से छुटकारा और अवैध संबंध बरकरार रखने की चाहत में गन्ना क्रेशर मालिक ने खुद को मरा हुआ दिखाने के लिए शराबी को जलाकर मारने का प्रयास किया। गाड़ी के अंदर झुलसी हुई हालत में मिला व्यक्ति सफदरगंज अस्पताल दिल्ली में भर्ती है। पुलिस ने साजिश रचने वाले व्यापारी को उसके दोस्त और महिला समेत गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने गुरुवार को पुलिस लाइंस में खुलासा किया कि दिनांक 30 नवंबर 2022 को थाना कोतवाली शहर पर सूचना प्राप्त हुई कि सिरधनी रोड पर एक सैन्ट्रो कार नं0 DL3CAP8988 में एक जिंदा व्यक्ति जल रहा है। सूचना पर उ0नि0 राजेन्द्र सिंह मय टीम मौके पर पहुंचे तथा झुलसे हुए व्यक्ति को कार से बाहर निकालकर जिला चिकित्सालय, बिजनौर में भर्ती कराया गया। जांच में उसकी शिनाख्त मदन सिंह पुत्र सरदार सिंह निवासी ग्राम मिर्जापुर बेकन थाना चांदपुर जिला बिजनौर के रूप में हुई तथा परिजनों को उसकी सूचना दी गयी। घायल अभी उपचाराधीन है। तहरीर के आधार पर थाना कोतवाली शहर पर मु0अ0सं0 884/22 धारा 364/326-A भादवि पंजीकृत किया गया।

इस बीच जांच में पता चला कि उक्त गाड़ी गन्ना क्रेशर के स्वामी सुशील गुप्ता पुत्र उमेश चंद्र गुप्ता निवासी गांव मुस्तफाबाद की है।। गाड़ी में सुशील गुप्ता के दो फोन भी पड़े हुए मिले। पुलिस ने पड़ताल की तो मामला गहरी साजिश का निकला। एसपी ने बताया कि सुशील गुप्ता ने खुद को मरा हुआ दिखाने के लिए मदन सिंह को जलाकर मारने का प्रयास किया। सुशील गुप्ता ने करीब ढाई करोड रुपए के कर्ज और अवैध संबंधों के चलते यह साजिश रची।
सुशील गुप्ता ने ढाई करोड़ रुपए का बीमा भी कराया था जिससे उसकी मौत की खबर के बाद बीमा की राशि उसके परिवार वालों को मिल जाए। साथ ही नई पहचान के साथ जीने की चाह में सुशील गुप्ता ने पप्पू खान के नाम से अपना नया आधार कार्ड भी बनवा लिया और तलाकशुदा रानी पत्नी राशिद निवासी ज्वालापुर हरिद्वार के साथ निकाह भी कर लिया।

उक्त संदिग्ध घटना के अनावरण/संलिप्त अभियुक्तगण की शीघ्र गिरफ्तारी हेतु स्वाट/सर्विलांस टीम व थाना कोतवाली नगर पुलिस को निर्देशित किया गया। इसी क्रम में अपर पुलिस अधीक्षक, (नगर) व क्षेत्राधिकारी, (नगर) के निकट पर्यवेक्षण में दिनांक 30.11.2022/01.12.2022 की अर्द्धरात्रि में मुखबिर की सूचना पर बेगावाला रोड पर सेंट जोसफ स्कूल के पास पुलिया के पास घेराबन्दी कर घटना में प्रकाश में आये तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

अभियुक्त सुशील गुप्ता ने पूछताछ में बताया कि रानी पिछले काफी समय से उसके गन्ना क्रेशर पर काम करती थी, इसी दौरान उसका रानी के साथ प्रेम-प्रसंग हो गया और वह उसके साथ रहने लगी थी। रानी का अपने पति राशिद से तलाक हो चुका था। करीब दो साल से उसका काम ठीक-ठाक नहीं चल रहा था इसी कारण उसे कारोबार में घाटा होने लगा तथा उसने करीब पौने दो करोड़ रुपए का कर्ज बैंकों से ले लिया। उसने व उसके साथी लाल बहादुर सैनी उर्फ पिन्टू व रानी ने आपस में सलाह मशवरा किया कि बैकों का कर्जा कैसे उतारा जाये और उसका व रानी का प्रेम प्रसंग भी बना रहे। कर्ज से छुटकारा पाने के लिये तीनों ने बैंक को धोखा देने की योजना बनाई। सुशील ने अपना व रानी का फर्जी आधार कार्ड बनवा लिया। इन्ही फर्जी आधार कार्डों का असल के रूप में प्रयोग करते हुए तीनों ने योजना बनाई कि अगर किसी व्यक्ति को अपनी जगह रखकर मार दें तो सुशील गुप्ता मरा हुआ घोषित हो जायेगा तथा उसके बीमे का सारा पैसा उसके परिवार को मिल जायेगा।

