बिजनौर के पूर्व सीजीएसटी कमिश्नर ढ़ाई करोड़ के गबन में गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा (EOW) ने सीजीएसटी के उपायुक्त मुन्नीलाल को गबन के आरोप में गिरफ्तार किया है। मुन्नीलाल पर बिजनौर में तैनाती के दौरान 2.44 करोड़ रुपए के गबन का आरोप है।

ईओडब्लयू के मुताबिक, मुन्नीलाल बिजनौर जिले के भागुवाला चेक पोस्ट पर सीजीएसटी के उपायुक्त के पद पर तैनात थे। उन पर आरोप था कि वह पश्चिम बंगाल, उड़ीसा व झारखंड से आने वाला लौह अयस्क नौबतपुर चेक पोस्ट से गलत तरीके से बहती (सीमा से गुजरने का पास) तैयार करते थे। आरोप है कि मुन्नीलाल ने भागूवाला चेकपोस्ट के रास्ते से उत्तराखंड के लिए जाने वाले माल को नौबतपुर चेकपोस्ट द्वारा बहती जारी कर दिया, जिसमें दिखाया गया कि समस्त लौह धातु का उपयोग उत्तर प्रदेश सीमा में किया गया। इसके एवज में मुन्नीलाल ने करीब ढाई करोड़ रुपये को आपस में बांटा था। मुन्नीलाल सुल्तानपुर जिले के कोतवाली देहात थाने भर्तीपुर गांव के निवासी हैं। मामला तूल पकड़ने पर आर्थिक अपराध अनुसंधान शाखा (ईओडब्ल्यू) डीजीपी डॉ. आरके विश्वकर्मा द्वारा एसपी हबीबुलहसन के नेतृत्व में गठित टीम ने मुन्नीलाल को गिरफ्तार किया। टीम में इंस्पेक्टर अफसाना खान व अशोक सिंह, सब इंस्पेक्टर सुखदेव सिंह व कांस्टेबल आशीष मिश्रा शामिल रहे।

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s