योजनाबद्ध तरीके से दिनांक 29 नवंबर 2022 को सुशील अपनी सेन्ट्रो कार नं0 DL3CAP8988 व उसका साथी पिन्टू अपनी स्कूटी नं0 UKO7DL0683 से रोडवेज बस स्टेड चाँदपुर पर आये। वहां पुराना/परिचित मदन सिंह निवासी मिर्जापुर बकैना नशे की हालत में मिला। उन्होंने मदन को और शराब पिलाई तथा नशे की हालत में उसे अपनी गाड़ी में डाल लिया। वह अपनी सैन्ट्रो गाड़ी से मदन सिंह को लेकर तथा पिंटू अपनी स्कूटी से पीछे-पीछे चाँदपुर चुंगी से सिरधनी रोड पर आ गए। गाड़ी को सड़क के किनारे खड़ी करके मदन को ड्राईवर सीट पर बैठाकर अपने मोबाइल फोन कार में ही छोड़ दिये और सीट बैल्ट लगा दी जिससे कि वो गाड़ी से निकल न सके। इसके बाद मदन सिंह पर तेल छिड़ककर आग लगा दी व खिड़की बन्द करके गाड़ी स्टार्ट छोड़कर दोनों स्कूटी से फरार हो गए।

गिरफ्तार अभिoगण का नाम व पता:-

1. सुशील गुप्ता पुत्र उमेशचन्द्र गुप्ता निवासी ग्राम मुस्तफाबाद थाना शिवालाकलां जनपद बिजनौर

2. लाल बहादुर सैनी पुत्र तेजपाल सैनी निवासी ग्राम मलैशिया थाना शिवालाकलां जनपद बिजनौर

3. रानी पत्नी राशिद निवासी पावदोई बाबर कालोनी, ज्वालापुर हरिद्वार (उत्तराखण्ड)

बरामदगी का विवरण:-

01 सैन्ट्रो कार, 01 स्कूटी, 35 चैक, 13 लाख 50 हजार रुपए, 01 पिस्टल 32 बोर व 05 जिन्दा कारतूस, तीन जोड़ी पीली धातु के कानों के बुन्दे, एक पीली धातु का मंगलसूत्र, 07 आधार कार्ड, 03 एटीएम कार्ड, 02 पैन कार्ड, 02 निकाहनामा, वोटर आई०डी० कार्ड, रजिस्टर आदि

बैंक लॉकर से गायब हो गए ₹15 के जेवरात!

बैंक लॉकर से गायब हो गए ₹15 के जेवरात!

नजीबाबाद के बैंक ऑफ बड़ौदा का मामला। बैंक अधिकारियों और पुलिस के गले नहीं उतर रही बंद लॉकर से लाखों रुपए के आभूषण गायब होने की बात।

बिजनौर। नजीबाबाद में एक कारोबारी के बैंक लॉकर से लाखों रुपए के आभूषण गायब हो गए। मामले की सूचना बैंक प्रबंधक को दी गई। सूचना पर पहुंची पुलिस ने भी मौके पर पहुंचकर जानकारी हासिल की।

नजीबाबाद के मोहल्ला सेवाराम निवासी कारोबारी पवन अग्रवाल का बैंक ऑफ बड़ौदा में लॉकर है। बुधवार को पवन अग्रवाल अपनी पत्नी नम्रता के साथ अपना लॉकर खोलने पहुंचे। शाखा प्रबंधक सतीश कुमार के निर्देश पर बैंक अधिकारी दुर्गा शंकर शर्मा ने कारोबारी दंपती का लॉकर ऑपरेट करने के लिए कारोबारी की चाबी के साथ बैंक की लॉकर चाबी लॉकर खोलने के लिए लगाई। पवन अग्रवाल ने कुछ ही देर बाद बैंक प्रबंधक सतीश कुमार को बताया कि लॉकर में रखे लाखों रुपए के आभूषण गायब हैं। पवन अग्रवाल ने बताया कि इससे पूर्व उन्होंने एक अक्तूबर 2022 को बैंक लॉकर खोला था। उस समय उसमें लगभग 10 से 15 लाख रुपए के आभूषण रखे थे।

सूचना पर सराय चौकी प्रभारी पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। कारोबारी पवन अग्रवाल ने स्वीकार किया कि उसका ताला लगा था और बैंक अधिकारी ने बैंक की एक चाबी के साथ उसका लॉकर भी खुलवाया। वहीं बंद लॉकर से लाखों रुपए के आभूषण गायब होने की बात बैंक अधिकारियों और पुलिस के गले नहीं उतर रही। इस मामले में पुलिस को तहरीर सौंपी गई है। जांच शुरू कर दी गई है।

बैंक में 400 से अधिक लॉकर हैं। खाता धारक स्वयं लॉकर ऑपरेट  करता है। बैंक अधिकारी सिर्फ बैंक की चाबी लगाकर अलग हो जाते हैं। कारोबारी पवन ने स्वयं अपना ताला खोला। कारोबारी दंपती ने ही लॉकर ऑपरेट किया। बंद लॉकर से आभूषण गायब होना संभव नहीं है। 
- सतीश कुमार, प्रबंधक, बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा, नजीबाबाद

निजीकरण मध्यम वर्ग के साथ पूंजीपतियों का है षड्यंत्र: विजय कुमार बंधु

निजीकरण मध्यम वर्ग के साथ पूंजीपतियों का है षड्यंत्र: विजय कुमार बंधु

वर्चुअल बैठक में बागपत, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, हापुड़ एवं मेरठ से शामिल हुए कार्यकर्ता               

मेरठ। मंडल के बागपत, गाजियाबाद, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, हापुड़ एवं मेरठ जनपद की सदस्यता एवं जागरूकता के कार्यक्रम एवं आंदोलन की मजबूती के अंतर्गत मंडलीय पर्यवेक्षक रजत कुमार प्रहरी की अध्यक्षता एवं प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रहास सिंह के संचालन में वर्चुअल बैठक आयोजित की गई। बैठक को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय कुमार बंधु ने कहा कि पुरानी पेंशन बहाली के संघर्ष में एकजुटता के साथ आगे आना है ये संघर्ष किसी विभाग या किसी शिक्षक एवं कर्मचारी संवर्ग का नहीं है। यह संघर्ष देश के शिक्षकों एवं कर्मचारियों के भविष्य की सुरक्षा का है। निजीकरण; मध्यम वर्ग के साथ पूंजीपतियों का षड्यंत्र है। वर्ष 2023 आंदोलन का है। संगठन बड़े आंदोलन के लिए तैयार है जिसमें पश्चिमी उत्तर प्रदेश की अहम भूमिका होगी। प्रदेश उपाध्यक्ष चंद्रहास सिंह ने कहा कि निजीकरण एवं नई पेंशन व्यवस्था से देश की अर्थव्यवस्था को कमजोर करने का कार्य किया जा रहा है। पुरानी पेंशन व्यवस्था से देश की अर्थव्यवस्था मजबूत होगी। संघर्ष की बदौलत चार राज्यों में पुरानी पेंशन बहाली हुई है। मंडलीय पर्यवेक्षक रजत कुमार प्रहरी ने कहा कि संगठन ने हमेशा निजी करण एवं नई पेंशन व्यवस्था का विरोध किया है। पुरानी पेंशन बहाली तक संघर्ष जारी रहेगा। बैठक में हापुड़ जिलाध्यक्ष मोहित राघव, महिला विंग जिला अध्यक्ष मोनिका शर्मा, मेरठ जिला महामंत्री रविंद्र कुमार, बुलंदशहर जिला महामंत्री राजन खान, महिला विंग जिला अध्यक्ष प्रतिभा वर्मा, बागपत जिला अध्यक्ष सुभाष कुमार शर्मा, गौतम बुद्ध नगर जिला अध्यक्ष रविंद्र कुमार, जिला महामंत्री रामप्रवेश पाल, गाजियाबाद जिला अध्यक्ष मनीष कुमार शर्मा, प्रदीप चौहान, राजपाल यादव, राजीव भारद्वाज, रमेश वीर, रेखा वर्मा, रिंकी गुप्ता, संतोष पाल, सुधीर त्यागी, अजय कुमार, अमित कुमार, अनुज कुमार, अरविंद कुमार, डॉ संजीव कुमार, जगपाल सिंह, कृष्णपाल, महेंद्र कुमार, मीनू गोस्वामी, नरेंद्र कुमार, नवीन कुमार, नीरज वाल, सुरेंद्र कुमार, विपिन यादव, ज्ञान गंगा उषा चौधरी, प्रवीण कुमार, जय पाल त्यागी, पुनीत ढाका, योगेंद्र शर्मा, सतीश कुमार, भारती वर्मा आदि मौजूद रहे।

मिसबाहुद्दीन जिया बने विस उपाध्यक्ष

मिसबाहुद्दीन जिया बने विस उपाध्यक्ष

किरतपुर (बिजनौर)। नगीना विस युवजन सभा के अध्यक्ष मौहम्मद कैफ ने मोहल्ला अहमदखेल निवासी मिसबाहुद्दीन जिया विस उपाध्यक्ष मनोनीत किया है। विस अध्यक्ष मौहम्मद कैफ ने वरिष्ठ सपा नेता साइम राजा, पूर्व प्रदेश सचिव नौशाद मंसूरी की मौजूदगी में मनोनयन पत्र मिसबाहुद्दीन जिया को सौंपा। इस मौके पर अंजार राइन आदि मौजूद रहे।

डॉ आसिफ अख्तर का निधन, स्योहारा में सर्वत्र शोक

डॉ आसिफ अख्तर का निधन, स्योहारा में सर्वत्र शोक

स्योहारा। नगर के वरिष्ठ चिकित्सक आसिफ अख़्तर (67) का आज सुबह लम्बी बीमारी के चलते निधन हो गया। उनके निधन की खबर से नगर भर में शोक की लहर दौड़ गई और उनके घर पर लोगो का ताँता लगना शुरू हो गया। उनके निधन पर चेयरमैन हाजी अख़्तर जलील, समाजसेवी डॉ मजोज वर्मा, भाजपा व व्यापारी नेता अरुण वर्मा, पूर्व विधायक नईम उल हसन, शुएब अंसारी, भाजपा नेता राजूअरोड़ा, पूर्व मंत्री मूलचंद चौहान, असजद चौधरी, इमरान अख़्तर, सहित सैकड़ों गणमान्य लोगों ने उनके आवास पर पहुंचकर उनके पुत्र डा۔ दानिश कमाल व ताबिश कमाल को शोक संवेदना व्यक्त की।
डा۔ आसिफ अख्तर पिछले 40 वर्षों से अपने पेशे से मरीज़ों की किफायती रूप से खिदमत करते चले आ रहे थे और अपने मिलनसार स्वभाव से नगर भर की आवाम के दिलो पर राज भी करते थे लेकिन पिछले कुछ सालों से वो कुछ गम्भीर बीमारियों से वो जूझ रहे थे जिसके चलते उनकी आज मौत हो |

46 बीज विक्रेताओं के प्रतिष्ठानों एवं गोदामों पर आकस्मिक छापे मारकर लिए 64 नमूने

46 बीज विक्रेताओं के प्रतिष्ठानों एवं गोदामों पर आकस्मिक छापे मारकर लिए 64 नमूने

प्रतिष्ठान बंद कर चले जाने के कारण मै. हरियाली बीज भंडार कोटद्वार रोड नजीबाबाद का बीज लाइसेंस निलंबित

मै. हिंदुस्तान बीज भंडार एवं भारत बीज भंडार कोटद्वार रोड नजीबाबाद के अभिलेख अपूर्ण पाए जाने पर कारण बताओ नोटिस

बिजनौर। उत्तर प्रदेश शासन के निर्देश एवं जिलाधिकारी के आदेश के क्रम में उप कृषि निदेशक गिरीश चंद्र एवं जिला गन्ना अधिकारी पीएन सिंह की संयुक्त टीम द्वारा तहसील बिजनौर तथा जिला कृषि अधिकारी डॉ अवधेश मिश्र एवं सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक सहकारिता, प्रदीप सिंह की संयुक्त टीम द्वारा तहसील नजीबाबाद व नगीना तथा उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी मनोज रावत एवं जिला उद्यान अधिकारी जीतेंद्र कुमार की संयुक्त टीम द्वारा तहसील धामपुर एवं चांदपुर मे बीज विक्रेताओं के प्रतिष्ठानों एवं गोदामों पर आकस्मिक छापामार कार्रवाई की गई.

छापामार कार्रवाई के दौरान कुल 46 प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया तथा कुल 64 बीज के नमूने लिए गए. निरीक्षण के दौरान प्रतिष्ठान/गोदाम में उपलब्ध बीज स्टॉक का मिलान अभिलेखों से किया गया. प्रतिष्ठान बंद कर चले जाने के कारण मै. हरियाली बीज भंडार कोटद्वार रोड नजीबाबाद का बीज लाइसेंस निलंबित किया गया तथा मै. हिंदुस्तान बीज भंडार एवं भारत बीज भंडार कोटद्वार रोड नजीबाबाद के अभिलेख अपूर्ण पाए जाने पर कारण बताओ नोटिस जारी की गई. निरीक्षण के दौरान उर्वरकों की उपलब्धता एवं वितरण का भी निरीक्षण किया गया, ततसंबंध में कहीं कोई शिकायत नहीं पाई गई.

छापामार कार्रवाई के दौरान सभी उर्वरक विक्रेताओं को कृषकों की तत्कालीन आवश्यकता के अनुसार ही उर्वरकों का वितरण निर्धारित दर पर किए जाने के निर्देश दिए गए तथा किसी भी दशा में उर्वरकों की बिक्री बल्क में न किये जाने के सख्त निर्देश दिए गए. साथ ही उर्वरकों का वितरण पीओएस मशीन से किए जाने तथा निर्देशानुसार समस्त अभिलेख अद्यतन रखने के निर्देश दिए गए.

हेलमेट वितरण करने के साथ यातायात माह का समापन

यातायात माह के समापन पर डीएम एसपी ने किया हेलमेट वितरण

बिजनौर। विगत वर्षो की भाँति इस वर्ष भी माह नवम्बर-2022 यातायात माह के रूप में मनाया गया। इसका समापन आज 30 नवंबर 2022 को विकास भवन के सामने पुलिस लाईन तिराहे पर जिलाधिकारी उमेश मिश्रा, पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह द्वारा बिना हेलमेट पहने दो पहिया चला रहे चालकों को हेलमेट वितरण करने के साथ किया गया।

इस अवसर पर जिलाधिकारी उमेश मिश्रा ने कहा कि सड़क दुर्घटना एक बहुत बड़ी समस्या का रूप धारण करता जा रहा है तथा यह समस्या बीमारियों से अधिक लोगों की मृत्यु का कारण बन रही है। हजारों लोग अपंगता का दंश झेलने के लिए मजबूर होते हैं। उन्होंने कहा कि इस समस्या से निपटने का सबसे कुशल और बेहतरीन उपाय यातायात के नियमों का पूर्ण गंभीरता के साथ पालन करना है। उन्होंने कहा कि यातायात के नियमों का गंभीरता पूर्वक पालन करके इस समस्या का निदान किया जाना संभव है, जिसके लिए हर व्यक्ति को जागरूक होना होगा और यातायात नियमों के पालन के प्रति पूरी तरह गंभीर होना अनिवार्य होगा। उन्होंने यातायात माह नवंबर, 2022 के समापन के अवसर पर जनसामान्य का आह्वान किया कि अपनी एवं दूसरों के जीवन की सुरक्षा के लिए दो पहिया वाहन चालक हेलमेट तथा कार चालक सीट बेल्ट का निश्चित रूप से प्रयोग करें। उन्होंने कहा कि इस प्रकार न केवल वे स्वयं सुरक्षित रहेंगे बल्कि अन्य लोगों को भी यातायात नियमों का पालन करके बचाया जाना भी संभव हो सकेगा।

उन्होंने कहा कि सड़क दुर्घटना में मृत्यु के आंकड़ों को सुरक्षा यातायात नियमों का पालन करके रोका जाना संभव है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग तथा राष्ट्रीय राजमार्ग निर्माण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि दुर्घटना संभावित क्षेत्रों का चिन्हीकरण कर वहां पर विशेष सुरक्षा की व्यवस्था करें तथा राजमार्गों पर किसी भी अवस्था में अतिक्रमण न होने दें। उन्होंने बताया कि पुलिस एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों द्वारा सड़क सुरक्षा माह के अंतर्गत लोगों को यातायात नियमों का पालन करने जैसे दुपहिया वाहनों पर हेलमेट, कार ड्राइव करते समय सीट बेल्ट का प्रयोग, ड्राइव करते समय शराब न पीने तथा मोबाइल का प्रयोग न करने आदि के प्रति जागरूक करने के लिए प्रेरित किया गया तथा यातायात के नियमों के पालन करने वाले दो पहिया एवं चार पहिया वाहन चालकों को फूल भेंट कर उन्हें सम्मानित एवं प्रोत्साहित भी किया गया। उन्होंने आशा व्यक्त करते हुए कहा माह नवम्बर, 22 में संचालित सड़क सुरक्षा यातायात अभियान लोगों की जान माल बचाने में अहम रोल अदा करेगा और सड़क दुर्घटनाओं में होने वाली जान माल के नुकसान को रोकने और उन्हें नियंत्रित करने में सहायक सिद्ध होगा।

पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह ने कहा कि दोपहिया वाहन चलाते समय निश्चित रूप से हेलमेट पहने तथा चार पहिया वाहन चालक ड्राइव करते समय सीट बेल्ट का निश्चित रूप से प्रयोग करें तथा किसी भी अवस्था में नशे की हालत में ड्राइविंग न करें। उन्होंने दो पहिया वाहन चालकों का आह्वान करते हुए कहा कि दो से अधिक सवारी न बिठाए और वाहन चलाते समय किसी भी अवस्था में मोबाइल का प्रयोग न करें तथा यातायात के नियमों का दृढ़ता के साथ पालन सुनिश्चित करें ताकि किसी भी दुर्घटना से बचा जा सके।


इस अवसर पर डॉ० प्रवीन रंजन सिंह अपर पुलिस अधीक्षक नगर / यातायात, अनिल कुमार सिंह क्षेत्राधिकारी नगर / यातायात, शिव बालक वर्मा प्रतिसार निरीक्षक पुलिस लाईन बिजनौर, बलराम सिंह प्रभारी यातायात मय अपनी टीम के उपस्थित रहे।

सेवानिवृत्त अधिकारी कर्मचारी का पुलिस लाइंस में सम्मान

सेवानिवृत्त अधिकारी कर्मचारी का पुलिस लाइंस में सम्मान

बिजनौर। पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह द्वारा रिजर्व पुलिस लाइन्स के सभागार कक्ष में सेवानिवृत्त अधिकारी कर्मचारी को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर पुलिस विभाग से सेवानिवृत्त होने वालों को फूल मालाएं पहनाकर व प्रशस्ति पत्र/पुरस्कार भेंट कर बधाई दी गई। इसी के साथ पुलिस विभाग में उनके द्वारा दिये गये महत्वपूर्ण योगदान व उत्कृष्ट कार्य हेतु सम्मानित किया गया। एसपी और अन्य अधिकारियों ने सेवानिवृत्ति के पश्चात उनके जीवन के सुखमय, मंगलमय एवं दीर्घायु होने की शुभकामनाएं दीं।

डीएम एसपी ने किया बिजनौर जेल का निरीक्षण

डीएम एसपी ने किया बिजनौर जेल का निरीक्षण

बिजनौर। जिलाधिकारी उमेश मिश्रा व पुलिस अधीक्षक दिनेश सिंह द्वारा जिला कारागार का निरीक्षण किया गया। इस दौरान उन्होंने संबंधित को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। इस दौरान अधिकारियों ने सीसीटीवी कैमरा, बैरक, भोजनालय, हॉस्पिटल आदि का निरीक्षण किया। उन्होने कारागार में निरुद्ध बंदियों की मूलभूत सुविधाओं की जानकारी ली। जेल अधीक्षक अदिति श्रीवास्तव, सीओ सिटी कुलदीप सिंह आदि अधिकारी भी मौजूद रहे।

गौवंश की रक्षा के लिए राष्ट्रीय गौरक्षक दल ने भेजा सीएम को ज्ञापन

गौवंश की रक्षा के लिए राष्ट्रीय गौरक्षक दल ने भेजा सीएम को ज्ञापन

धामपुर/ बिजनौर। राष्ट्रीय गौरक्षक दल ने गौवंशों की सुरक्षा के लिए सीएम योगी को संबोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह को सौंपा।

राष्ट्रीय गौरक्षक दल के प्रदेश उपाध्यक्ष आलोक गर्ग एवं प्रदेश कोषाध्यक्ष क्षितिज रस्तौगी के संयुक्त नेतृत्व में दर्जनों कार्यकर्ताओं ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सम्बोधित ज्ञापन उपजिलाधिकारी मनोज कुमार सिंह को सौंपकर अवगत कराया कि आपके द्वारा पूरे प्रदेश में गौवंश की सुरक्षा एवं देखभाल हेतु स्थाई / अस्थाई गौशाला का निर्माण कराया गया है। इसके बावजूद भी गौवंश राष्ट्रीय राज्यमार्ग नगर क्षेत्रों, गलियों एवं ग्रामीण क्षेत्रों में हजारों की संख्या में विचरण करता दिखाई दे रहा है। आएदिन रोड पर वाहन की टक्कर लगने से या तो मनुष्य चोटिल होकर अपने प्राण त्याग देता है या फिर गौवंश प्राण त्याग देता है। यह बहुत दु:खद है। ग्रामीण क्षेत्रों में तो स्थिति बहुत और भी दयनीय है। गौवंश ब्लेड बाड़ से घायल होकर अपने प्राण त्याग देते हैं। हाईकोर्ट के आदेशानुसार इस ब्लेड वाले तार का पूर्ण रूप से प्रतिबंध लगाया गया है, परन्तु सभी तहसीलों में इसका इस्तेमाल पूर्व की तरह ही बहुत ही ज्यादा आबादी के द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने मांग की कि गौमाता के अंतिम संस्कार की जिम्मेदारी ग्राम प्रधान को दी जाये। अगर कोई गौमाता के प्रति अत्याचार करता है, तो उस पर पशु क्रूरता के तहत तुरन्त कारवाई हो। ज्ञापन सौंपने वालों में रघुवीर सिंह, मनोज चौहान, पारस अग्रवाल, शीशपाल सिंह, विनय भार्गव, प्रमुख शर्मा, राजीव, अर्जुन चौहान आदि प्रमुख रूप से शामिल रहे।

रामपुर उपचुनाव में फोर्स लेकर जाएंगी बिजनौर डिपो की नौ बसें

~सचिन वर्मा

बिजनौर। पांच दिसम्बर को रामपुर में होने वाले उपचुनाव में बिजनौर डिपो की नौ बसें फोर्स को लेकर वहां जाएंगी। बिजनौर से एक साथ नौ बसों के रामपुर जाने से यात्रियों को आवागमन में कोई परेशानी न हो इसके लिए परिवहन निगम के अधिकारियों द्वारा बसों के चक्कर बढ़ाए जाने की योजना बनाई गई है। बसों के चक्कर बढ़ाए जाने से उपचुनाव में गईं बसों की पूर्ति की जाएगी।

रामपुर में पांच दिसम्बर को होने वाले उपचुनाव को शांति पूर्ण ढंग से कराए जाने के लिए बिजनौर से भी पुलिस फोर्स की ड्यूटी लगाई गई है। बताया जाता है कि बिजनौर से उप चुनाव में जिन पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई हैं, उन्हें रामपुर ले जाने के लिए बिजनौर डिपो की नौ बसों को लगाया गया है। बिजनौर डिपो में निगम की 84 तथा 28 अनुबंधित बसे हैं। इनमें से नौ बसों के एक साथ उप चुनाव में रामपुर जाने की वजह से बसों की संख्या में कमी आएगी और यात्रियों को भी आवागमन में काफी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। आने वाली इस समस्या को देखते हुए निगम के अधिकारियों ने बची हुई 103 बसों के चक्करों में बढ़ोत्तरी करने की योजना बनाई है। इस योजना के चलते यात्रियों को आवागमन में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

धीरेन्द्र सिंह पंवार – एआरएम बिजनौर

‘रामपुर में होने वाले उपचुनाव में बिजनौर डिपो की नौ बसों को लगाया गया है। ये बसें फोर्स को लेकर बिजनौर से रामपुर जाएंगी। नौ बसों के एक साथ बाहर जाने से यात्रियों को कोई परेशानी न हो इसका भी पूरा ख्याल रखा गया है। इसके लिए हमारी ओर से योजना बनाई गई है, जिसके तहत बिजनौर डिपो की बची हुई 103 बसों के चक्कर बढ़ाए जाएंगे। बसों के चक्करों में बढ़ोत्तरी करने से यात्रियों को आवागमन में कोई परेशानी नहीं होगी। हमारा और उच्चाधिकारियों का हमेशा प्रयास रहता है कि यात्रियों को कोई परेशानी न हो।’

-धीरेन्द्र सिंह पंवार – एआरएम बिजनौर